Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

--Advertisement--

समय बदलने के साथ-साथ बढ़ चुका है मनोरंजन का खर्चा, 1 साल में 16,000 रूपये का बिल

वक्त के साथ कितना महंगा होगा मनोरंजन, सिर्फ एप्स का खर्च ही 12,300 से ज्यादा

<-- ADVERTISEMENT -->

एक ऐसा दौर था जब लोग अपना मनोरंजन करने के लिए रेडियो, आडियो कैसेट्स,दूरदर्शन का इस्तेमाल करते थे। लेकिन समय के साथ मनोरंजन के साधनों में बड़ा परिवर्तन आया है। लोगों को सिनेमाघरों में जाकर पिक्चर देखना काफी पसंद आता है। लेकिन उनका खर्च बहुत ज्यादा है।


आज के समय में सिंगल स्क्रीन की अपेक्षा मल्टीप्लेक्स में फिल्म देखना बहुत महंगा पड़ता है। एक सिंगल टिकट की कीमत तकरीबन ₹350 की होती है। यदि आप फैमिली के 4 लोगो के साथ जाने की प्लानिंग करेंगे तो आपकी टिकट का ही खर्चा 1400 रुपये हो जाएगा। टाटा स्काई के 1 महीने का खर्च लगभग  ₹350 है। 1 साल में टाटा स्काई का खर्च लगभग ₹4200 होता है।


बात सिर्फ डीटीएच की ही नहीं बल्कि मोबाइल फोन पर डाउनलोड होने वाले एप्लीकेशंस की भी है। आज के समय में कई सारे ऐप्स है जिन पर नई-नई फिल्में और वेब सीरीज आती हैं। हालांकि दर्शकों को इनका सब्सक्रिप्शन लेना होता है। आज के समय में हॉटस्टार (Hotstar), नेटफ्लिक्स (Netflix),अमेजॉन प्राइम (Amazon Prime), जी5 जैसे एप्स काफी लोकप्रिय हैं।


अगर आप हॉटस्टार का 1 साल का सब्सक्रिप्शन लेना चाहते हैं तो वह ₹999 का है। इसके अलावा अमेजन प्राइम और जी5का 1 साल का खर्च भी इतना ही है। 1 साल में आपको ₹2700 का बिल चुकाना होगा। बात करें नेटफ्लिक्स की तो उसका 1 साल का खर्च ₹9600 है। अगर आप सभी वेब सीरीज देखना चाहते हैं तो उनके लिए ₹12300 खर्च करने होंगे। इसके अलावा उनको डीटीएच और सिनेमाघरों का खर्चा भी देना होगा। अगर आप 1 साल में 8 से 10 बार परिवार के साथ सिनेमाघरों में फिल्म देखने चाहते हैं तो कुल मिलाकर आपको 1 साल में 16 हजार 800 रुपए0का खर्च आएगा जो कि बहुत ज्यादा है।

इस पर सरकार ने भी कोई ज्यादा मेहरबानी नहीं दिखाई है। लगातार मनोरंजन पर टैक्स बढ़ता ही जा रहा है। अब देखने वाली बात होगी कि आने वाले 5 सालों में इस पर क्या होता है।
Loading...

<-- ADVERTISEMENT -->

Reactions:

Entertainment

Post A Comment:

0 comments: