पंजाबी फिल्मों का सुपरस्टार था धर्मेंद्र का ये भाई, शूटिंग के दौरान कर दी गई थी हत्या - BackToBollywood

This Website is protected by DMCA.com

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

पंजाबी फिल्मों का सुपरस्टार था धर्मेंद्र का ये भाई, शूटिंग के दौरान कर दी गई थी हत्या

पंजाबी फिल्मों का सुपरस्टार था धर्मेंद्र का ये भाई, शूटिंग के दौरान कर दी गई थी हत्या

<-- ADVERTISEMENT -->


बॉलीवुड सुपरस्टार धर्मेंद्र के भाई का नाम वीरेंद्र सिंह था। वीरेंद्र सिंह पंजाबी फिल्मों के सुपरस्टार थे। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो वीरेंद्र सिंह के जीवन पर फिल्म बन रही है। इस फिल्म का निर्माण वीरेंद्र के बेटे रणदीप सिंह करने जा रहे है। एक इंटरव्यू में रणदीप ने बताया की इस फिल्म के जरिए वीरेंद्र सिंह की हत्या की साजिश का खुलासा करने की कोशिश की जाएगी। गौरतलब है शूटिंग के दौरान ही वीरेंद्र की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

जानिए विस्तार से -

80 के दशक में पंजाबी सिनेमा पर राज करते थे वीरेंद्र

dharmendra-brother-shot-death-on-set
वीरेंद्र पंजाबी सिनेमा के सबसे लोकप्रिय एक्टर थे। 80 के दशक में वीरेंद्र की पंजाबी फिल्मों में काफी जबरदस्त डिमांड हुआ करती थी। क्योंकि हर निर्माता-निर्देशक वीरेंद्र को अपनी फिल्म में कास्ट करना चाहता था ताकि उनकी फिल्म हिट हो सकें। एक बेहतरीन एक्टर होने के साथ वीरेंद्र सक्सेसफुल डायरेक्टर और प्रोड्यूसर भी थे।

बतौर प्रोड्यूसर भी रहे सफल

dharmendra-brother-shot-death-on-set
वीरेंद्र ने बतौर प्रोड्यूसर करीब 25 फिल्मों का निर्माण किया था। दिलचस्प बात ये है की ये सभी फिल्में बॉक्स ऑफिस पर ब्लॉकबस्टर हिट रही थी। पंजाबी फिल्मों के अलावा वीरेंद्र ने 'खेल मुकद्दर का' और 'दो चेहरे' नाम की दो हिंदी फिल्मों का निर्माण भी किया था। ये दोनों फिल्में भी बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट रही थी।

फिल्मी करियर

dharmendra-brother-shot-death-on-set
वीरेंद्र ने साल 1975 में आई फिल्म 'तेरी मेरी एक जिंदड़ी' से अपना फिल्मी करियर शुरू किया था। इस फिल्म में वीरेंद्र के साथ उनके भाई धर्मेंद्र ने भी काम किया था। वीरेंद्र ने बहुत कम समय में ही पंजाबी सिनेमा में काफी नाम कमा लिया था। लेकिन कई लोग ऐसे भी थे जिन्हें वीरेंद्र की सफलता रास नहीं आई।

शूटिंग के दौरान गोली माकर कर दी गई थी हत्या

dharmendra-brother-shot-death-on-set
यही वजह है की वीरेंद्र को अपनी जान से हाथ धोना पड़ गया था। दरअसल, साल 1988 में फिल्म 'जट ते जमीन' की शूटिंग के दौरान उनकी गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। हालांकि हत्यारों और हत्या की वजह का अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है।

कहा जाता है आतंकवादियों ने की हत्या

dharmendra-brother-shot-death-on-set
कुछ लोगो से वीरेंद्र की बढ़ती लोकप्रियता बर्दाश्त नहीं हो पा रही थी। इसलिए किसी ने सुपारी देकर वीरेंद्र की हत्या करवा दी थी। वहीं कई लोगो का ये भी मानना है की वीरेंद्र की हत्या के पीछे आतंकवादियों का हाथ है।

Loading...

<-- ADVERTISEMENT -->

Reactions:

Entertainment

Post A Comment:

0 comments: