BackToBollywood

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

Recent PostAll the recent news you need to know

एंड टीवी के ‘गुड़िया हमारी सभी पे भारी’ में पुतली बाई की नई भूमिका के साथ वापसी करने से खुश हूं – कलाकार आभा परमार

इंटरव्यू…
happy-to-make-a-comeback-with-the-new-role-of-putli-bai-tvs-gudiya-hamari-pe-baari-artist-abha-parmar

1. तीन महीने के लंबे अंतराल के बाद शूटिंग पर वापस लौटकर कैसा महसूस हो रहा है?

मैं इसे शब्दों में नही बयां कर सकती कि तीन महीने से अधिक लंबे अंतराल के बाद काम पर लौटकर कैसा महसूस हो रहा है। ऐसा लग रहा है जैसे जिन्दगी में एक नई तरह की आजादी मिल गई है। मैंने एक पक्षी की तरह खुद को पिंजरे में महसूस किया था और अब एक बार फिर पंख फैलाकर हम वापस उड़ने के लिए तैयार हैं। हम वही पर हैं जहां हमें सबसे ज्यादा खुशी मिलती है, यानी कैमरे के सामने रहकर अपने दर्शकों का मनोरंजन करना। मैं पुतली बाई के इस नए किरदार के साथ वापस काम पर लौटने के लिए बहुत अधिक उत्साहित हूं।

2. शो में अपने किरदार के बारे में बताएं?

एण्ड टीवी के ‘गुड़िया हमारी सभी पे भारी‘ के नए एपिसोड्स में मैं पुतली बाई की भूमिका निभा रही हूं। इस शो का हिस्सा बनकर अच्छा महसूस हो रहा है, और तीन महीने के अंतराल के बाद शूटिंग पर लौटने के लिए मैं बहुत ज्यादा रोमांचित हूं। जब मैंने ये स्क्रिप्ट पढ़ी तो मैंने इस किरदार के लिए तुरंत हां कर दी। मेरे पास दो से तीन प्रस्ताव थे, लेकिन ये किरदार अद्भुत और अलग था। मेरी हमेशा से यही कोशिश रही है कि मैं कुछ अलग करूं और ये किरदार सही समय पर मेरे पास आ गया। यह हम जैसे कलाकारों को सामान्य से अधिक करने की चुनौती देता है।

सभी ने मेरा सेट पर तहे दिल से स्वागत किया। मैं शो में पुतलीबाई का प्रभावशाली किरदार निभा रही हूं जो शो में जल्द ही धमाकेदार एंट्री करने वाली है। सोने जैसा साफ दिल रखने वाली वो फूलन देवी के रूप में सामने आएगी क्योंकि उसके पूर्वज डकैत थे। पुतली बाई का किरदार कैसे गुप्ता परिवार की जिन्दगी में एक बदलाव लाकर उसमें हलचल मचाता है, यह देखने लायक होगा।

3. आपको ये भूमिका/किरदार कैसे मिलाघ्

जब किसी किरदार के बारे में सोचा जाता है, तो उसी के अनुसार कलाकार को चुना और उनसे संपर्क किया जाता है। और ऐसे ही मुझसे इस भूमिका के लिए संपर्क किया गया। मैं प्रोडक्शन और प्रोग्रामिंग टीम की शुक्रगुजार हूं कि उन्होंने इस भूमिका के लिए मुझे चुना है। निस्संदेह इसके लिए मेरा लुक टेस्ट हुआ था जिसके बाद सब आगे बढ़ा। सब कुछ सही तरह से हुआ, और अब मैं ‘गुड़िया हमारी सभी पे भारी‘ में पुतलीबाई के रूप में हूं।

4. क्या आपने इस किरदार के लिए कोई तैयारी की? अगर हां, तो हमें अपनी तैयारियों के बारे में बताइए।

हां बिलकुल। जब आपके पास कोई नई भूमिका आती है, तो बतौर कलाकार आप उसमें पूरी तरह समा जाते हो। उस किरदार की बारीकियों, रूप भाव और बोली को अपनाकर उस किरदार में ढल जाते हो। किसी चीज पर ध्यान देना बहुत महत्वपूर्ण है। जब मुझे ये रोल मिला, मैंने रियल और रील दोनों की ऑन-स्क्रीन और ऑफ-स्क्रीन बारीकियों को समझने और उसे चित्रित करने की कोशिश की, जिसने मुझे इस किरदार के लिए पूरी तरह से तैयार करने में मदद की, और मैने इसमें अपनी एक्टिंग स्किल्स शामिल करने की कोशिश की।

5. क्या आपने शूटिंग शुरू कर दी है? आपका अनुभव कैसा रहा है? हमें अपने शूट के पहले दिन के बारे में कुछ बताइये।

हां, शूटिंग शुरू हो चुकी है, और ये बहुत ही अच्छा और अलग अनुभव रहा है। 110 दिन के बाद, मैंने एक्टिंग में वापसी की और शूटिंग की, वो भी जो मेरे लिए एक नया प्रोजेक्ट था। मैं शुरुआत में ये सोचकर थोड़ा हिचकिचाई और घबराई कि नए गाइडलाइंस के साथ चीजें कैसी होंगी। लेकिन मैं पहले ही दिन काफी अच्छी तरह से सेटल हो गई। कास्ट और क्रू ने बांहे फैलाकर मेरा स्वागत किया और यह काफी मजेदार था। निश्चित रूप से हम ने सभी रूल्स जैसे सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क पहनना, सैनिटाइज करना जैसी चीजों को फॉलो किया, जो खुद में ही एक अलग अनुभव था। हम सब समय के साथ इसके आदी हो जाएंगे। इसमें अभी बहुत उत्साह, मस्ती और मनोरंजन है। मैं अपने दर्शकों के साथ इस शो के द्वारा दोबारा जुड़ने का बेसब्री से इंतजार कर रही हूं।

6. हमें नए एपिसोड्स की कहानी के बारे में थोड़ा संक्षिप्त में बताइए?

गुड़िया की शादी हमेशा से उसके परिवार के लिए एक परेशानी का सबब रही है, खासकर उनके माता-पिता राधे और सरला के लिए। पड़ोस में एक नया परिवार गुप्ता परिवार के दरवाजे पर दस्तक देने वाला है या फिर शायद यह सीधा गुड़िया के दिल में पहुंचेगा। लेकिन क्या गुड़िया अपनी अनोखी हरकतों से एक बार फिर खुद को एक असामान्य स्थिति में डाल लेगी? क्या गुड़िया उन पे भी पड़ेगी भारी?

7. क्या आप कोई और भी प्रोजेक्ट कर रही हैंघ्
हां, मेरे पास फिल्म और वेब सीरीज के ऑफर्स आए हैं। मैंने कुछ वेब सीरीज के लिए भी साइन किया था, लेकिन उनकी घोषणा होने तक आपको थोड़ा इंतजार करना होगा। फिलहाल मेरे पूरा ध्यान ‘गुड़िया हमारी सभी पे भारी‘ पर है, और मैं मेरे परफॉर्मन्स पर दर्शकों की प्रतिक्रिया को देखने का बेसब्री से इंतजार कर रही हूं।

सोनी सब के ‘बालवीर रिटर्न्स’ में अंडरवाटर विलेन्‍स ने विवान का अपहरण कर उसे मारने की योजना बनाई

in-sony-sabs-balveer-returns-underwater-villains-plans-to-kidnap-vivaan-and-kill-him

मुंबई। सोनी सब का शो ‘बालवीर रिटर्न्स’ फैंस और दर्शकों के लिए एक्शन से भरपूर एपिसोड्स की सीरीज़ लाने के लिए बिलकुल तैयार है। सोनी सब का फैंटेसी शो बालवीर रिटर्न्स दर्शकों को एक रोमांचक सफर पर ले जाने वाला है, क्योंकि आने वाला सप्ताह रोमांचक ट्विस्ट और खुलासों से भरपूर होगा। पानी के अंदर की दुनिया – शिंकाई का एक नया खतरा धरती पर आता है क्‍योंकि बामबाल (विमर्श रोशन), मिल्सा (श्वेता खंडूरी) और रे (शोएब अली) धरती पर सुपरपावर की तलाश में हैं। आगामी एपिसोड्स में विवान (वंश सयानी) की जिंदगी लटकती तलवार के नीचे आ जाएगी। दर्शकों को आगे आने एपिसोड्स में ज़बरदस्त ट्विस्ट देखने के लिए अपना दिल थाम लेना चाहिए।

शिंकाई की कुख्यात तिकड़ी- बामबाल, मिलसा और रे ने धरती पर एक महाशक्ति की पहचान की थी। हाल ही में उनकी पृथ्वी की यात्रा के दौरान, उन्हें नकाबपोश (देव जोशी) और उसकी शक्तियों के बारे में पता चलता है। इसी बीच, मिल्सा उसके पास खड़े हुए एक युवा लड़के से मजबूत जादुई शक्ति को महसूस करती है लेकिन उसका चेहरा देखने में नाकामयाब होती है। बामबाल को पृथ्वी पर एक दूसरी महाशक्ति के बारे में पता चलता है जो एक युवा लड़के विवान के पास है। बामबाल विवान को पकड़ने और रे को परम शक्ति देने के लिए उसके प्‍लाज्‍़मा का उपयोग करने की योजना बनाता है। उसे लगता है कि इस लड़के को आसानी से टार्गेट बना लेगा, और इसके लिए बामबाल अपना जादू हर जगह फैला देता है जो विवान का पता लगाएगा।

दूसरी तरफ, विवान पास आ रहे इस भयानक खतरे से पूरी तरह अंजान है और वह आगामी कॉलेज कॉन्सर्ट में हिस्‍सा लेने के लिए तैयारी कर रहा है।

बामबाल की भूमिका निभा रहे विमर्श रोशन ने कहा, “बामबाल सुपरपावर की तलाश कर रहा है जोकि रे के लिए ईंधन की तरह काम करे- और जीत के लिए उसका हथियार बने। आगामी एपिसोड्स में एक रोमांचक खेल होगा जहां हम एक ऐसे लड़के की तलाश कर रहे हैं जिसके पास परम शक्ति है। बामबाल के पास शातिर योजना है और यह देखना वाकई दिलचस्प होगा कि वह विवान को तलाश करने के लिए अपना जादू कैसे छोड़ता है। मुझे खासकर इन सभी एपिसोड्स की शूटिंग में बहुत मज़ा आया, और हमारे दर्शकों के लिए एक जबर्दस्‍त और मनोरंजक सप्ताह आने वाला है।

विवान की भूमिका निभा रहे वंश सयानी ने कहा, “पृथ्वी कुछ नकारात्मक शक्तियों की साक्षी बनेगी। नकाबपोश और विवान से शिंकाई के लोग क्या चाहते हैं, इस बारे में किसी को कोई जानकारी नहीं है। आगे आने वाले एपिसोड्स मस्ती और धमाल से भरपूर है लेकिन इसके साथ ही इसमें खूब एक्‍शन भी होगा। विवान खतरे में है लेकिन उसे इसके बारे में कुछ नहीं पता है। दर्शकों के लिए यह देखना वाकई दिलचस्प होगा कि क्या वह इस खतरे से खुद को बचाकर शैतानी शक्तियों को हरा पाता है। इन एपिसोड्स के लिए शूटिंग करना मज़ेदार रहा क्योंकि देबू और विवान शिंकाई के गुप्त दरवाज़े को खोजने के लिए पूरी तरह से जासूस बन गए हैं। नए किरदार और नई कहानियां हमेशा रोमांचक रही है और नए कलाकारों के साथ काम करना मेरे लिए हमेशा सीख का अनुभव रहा है। मुझे यकीन है कि दर्शक इन एपिसोड्स का ज़रूर आनंद लेंगे। तो हमारे साथ बने रहें और बालवीर रिटर्न्स में होने वाले मज़ेदार खुलासे देखें।”

भीमराव करेंगे एक और भावुक घटना का सामना

भीमराव करेंगे एक और भावुक घटना का सामना
मुंबई। एण्डटीवी के ‘एक महानायक डाॅ बी. आर. आम्बेडकर‘ के आगामी एपिसोड्स में दर्शक देखेंगे कि भीमराव (आयुध भानुशाली) की राखी बहन माधवी शादी के बाद ससुराल जाने के लिये विदा होती है। हालांकि, एक दुर्घटना में परिवार के सभी लोग मारे जाते हैं और केवल माधवी जिंदा बचती है।

इस घटना से भीमराव और माधवी दोनों ही सदमे और शोक में हैं। बाल विधवा होने की वजह से अब माधवी को वैधव्य से जुड़े रीति रिवाजों और परंपराओं को पालन करना होगा और उसे मैरून साड़ी पहननी होगी। माधवी को इससे काफी सदमा पहुंचता है, जबकि भीमराव भी बहुत दुखी हैं। वह इसके खिलाफ खड़े होने की कोशिश करते हैं, लेकिन कोई भी उनकी बात सुनने को तैयार नहीं है। यहां तक कि उनकी मां भीमाबाई भी भीमराव से इस मामले में दखल नहीं देने के लिये कहती है।

ऐसी परिस्थिति में भीमराव किस तरह माधवी के हक में खड़े होंगे? भीमाबाई (नेहा जोशी) ने कहा, ‘‘हम भावनाओं से भरपूर एक और एपिसोड दिखाने जा रहे हैं। माधवी की हालत देखकर भीमराव को बहुत दुःख हो रहा है और वह इस मुश्किल घड़ी में उसका साथ देना चाहता है। लेकिन वह उसकी मदद करने के लिये कुछ भी नहीं कर पा रहा है, क्योंकि कोई भी उसकी सुनने को तैयार नहीं है। हर कोई माधवी को उन रीति-रिवाजों के लिये तैयार करने में व्यस्त है, जिनका पालन एक विधवा को करना होता है। इससे भीमराव को काफी दुःख होता है। लेकिन क्या वह माधवी की समस्या का समाधान ढूंढ पायेंगे?

‘एक महानायक डाॅ बी. आर. आम्बेडकर‘ के नये एपिसोड्स देखिये, प्रत्येक सोमवार से शुक्रवार, रात 8ः30 बजे, सिर्फ एण्डटीवी पर

राजकुमार के 7 सबसे बेस्ट डॉयलोग जानिए

नमस्कार दोस्तो स्वागत है आपका हमारे आज के इस लेख में आज हम आपको 70s और 80s के लीजेंड अभिनेता राजकुमार के बारे में बताने वाले हैं। हालांकि यह आज हमारे बीच उपलब्ध नही हैं लेकिन फिल्मों में इनके द्वारा बोले गए डॉयलोग आज भी दर्शको के दिलों को लुभा देते हैं। आज हम आपको इनके फिल्मों में बोले गए 7 सबसे बेस्ट डॉयलोग के बारे में बात करने वाले हैं। तो चलिए शुरू करते हैं।


राजकुमार के 7 सबसे बेस्ट डॉयलोग जानिए

1. जब राजेश्वर दोस्ती निभाता है तो अफसाने लिक्खे जाते हैं.. और जब दुश्मनी करता है तो तारीख़ बन जाती है। दोस्तो यह डॉयलोग फ़िल्म सौदागर का है।

2.जिसके दालान में चंदन का ताड़ होगा वहां तो सांपों का आना-जाना लगा ही रहेगा. दोस्तो यह डॉयलोग फ़िल्म बेताज बादशाह फ़िल्म का है जो साल 1994 में रिलीज़ हुई थी।

3. चिनॉय सेठ, जिनके अपने घर शीशे के हों, वो दूसरों पर पत्थर नहीं फेंका करते. यह 1965 की film वक्त का डॉयलोग है।

4. बिल्ली के दांत गिरे नहीं और चला शेर के मुंह में हाथ डालने. ये बद्तमीज हरकतें अपने बाप के सामने घर के आंगन में करना, सड़कों पर नहीं. फ़िल्म बुलन्दी साल 1980 की।

5. जानी.. हम तुम्हे मारेंगे, और ज़रूर मारेंगे.. लेकिन वो बंदूक भी हमारी होगी, गोली भी हमारी होगी और वक़्त भी हमारा होगा. सौदागर फ़िल्म डॉयलोग।

6. हम वो कलेक्टर नहीं जिनका फूंक मारकर तबादला किया जा सकता है. कलेक्टरी तो हम शौक़ से करते हैं, रोज़ी-रोटी के लिए नहीं. दिल्ली तक बात मशहूर है कि राजपाल चौहान के हाथ में तंबाकू का पाइप और जेब में इस्तीफा रहता है. जिस रोज़ इस कुर्सी पर बैठकर हम इंसाफ नहीं कर सकेंगे, उस रोज़ हम इस कुर्सी को छोड़ देंगे. समझ गए चौधरी! फ़िल्म सूर्या साल 1989 की।

7. हम तुम्हे वो मौत देंगे जो ना तो किसी कानून की किताब में लिखी होगी और ना ही कभी किसी मुजरिम ने सोची होगी. फ़िल्म तिरंगा साल 1992 की।

जानिए संजय दत्त और मिथुन चक्रवर्ती ने कितनी फिल्मों में एकसाथ काम किया है

नमस्कार दोस्तो कैसे है। स्वागत है एक बार फिर से आप सभी का हमारी आज की इस नई ताजा रोचक पोस्ट में दोस्तो बता दें कि आज हम बात कर रहे हैं बॉलीवुड़ के दो दिग्गज अभिनेताओं मिथुन चक्रवर्ती और संजय दत्त के बारे मे। दोस्तो जानकारी के लिए बता दें कि यह दोनों अभिनेताओं ने 90s दशक में बॉलीवुड़ की एक से बढ़कर एक सुरहिट फिल्मों में काम किया है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बॉलीवुड में संजय दत्त को प्यार से लोग संजू बाबा कहकर पुकारते हैं और मिथुन चक्रवर्ती को मिथुन दादा कहकर पुकारते हैं। इन दोनों अभिनेताओं ने ना केवल बॉलीवुड़ की कई ब्लॉकबस्टर फिल्मों में अभिनय किया है बल्कि लोगों के दिलों में अपनी एक खास पहचान भी बनाई है। आज बॉलीवुड जगत इनका काफी आदर करता है। आज भी फ़िल्म इंडस्ट्री में इनके नाम का डंका बजता है भले ही यह अब काफी कम फिल्मों में नजर आते हैं। ऐसे में दोस्तो आज हम बात करने वाले हैं। कि आखिर यह दोनों अभिनेताओं ने एकसाथ अपने अब तक के फिल्मी करियर में कितनी फिल्मों में एकसाथ काम किया है तो चलिए जानते हैं। आखिर दोनो ने कितनी फिल्मों में साथ काम किया है।


Know how many films Sanjay Dutt and Mithun Chakraborty have worked together

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अपने अब तक के फिल्मी करियर में मिथुन चक्रवर्ती और संजय दत्त ने कुल 3 फिल्मों में साथ में अभिनय किया है वह फिल्में हैं इलाका, जीते हैं शान से और इलाका। दोस्तो आपको हमारी यह जानकारी कैसी लगी कमेन्ट करके कमेन्ट बॉक्स में हमे आप अपनी महत्वपूर्ण राय हमे जरूर बताएं और पोस्ट अगर पसन्द आई हो कृपया पोस्ट को अपने मित्रों और रिश्तेदारों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और रोजाना इस तरह की दमदार जानकारी पाते रहने के लिए हमे फॉलो करें धन्यवाद।

ऋषि कपूर चाँदनी फ़िल्म से जुड़ी 5 अनसुनी बातें

नमस्कार दोस्तो स्वागत है आपका हमारे आज के इस पोस्ट में आज हम बात करने वाले है फ़िल्म चांदनी के बारे में। जो साल 1989 में सिनेमाघरों में रिलीज़ हुई थी। इस फ़िल्म में मुख्य भूमिका में ऋषि कपूर, श्रीदेवी और विनोद खन्ना नजर आए थे। यह एक रोमांटिक ड्रामा फ़िल्म थी। यह फ़िल्म निर्देशक यश चोपड़ा के निर्देशन में बनी थी। इस फ़िल्म की कहानी काफी दमदार थी। इस फ़िल्म के सभी गीत काफी लोकप्रिय साबित हुए थे। और यह एक हिट बॉलीवुड़ फ़िल्म घोषित की गई थी। आज हम आपको इस फ़िल्म से जुड़ी 5 ऐसी बातों के बारे में बताने वाले जो शायद आप नही जानते होंगे। तो चलिए शुरू करते हैं। 


ऋषि कपूर चाँदनी फ़िल्म से जुड़ी 5 अनसुनी बातें

1. दोस्तो यह फ़िल्म बोक्स ऑफिस पर हिट हुई थी और साल 1989 की यह तीसरी सबसे अधिक कमाई करने वाली हिंदी फिल्म थी।
2. दोस्तो श्रीदेवी का किरदार पहले अभिनेत्री रेखा को ऑफर किया गया था लेकिन उन्होंने फिल्म को करने से मना कर दिया था।


3. दोस्तो फ़िल्म अमर अखबर एन्थोनी के बाद एक बार फिर इस फ़िल्म के जरिए ऋषि कपूर और विनोद खन्ना किसी फिल्म में एकसाथ नजर आए।
4. दोस्तो विनोद खन्ना इस फ़िल्म के शूटिंग के सेट पर हमेशा देर से आते थे जिसके कारण इस फ़िल्म के निर्देशक यश चोपड़ा उनसे हमेशा नाराज रहते थे।


5. अनिल कपूर को इस फ़िल्म में रोहित की भूमिका की ऋषि कपूर से पहले पेशकश की गई थी। लेकिन अनिल कपूर ने फ़िल्म को यह कहकर करने से मना कर दिया कि उन्हें फ़िल्म में विहलचेयर पर बैठने वाला सिन पसंद नही आया है। दोस्तो आपको इस फ़िल्म से जुड़ी कौन सी बात सबसे दिलचस्प लगी है कमेन्ट बॉक्स में कमेन्ट करके हमे अपनी महत्वपूर्ण राय जरूर बताएं और पोस्ट पसन्द आई हो तो पोस्ट को लाइक और दोस्तो के साथ शेयर करें और इस तरह की रोचक जानकारी पाते रहने के लिए हमे फॉलो करें धन्यवाद।

अजय देवगन की फिल्म "लज्जा" से जुड़ी 5 अनसुनी बातें

दोस्तो स्वागत है आप सभी का हमारे आज के इस पोस्ट में आज हम बात करने वाले हैं अजय देवगन की फ़िल्म लज्जा के बारे में जो साल 2001 में सिनेमाघरों में रिलीज की गई थी। इस फ़िल्म में संगीत संगीतकार अनु मलिक जी ने दिया था। फ़िल्म की स्टोरी काफी बेहतरीन थी। राजकुमार संतोषी के निर्देशन में बनी यह ड्रामा एक्शन फिल्म थी। इस फ़िल्म में अजय देवगन, अनिल कपूर, जैकी श्रॉफ और मनीषा कोईराला नजर आई थी। फ़िल्म की कहानी और गाने काफी फेमस हुए थे। यह फ़िल्म बॉक्स ऑफिस पर हिट हुई थी। इस फ़िल्म में अजय देवगन की एक्टिंग काफी कमाल की थी। जिस कारण फ़िल्म दर्शको को काफी पसंद आई है। आज हम आपको इस फ़िल्म से जुड़ी 5 अनुसनी बातों के बारे में बताने वाले हैं जो आप शायद नही जनते होंगे। तो चलिए शुरू करते हैं। 


अजय देवगन की फिल्म "लज्जा" से जुड़ी 5 अनसुनी बातें
1) इस फ़िल्म में तबबू को महिमा चौधरी की भूमिका निभाने के लिए पहले सम्पर्क किया गया था लेकिन तबबू ने इस फ़िल्म को करने से मना कर दिया था क्योंकि फ़िल्म निर्देशक राजकुमार संतोषी फ़िल्म के लिए तबबू को अपने बाजार मूल्य से कम पारिश्रमिक दे रहे थे।
2) इस फ़िल्म में अजय देवगन के किरदार के लिए सनी देओल को अजय देवगन से पहले साइन किया गया था लेकिन वह फ़िल्म को करने के लिए काफी अधिक फीस मांग रहे थे जिस कारण उनकी जगह फ़िल्म में अजय देवगन को लिया गया था।


3) इस फ़िल्म के गाने साजन के घर जाना है में डांस करने के लिए नम्रता शिरोडकर से सम्पर्क किया गया था लेकिन वह अपनी अन्य फिल्मों में व्यस्त थी जिस कारण उन्होंने इस फ़िल्म में काम करने के लिए मना कर दिया था।
4) यह फ़िल्म निर्देशक राजकुमार के साथ अजय देवगन की पहली फ़िल्म थी।

5) अभिनेत्री आरती छाबड़िया ने इस फ़िल्म से बॉलीवुड में डेब्यू किया था।

दूध की तरह गोरी लगती है यह 5 टीवी अभिनेत्रियां

नमस्कार दोस्तो स्वागत है आप सभी का हमारे आज के इस लेख में आज हम आपको टीवी की कुछ ऐसी 5 अभिनेत्रियों के बारे में बताने वाले हैं जो बिल्कुल दूध की तरह गोरी लगती है। तो चलिए शुरू करते हैं। 

दूध की तरह गोरी लगती है यह 5 टीवी अभिनेत्रियां
 
1.शिवांगी जोशी - एक भारतीय अभिनेत्री हैं, जन्मदिन है 1992, जिन्हें "बेगुसराए" में "पूनम" की भूमिका और "बेंतेहा" में "आयत" की भूमिका के लिए जाना जाता हैं। वह अभी वर्तमान में "ये रिश्ता क्या कहलाता हैं" में "नाइरा सिंघानिया" का लीड रोल निभा रही हैं कार्तिक गोयनका के साथ। आप देख सकते हैं ई की तस्वीर में कई यह कितनी गोरी हैं।

दूध की तरह गोरी लगती है यह 5 टीवी अभिनेत्रियां 

2. जेनिफर विंगेट - यह टेलीविजन और फ़िल्म अभिनेत्री हैं जो कई धारावाहिकों में दिख चुकी हैं। वेें खासकर सरस्वतीचंद्र, बेहद और बेपनाह जैैैसे धारावाहिको में अपनी बेहतरीन प्ररदर्शन के लिए जानी जाती हैं। इन्होंने 2012 में अपने दोस्त और दिल मिल गए के सह कलाकार करन सिंह ग्रोवर से शादी कर ली थी। नवम्बर 2014 में दोनों का तलाक हो गया। यह भी दिखने में काफी गोरी लगती हैं। बिल्कुल दूध की तरह

दूध की तरह गोरी लगती है यह 5 टीवी अभिनेत्रियां 

3. अनुष्का सेन - इनका जन्म 4 अगस्त 2002 में झारखण्ड, भारत में एक हिंदू परिवार मे हुआ था। इनके पिता का नाम अनिरबान सेन और माता का नाम राजरूपा सेन है। अनुष्का की पढाई रेयान इंटरनेशनल स्कूल से अभी भी चल रही है। यह भी काफी गोरी हैैं.

दूध की तरह गोरी लगती है यह 5 टीवी अभिनेत्रियां 

4. हिना खान - दोस्तो हिना खान भारतीय टेलीवीज़न अभिनेत्री है, जिन्होंने 2009 में "यह रिश्ता क्या कहलाता है" धारावाहिक से अपने अभिनय कि शुरूआत की थी। जिसमें इन्होंने मुख्य किरदार "अक्षरा" को निभाया था। वह स्टार प्लस के अन्य धारावाहिक सपना बाबुल का...बिदाई, चाँद छुपा बादल में और मास्टरशेफ इंडिया कुकिंग शो ३ में अतिथि भूमिका में दिख चुकी हैं। यह भी काफी गोरी है बिलकुल दूध की तरह

दूध की तरह गोरी लगती है यह 5 टीवी अभिनेत्रियां 

5. मुनमुन दत्ता - यह एक भारतीय फ़िल्म अभिनेत्री हैं। वर्त्तमान में मुनमुन तारक मेहता का उल्टा चश्मा नामक धारावाहिक में कार्यरत हैं। 1987 में जन्मी 32 साल की उम्र में यह बिल्कुल दूध की तरह गोरी लगती हैं।

परवरिश फ़िल्म से जुड़ी 6 अनसुनी बातें आप शायद नही जानते होंगे

नमस्कार दोस्तो स्वागत है एक बार फिर आप सभी का हमारी आज के इस पोस्ट में आज हम बात कर रहे हैं अमिताभ बच्चन और विनोद खन्ना स्टारर फ़िल्म परवरिश के बारे में यह एक ड्रामा परिवारिक फ़िल्म थी। जिसमें विनोद खन्ना और अमिताभ बच्चन दोनो का कमाल का अभिनय हमे देखने को मिला था दोस्तो आज हम आपको बताने वाले हैं। इनकी फ़िल्म परवरिश से जुड़ी 6 अनसुनी बातों के बारे जो आप शायद नही जानते होंगे। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अमिताभ बच्चन और विनोद खन्ना की फ़िल्म परवरिश साल 1977 में 23 अक्टूबर को सिनेमाघरों में रिलीज़ हुई थी। मन्नू देसाई के निर्देशन में बनी इस फ़िल्म में संगीत लक्ष्मीकांत प्यारे लाल ने दिया था। इस फ़िल्म की कहानी काफी दमदार थी। जिस कारण फ़िल्म बॉक्स ऑफिस पर सफल रही थी। बता दें कि लगभग 1 करोड़ 80 लाख रुपए के बजट में बनी इस फ़िल्म ने बॉक्स ऑफिस पर वर्ल्डवाइड 6 करोड़ 5 लाख रुपए की कमाई की थी। चलिए अब जानते हैं फ़िल्म से जुड़ी 6 अनसुनी बातें।
परवरिश फ़िल्म से जुड़ी 6 अनसुनी बातें आप शायद नही जानते होंगे
1 - दोस्तो फ़िल्म निर्देशक मनमोहन देसाई ने फ़िल्म परवरिश और फ़िल्म अमर अखबर एन्थोनी को एक ही स्टूडियो में और एक ही समय पर शूट किया था।
2 - इस फ़िल्म में शम्मी कपूर के किरदार का नाम शमशेर होता है। दोस्ती बता दें कि रियल लाइफ में शम्मी कपूर का यह असली नाम है। 


3 - फ़िल्म निर्देशक मनमोहन देसाई के साथ यह अभिनेता अमिताभ बच्चन की पहली फ़िल्म थी।
4 - यह साल 1977 की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्मों की सूची में नम्बर 4 पर थी।


5 - दोस्तो इस फ़िल्म में अमज़द खान ने अमिताभ बच्चन के पिता की भूमिका निभाई है बता दें की रियल लाइफ में अमजद खान अमिताभ बच्चन से 2 साल छोटे है।
6 - यह फिल्म साल 1977 में प्रदर्शित फ़िल्म निर्देशक मनमोहन देसाई की चार फिल्मों में से एक थी। उनकी अन्य तीन फिल्में "अमर अकबर एंथोनी", "धरम-वीर" और "चाचा भतीजा" हैं। यह चारों फिल्में बॉक्स ऑफिस पर सफल रही थी

संजय दत्त और गोविन्दा की फ़िल्म दो कैदी से जुड़ी यह 4 बातें शायद आप नही जानते होंगे

नमस्कार दोस्तो आज हम बात कर रहे हैं इस आर्टिकल में दो मशहूर अभिनेता संजय दत्त और गोविन्दा कर बारे में। जिन्होंने एक साथ कई कॉमेडी और एक्शन से भरपूर फिल्मों में काम किया है। जो लोगों को काफी पसंद आई है। हालांकि पिछले कई सालों से यह किसी फिल्म में साथ में नजर नही आए हैं। संजय दत्त की इस साल कई फिल्में आने वाली है मगर गोविन्दा अब फिल्मी दुनिया से दूर होते लग रहे हैं। आज हम आपको गोविन्दा और संजय दत्त की जोड़ी में बनी फिल्म दो कैदी से जुड़ी 5 अनसुनी बातों के बारे में बताने वाले हैं तो चलिए शुरू करते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें गोविन्दा और संजय दत्त की यह फ़िल्म सिनेमाघरों में साल 1989 में 15 फरवरी को रिलीज हुई थी। अजय कश्यप के निर्देशन में बनी यह एक एक्शन ड्रामा फ़िल्म थी। इस फ़िल्म में मुख्य भूमिका में संजय दत्त, गोविन्दा और नीलम कोठारी नज़र आई है। चलिए दोस्तो जानते है फ़िल्म से जुड़ी 5 रोचक बातें जो आप शायद नही जानते होंगे।


1- दोस्तो जब इस फ़िल्म की शूटिंग गोविन्दा कर रहे थे तब उन्होंने 45 फिल्में साइन की हुई थी जिस कारण फ़िल्म दो केदी के सेट पर वह समय पर नही पहुंच पाते थे जिस कारण अमरीश पुरी ने एक बार उन्हें गन्दी नाली के कीड़े कहकर पुकारा था जिस कारण गोविन्दा और अमरीश पुरी के बीच मतभेद पैदा हो गया था।

2- इस फ़िल्म को साल 1986 में लॉन्च किया गया था मगर गोविन्दा के तरीखों की समस्या के चलते फ़िल्म को बनने में तीन साल का समय लगा था।

3 - फ़िल्म का वह दृश्य जिसमें नीलम जो कि एक चोर होती है वह एक महिला के गले से एक महंगा हार चुराती है और फिर पकड़े जाने के डर से उसे गोविंदा की जेब में डाल देती है दोस्तो ऐसा ही एक सीन साल 1980 की फ़िल्म"शान" शान में देखने को मिलता है जिसमें परवीन बाबी और अमिताभ बच्चन नजर आए हैं।


4 - गोविन्दा और संजय दत्त की एकसाथ यह दूसरी फिल्म थी इससे पहले गोविन्दा और संजय दत्त एकसाथ साल 1987 की फ़िल्म जीते हैं शान से में नजर आ चुके थे

बॉलीवुड अभिनेता नाना पाटेकर के बारे में कुछ कम ज्ञात तथ्य हैं?

नाना पाटेकर ने बॉलीवुड में अपने लिए एक अलग प्रशंसक आधार बनाया है। ये हाल के वर्ष अभिनेता के लिए वास्तव में कठिन रहे हैं क्योंकि उन्हें मेटू आंदोलन के लिए बदनाम किया गया था। अभिनेता ने मीडिया का सामना करते हुए कहा है कि ये आरोप झूठे हैं लेकिन MeToo आंदोलन बहुत बड़ा हो गया और उद्योग में कई लोगों को बेनकाब कर दिया। नाना पाटेकर ने तनुश्री दत्ता के खिलाफ मामला दर्ज किया, लेकिन इससे जनता में उनकी छवि को नुकसान पहुंचा। फिर भी, उद्योग के बहुत सारे लोग और उनके प्रशंसक इस बात को लेकर आश्वस्त नहीं हैं कि नाना पाटेकर जैसा व्यक्ति ऐसा कुछ भी कर सकता है। हम सभी कैमरे के सामने अभिनेता के अभिनय कौशल और स्क्रीन उपस्थिति को जानते हैं। संघर्ष के दिनों में, वह सड़कों पर ज़ेबरा क्रॉसिंग को चित्रित करते थे और मूवी पोस्टर चिपकाने के लिए आजीविका कमाते थे।

बॉलीवुड अभिनेता नाना पाटेकर के बारे में कुछ कम ज्ञात तथ्य हैं?

एक बार जब वह केवल 35 रुपये महीने कमा रहा था, और अब वह सूखाग्रस्त क्षेत्रों के किसानों के लिए सबसे उदार दाताओं में से एक के रूप में उभरता है, तो उसकी कहानी सभी के लिए प्रेरणादायक है। अभिनेता एक शानदार जीवन बिता सकता है लेकिन वह एक साधारण जीवन जीना पसंद करता है। नाना पाटेकर एक बेहतरीन अभिनेता हैं और बॉलीवुड इंडस्ट्री भी उनका सम्मान करती है। इसमें कोई संदेह नहीं है कि वह पागलपन की विलासिता को बर्दाश्त कर सकता है जो ज्यादातर लोग जीवन से चाहते हैं। हालांकि, अभिनेता अपनी माँ के साथ 1 बीएचके अपार्टमेंट में एक साधारण जीवन जीने के लिए बहुत खुश है। हाल ही में, उन्होंने मराठवाड़ा क्षेत्र में आत्महत्या करने वाले किसानों के 60 से अधिक परिवारों को प्रति परिवार 15,000 रुपये दान किए। इसके अलावा, उन्होंने मराठवाड़ा में 112 किसानों के परिवारों से उनकी स्थिति जानने के लिए दौरा किया। उन्होंने अपना संगठन शुरू किया जो नागपुर, हिंगोली, परबानी, लातूर, औरंगाबाद, नांदेड़ और अधिक के क्षेत्रों में 700 से अधिक लोगों के साथ जुड़ने की योजना बना रहा है।


लोगों की मदद करने का उनका तरीका मंत्रमुग्ध करने वाला है क्योंकि वह सक्रिय रूप से स्वयं उस स्थान पर जाते हैं और सभी क्रियाओं को नियंत्रित करते हैं। उनकी नींव बहुत सफल रही क्योंकि वे गरीब किसानों की मदद करने के लिए 22 करोड़ रुपये से अधिक इकट्ठा करने में सफल रहे। फाउंडेशन सभी किसानों और उनके परिवारों को सुरक्षित पेयजल उपलब्ध कराने के लिए सूखे झीलों और नदियों को भरने के लिए एक प्रमुख उद्देश्य के साथ काम करता है। नाना पाटेकर ने फिल्म प्रहार में अपनी भूमिका को सही करने के लिए विधि अभिनय किया और 3 वर्षों के लिए सख्त सेना प्रशिक्षण लिया ।

दीपिका पादुकोण के बारे में सबसे कम ज्ञात तथ्य क्या हैं?

दीपिका पादुकोण, एक नाम जो न केवल बॉलीवुड में लोकप्रिय है, बल्कि हॉलीवुड को भी तूफान में ले गया है।दीपिका ने अपने करियर की शुरुआत 2007 में की थी और तब से वह अजेय हैं। दीपिका पादुकोण निस्संदेह मनोरंजन उद्योग में सबसे बेहतरीन अभिनेत्री में से एक है। वह हमेशा फिल्मों में अपने अभिनय कौशल से दर्शकों को प्रभावित करने में सफल रही हैं। उसने TIME पत्रिका की 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की सूची में भी जगह बनाई।दीपिका के बारे में कुछ कम ज्ञात तथ्य:

दीपिका पादुकोण के बारे में सबसे कम ज्ञात तथ्य क्या हैं?
 
1. दीपिका एशिया की सबसे ज्यादा फॉलो की जाने वाली महिला हैं।

2.दीपिका पादुकोण बॉलीवुड की उन चुनिंदा अभिनेत्रियों में से एक हैं, जिन्होंने बहुत कम समय में अपने करियर में शानदार मुकाम हासिल किया है। अभिनेत्री ने अनुग्रह, आकर्षण और ऊर्जा के आकर्षण का परिचय दिया और उनके प्रशंसकों ने भी सहमति व्यक्त की। कथित तौर पर, पादुकोण अब 27.6 मिलियन अनुयायियों के साथ ट्विटर पर एशिया की सबसे अधिक फॉलो की जाने वाली महिला हैं।

3. बॉलीवुड में केवल बैक टू बैक हिट के साथ अभिनेत्री।दीपिका पादुकोण बॉलीवुड की एकमात्र ऐसी अभिनेत्री हैं जिन्होंने 100 करोड़ से अधिक के कलेक्शन के साथ बैक टू बैक चार हिट दिए। यह "रेस 2" के साथ शुरू हुआ, फिर, "ये जवानी है दीवानी", "चेन्नई एक्सप्रेस" और "गोलियां की रासलीला- राम लीला"।

4. सलमान के साथ मुद्दे दीपिका को कभी सलमान खान के साथ जोड़ा नहीं गया। शाहरुख खान से उनकी नजदीकियां इसकी वजह बताई जाती हैं। दीपिका ने अतीत में सलमान खान के साथ तीन फिल्में- शुद्दी, सुल्तान और किक में एक आइटम नंबर को खारिज कर दिया है।

दीपिका पादुकोण के बारे में सबसे कम ज्ञात तथ्य क्या हैं?

5. दीपिका पादुकोण ने कॉकटेल में मीरा की भूमिका को अस्वीकार कर दिया। कॉकटेल 'बॉलीवुड इंडस्ट्री में दीपिका पादुकोण के सर्वश्रेष्ठ काम में से एक था। ऐसे समय में जब लेगीस के पास असफल फिल्मों का दौर चल रहा था, 'कॉकटेल' एक सच्चे आशीर्वाद की तरह आया। दीपिका ने फिल्म में वेरोनिका की भूमिका पर निबंध लिखा। हालांकि, यह वेरोनिका की भूमिका नहीं थी, जो उसे निर्माताओं द्वारा की पेशकश की गई थी। चूंकि 'लव आज कल' में दीपिका का किरदार 'कॉकटेल' में मीरा से मिलता-जुलता था, इसलिए उन्होंने वेरोनिका के साथ आगे बढ़ने का फैसला किया।

6. दीपिका पादुकोण का जन्मस्थान भारत नहीं है। दीपिका पादुकोण का जन्म 5 जनवरी, 1986 को कोपेनहेगन, डेनमार्क में हुआ था लेकिन उनका परिवार बाद में बेंगलुरु चला गया जब वह 11 महीने की थी।

यह हैं फ़िल्म सुर्यवंशी के 4 सबसे महंगे कलाकार, जानिए अक्षय कुमार की फीस

नमस्कार दोस्तो स्वागत है आपका हमारी आज की इस पोस्ट में आज हम बात करने वाले हैं। अक्षय कुमार की आने वाली फिल्म सुर्यवंशी के बारे में जो कि एक एक्शन थ्रिलर फिल्म बताई जा रही है। इस फिल्म का निर्देशन रोहित शेट्टी कर रहे हैं। इस फ़िल्म में दमदार एक्शन देखने को मिलने वाला है क्योंकि इस फ़िल्म में तीन धाकड़ अभिनेता अजय देवगन, अक्षय कुमार और रणवीर सिंह तीनो एक पुलिस ऑफिसर की भूमिका में फ़िल्म में नजर आने वाले हैं। इस फ़िल्म को नम्बर के महीने में साल 2020 में रिलीज़ किया जा सकता है। इस फ़िल्म में अक्षय कुमार, अजय देवगन, रणवीर सिंह और कैटरीना कैफ लीड रोल में नजर आने वाली है। आज हम आपको इस फ़िल्म के 4 सबसे महंगे कलाकारों की फीस के बारे में बताने वाले हैं। 


 कैटरीना कैफ - दोस्तो जैसा कि शायद आपको पता ही होगा कि कैटरीना कैफ बॉलीवुड़ की सबसे महंगी अभिनेत्रियों में से एक हैं। इन्होंने अपने अब तक के करियर में सलमान खान के साथ कई ब्लॉकबस्टर फिल्मों में अभिनय किया है यह फ़िल्म सुर्यवंशी में अदिति नाम का किरदार निभाने वाली है। इन्हें इस फ़िल्म में अभिनय करने के लिए लगभग 10 करोड़ रुपए की फीस दी गई है। 

 

रणवीर सिंह - अभिनेता रणवीर सिंह जो बॉलीवुड़ के सबसे हैंडसम अभिनेता माने जाते हैं। इन्होंने बॉलीवुड़ की एक से बढ़कर एक सुपरहिट फिल्मों में काम किया है। यह इस फ़िल्म में सिम्बा नाम का रोल प्ले करने वाले हैं। इन्हें इस फ़िल्म में अभिनय करने के लिए 15 करोड़ रुपए की फीस दी गई है। 

3) अजय देवगन - बॉलीवुड़ के सिंघम अजय देवगन आज बॉलीवुड़ के फ़िल्म इंडस्ट्री में किसी पहचान के मोहताज नही है। आज के दौर में यह बॉलीवुड़ के सबसे महंगे अभिनेता माने जाते हैं। दोस्तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह इस फ़िल्म में बाजीराव सिंघम नाम का रोल प्ले करने वाले हैं जिसके लिए इन्हें 20 करोड़ रुपए की फीस दी गई है। 

4) अक्षय कुमार - दोस्तो अक्षय इस फ़िल्म में लीड रोल में नजर आने वाले हैं। वह इस फ़िल्म में वीर सोरावनशी नाम का रोल प्ले करने वाले है। जिसके लिए इन्हें 40 करोड़ रुपए की फीस दी गई है।

ज्यादा फीस मांगने पर अजय देवगन को फ़िल्म से बाहर निकाल दिया था इस निर्देशक ने

नमस्कार दोस्तो स्वागत है आप सभी का हमारी आज की एक और रोचक आर्टिकल में दोस्तो बॉलीवुड़ फिल्म इंडस्ट्री में आए दिन कई फिल्में रिलीज़ होती हैं। जिनमें से कई हिट तो कई फ्लॉप हो जाती है। दोस्तो फ़िल्म काफी हद तक अभिनेता के स्टारडम पर भी निर्भर करती है। अगर फ़िल्म में अभिनेता दमदार होता है तो फ़िल्म के हिट होने के ज्यादा उम्मीद होती हैं। लेकिन कई अभिनेता ज्यादा फीस मांग लेते हैं जिस कारण फ़िल्म में कभी कभी उन्हें लिया ही नही जाता है।

 
बॉलीवुड़ अभिनेता अजय देवगन के बारे में जिन्होंने बॉलीवुड़ की कई बेहतरीन फिल्मों में काम किया है। आज हम आपको उस फिल्म निर्देशक के बारे बताने वाले हैं जिन्हें अधिक फीस मांगने पर फ़िल्म से बाहर निकाल दिया गया था। दोस्तो अगर आप भी जानना चाहते हैं कि वह कौन सा फ़िल्म निर्देशक हैं जिसने अजय देवगन को फ़िल्म से बाहर निकाल दिया था। तो इस आर्टिकल को पढ़िए। 

 

दोस्तो बता दें कि जिस निर्देशक ने अजय देवगन को फ़िल्म स्व बाहर निकाला था वह कोई और नही बल्कि निर्देशक यश चोपड़ा थे। दोस्तो यह बात तब की है जब यश चोपड़ा डर फ़िल्म बना रहे थे जो साल 1993 में रिलीज़ हुई थी। दोस्तो इस फ़िल्म में शाहरुख खान के रोल के लिए पहले अजय देवगन से सम्पर्क किया गया था लेकिन उन्होंने इस फ़िल्म को करने के लिए काफी ज्यादा फीस की मांग की थी। जिस कारण उन्हें यश चोपड़ा ने फ़िल्म में नही लिया था। दोस्तो फिर शाहरुख खान को फ़िल्म में इस रोल के लिए लिया गया था। दोस्तो उम्मीद करता हूँ कि आपको हमारा आज का यह आर्टिकल पसन्द आया होगा म दोस्तो अगर पसन्द आया हो तो आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और इस तरह की नई जानकारियां प्रतिदिन पाते रहने के लिए हमे फॉलो करें धन्यवाद।

37 साल की इस अभिनेत्री का फिगर है काफी हॉट, आप भी देखिए

अंतरा बिस्वास
दोस्तो स्वागत है आप सभी का हमारी आज की एक और पोस्ट में दोस्तो फिल्म इंडस्ट्री में एक से बढ़कर एक खूबसूरत अभिनेत्रियां है। जो आए दिन अपने बोल्ड फिगर और खुबसुरती को लेकर चर्चा में बनी रहती हैं। दोस्तो ऐसे में आज हम आपको एक ऐसी ही अभिनेत्री के बारे में बात करने वाले हैं जिसका फिगर काफी हॉट है। और वह काफी खूबसूरत है। तो चलिए दोस्तो जानते हैं उस अभिनेत्री के बारे में। 

अंतरा बिस्वास 



दोस्तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आज की इस पोस्ट में हम जिस अभिनेत्री के बारे में बात कर रहे हैं उस अभीनेत्री का नाम अंतरा बिस्वास है। यह स्टेज नाम मोना लिसा के नाम से भी जाना जाता है, एक भारतीयअभिनेत्री हैं। ये अब तक 125 भोजपुरी फिल्में कर चुकी हैं, और इसके साथ ही हिन्दी, बंगाली, ओडिया, तमिल, कन्नड़ और तेलुगू फिल्मों में भी काम कर चुकी हैं। अंतरा का जन्म बंगाली हिन्दू परिवार में हुआ था। इन्होंने अपने अंकल के कहने पर अपना स्टेज का नाम मोनालिसा रख लिया। इन्होंने दक्षिण कोलकाता के जूलियन डे स्कूल से अपनी शिक्षा पूरी की, फिर कलकत्ता विश्वविद्यालय के आशुतोष कॉलेज से अपनी आगे की पढ़ाई पूरी की और संस्कृत में बीए की डिग्री प्राप्त की। ये पहले ओडिया वीडियो एल्बम में मॉडल और टीवी अभिनेत्री भी रह चुकी थीं। इन्होंने 17 जनवरी 2017 को अपने प्रेमी, भोजपुरी अभिनेता विक्रांत सिंह राजपूत से बिग बॉस के घर में शादी कर ली थी। 


इन्होंने हिन्दी फिल्म जयते में आरती नाम की एक लड़की की एक छोटी सी भूमिका निभाई थी और इसी से हिन्दी फिल्मों में कदम रखा था। हालांकि इससे इन्हें कोई पहचान नहीं मिल पाई थी। इसके बाद इन्होंने हमाम फी अंस्टरडम (1998) और जय श्रीराम (1999) नाम की ओडिया में बनी फिल्मों में भी काम किया था। इसके बाद ये दमन (2001) में एक गाने में दिखाई दी थीं। इसके बाद ये रोंग नंबर (2002) नाम की ओडिया फिल्म के अलावा टॉप सम्राट (2003) और अधिकार (2004) जैसी बंगाली फिल्मों में भी काम कर चुकी हैं।
अंतरा बिस्वास 

दोस्तो आप इनकी तस्वीरों में देख सकते हैं कि इनका फिगर काफी हॉट है। और यह काफी खूबसूरत है। दोस्तो आपको यह अभिनेत्री कैसी लगी कमेंट करके कमेन्ट बॉक्स में आप हमें अपनी राय जरूर बताएं धन्यवाद।

PlayStore से हटाया गया Paytm: पेमेंट ऐप पर क्रिकेट खिलवाने का आरोप, पढ़ें पूरी खबर

Paytm-removed-from-PlayStore
घरेलू डिजिटल पेमेंट ऐप पेटीएम को गूगल ने अपने प्ले स्टोर से हटा दिया है। पेटीएम ने शुक्रवार को ट्वीट किया कि उसका एंड्रॉयड ऐप नए डाउनलोड या अपडेट के लिए गूगल प्ले स्टोर पर अस्थायी तौर पर उपलब्ध नहीं है। हम जल्द ही वापसी करेंगे। कंपनी ने कहा कि आपकी राशि पूरी तरह से सुरक्षित है और आप पेटीएम ऐप को सामान्य तरह से इस्तेमाल कर सकते हैं। 

उधर, गूगल ने कहा है कि प्ले स्टोर फैंटेसी क्रिकेट, ऑनलाइन कसीनो और दूसरे गैंबलिंग ऐप को भारत में इजाजत नहीं देता है। अगर कोई ऐसा करता है तो यह पॉलिसी का वॉयलेशन है। पेटीएम पर इसी के तहत कार्रवाई की गई है।
गूगल ने कहा- ऑनलाइन कसीनो की इजाजत नहीं

गूगल ने कहा है कि वह ऑनलाइन कसीनो और स्पोर्ट्स बेटिंग को सुविधा देने वाली गैरकानूनी गैंबलिंग की इजाजत नहीं दे सकता है। गूगल की प्रोडक्ट, एंड्रॉयड सिक्योरिटी और प्राइवेसी की वाइस प्रेसीडेंट सुजैन फ्रे ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा, 'जब कोई ऐप इन पॉलिसीज का उल्लंघन करता है तो हम डवलपर को इसकी जानकारी देते हैं। जब तक डवलपर पॉलिसी के अनुसार बदलाव करता है तब तक ऐप को प्ले स्टोर से हटा दिया जाता है।'

गूगल-पे से भी है पेटीएम का मुकाबला

पेटीएम देश के बड़े स्टार्टअप्स में से एक है। गूगल के पेमेंट प्लेटफॉर्म गूगल-पे से भी पेटीएम का सीधा मुकाबला है। 31 मार्च को खत्म हुए वित्त वर्ष 2019-20 में पेटीएम का रेवेन्यू बढ़कर 3 हजार 629 करोड़ रुपए पर पहुंच गया है।

5 करोड़ तक का पेटीएम कैश जीतने का ऑफर

पेटीएम फर्स्ट गेम्स की वेबसाइट पर मौजूद एफएक्यू (frequently asked questions) पर मौजूद जानकारी के मुताबिक, पेटीएम फर्स्ट गेम्स पर प्लेयर्स स्पेशल टूर्नामेंट में 5 करोड़ रुपए तक का पेटीएम कैश जीत सकते हैं। इसके अलावा प्लेयर्स के लिए अन्य कैश प्राइज भी हैं। इस प्लेटफॉर्म पर रमी, फैंटेसी, लूडो और अन्य प्रकार के मल्टी प्लेयर गेम खेले जा सकते हैं। वेबसाइट के मुताबिक, प्लेयर एक्सक्लूसिव टूर्नामेंट में रोजाना एक लाख रुपए तक की राशि जीत सकते हैं।

पेटीएम के अन्य ऐप अभी भी प्ले स्टोर पर मौजूद

गूगल ने केवल पेटीएम पेमेंट ऐप को प्ले स्टोर से हटाया है। पेटीएम के अन्य ऐप अभी भी प्ले स्टोर पर उपलब्ध हैं। इसमें पेटीएम मॉल, पेटीएम फॉर बिजनेस, पेटीएम मनी, पेटीएम इनस्टोर ऑर्डर्स पेटीएम इनसाइडर और पेटीएम स्टोर मैनेजर शामिल हैं।

आईपीएल से पहले पेटीएम के लिए बड़ा झटका

पेटीएम ने आईपीएल की लोकप्रियता को देखते हुए हाल ही में पेटीएम फर्स्ट गेम्स ऐप लॉन्च किया था। पेटीएम ने अपने इस गेमिंग के जरिए आईपीएल के दौरान 100 मिलियन से ज्यादा यूजर जुटाने का लक्ष्य रखा था। कंपनी ने अगले 6 महीने के दौरान 200 से ज्यादा लाइव इवेंट के आयोजन की योजना बनाई थी। पेटीएम ने इसी सप्ताह क्रिकेट लीजेंड सचिन तेंदुलकर को पेटीएम फर्स्ट गेम्स का ब्रांड एंबेसडर बनाया था। पेटीएम फर्स्ट पर 50 से ज्यादा गेम उपलब्ध हैं।

अभिनेता अल्लू अर्जुन के बारे में कुछ ज्ञात और अज्ञात तथ्य क्या हैं?

नमस्कार दोस्तो स्वागत है आप सभी का हमारी आज की इस पोस्ट में आज हम आपको बताने वाले है साउथ अभीनेता अल्लु अर्जुन से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातों के बारे में जो आप शायद नही जानते होंगे। 

What are some known and unknown facts about actor Allu Arjun

1. पुस्तकें पढ़ना - कुछ महान आत्मा ने बताया कि एक अच्छी किताब नुकसान नहीं पहुंचाती है, ऐसा ही अल्लू अर्जुन के साथ भी है। यह एक कम ज्ञात तथ्य है कि अल्लू अर्जुन एक किताबी कीड़ा है और व्यक्तित्व विकास की किताबें पढ़ना पसंद करता है और उसके पसंदीदा में से एक 'मेरे पनीर को ले जाना' शामिल है। 'डॉ। स्पेन्सर जॉनसन द्वारा। उनके अनुसार एक अच्छा व्यक्तित्व और दृष्टिकोण किसी के स्वयं का प्रतिनिधित्व करने का सबसे अच्छा तरीका है।

2. रक्तदान करना - रक्त दान करना एक अच्छा काम है और इसे सभी को पूरा करना चाहिए और इसी तरह अल्लू अर्जुन अपना जन्मदिन बिताना पसंद करते हैं। अपने जन्मदिन पर हर साल वह बीमार रोगियों और उनके बीमार प्रशंसकों से मिलता है और रक्त दान करता है, यह उनके परोपकारी स्वभाव को दर्शाता है।

3. केरल में प्रशंसक - अल्लू अर्जुन को भी केरल में बहुत बड़ी फैन फॉलोइंग मिली है, फैन फॉलोइंग इतनी बढ़ गई कि उन्होंने अपने केरल फैन्स के लिए खुद का नाम 'मल्लू अर्जुन' रख लिया। वह एकमात्र टॉलीवुड अभिनेता हैं जिनकी हर फिल्म मलयालम में डब की जाती है। केवल इतना ही नहीं कि उनकी प्रसिद्ध फिल्म आर्य 2 सिनेमाघरों में सीधे 100 दिनों के लिए खेली गई थी।

4. फेसबुक फैंस - अल्लू अर्जुन की फैन फॉलोइंग खत्म नहीं हुई है, उनके फेसबुक पेज पर 7 मिलियन से अधिक हिट हैं जिसने उन्हें टॉलीवुड उद्योग में फेसबुक का सबसे अधिक पसंद किया जाने वाला स्टार बनाया और उन्हें 'स्टाइलिश स्टार' का खिताब भी दिलाया।

5. फोटोग्राफी - ऐसे कई तरीके हैं जिनसे कोई भी आराम महसूस करता है या खुद को तनाव में रख सकता है, अल्लू अर्जुन फोटोग्राफी पसंद करते हैं। उसके लिए, फोटोग्राफी खुद को व्यक्त करने के लिए एक माध्यम के रूप में कार्य करती है। यह अच्छी तरह से कहा जाता है कि एक तस्वीर 1000 शब्दों और मिलियन यादों के लायक है जिसे शब्द व्यक्त नहीं कर सकते हैं। जानिए अगर आप आश्चर्यचकित हैं, तो आप उन तस्वीरों को कहां पा सकते हैं लेकिन अगली बार सौभाग्य से उन तस्वीरों को किसी भी सोशल मीडिया नेटवर्क पर साझा नहीं किया जाएगा।

6. राजदूत - अल्लू अर्जुन टॉलीवुड इंडस्ट्री में 'बन्नी' के नाम से मशहूर हैं, उनकी पसंदीदा फिल्म 'इंद्र' है, जिसे उन्होंने 15 बार थिएटर में देखा है, वे 7 टॉप, क्लोज-अप जैसी कई टॉप ब्रांड्स और कंपनियों के ब्रांड एंबेसडर भी हैं। जॉय अल लुकास, लॉट मोबाइल्स, ओएलएक्स, हीरो, मोटो कॉर्प और कोलगेट।

7. लव टूवार्ड्स नेशन - वह किसी भी तरह से राष्ट्र के प्रति अपने प्रेम और अपने कर्तव्यों का प्रदर्शन करता है। उसने 'मैं वह परिवर्तन हूँ' नाम की एक लघु फिल्म भी की है, जिसमें दर्शाया गया है कि थोड़ा परिवर्तन वह सब है जो दुनिया को एक बेहतर जगह बनाने के लिए आवश्यक है और एक महान कारण के लिए विभिन्न सामाजिक जागरूकता गतिविधियों में भाग लेता है।

8. बाल कलाकार - अल्लू अर्जुन ने बाल कलाकार के रूप में इंडस्ट्री में प्रवेश किया; उन्होंने चिरंजीवी की फिल्म विजयेता में अपना पहला डेब्यू किया और यह फिल्म उस समय की सफलता थी।

9. अतिथि नर्तक - इतना ही नहीं, जड़ों के आदमी अल्लू अर्जुन ने हमेशा चिरंजीवी की मूर्ति बनाई थी और अपनी फिल्म के लिए एक अतिथि नर्तक का प्रदर्शन भी किया था।

10. जिमनास्टिक - कभी सोचा है कि उनके डांस मूव्स इतने लचीले और परफेक्ट कैसे होते हैं, अच्छी तरह से उन्होंने खुलासा किया कि वह बहुत कम उम्र से जिम्नास्टिक सीख रहे हैं जो उनके शरीर के लचीलेपन को बढ़ावा देता है और नतीजा यह है कि वे डांस मूव्स करते हैं, उनकी मेहनत को अच्छी तरह से भुगतान मिला है।

भारतीय फ़िल्म अभिनेत्री अनुष्का शेट्टी के बारे में कुछ कम ज्ञात तथ्य हैं?

नमस्कार दोस्तो स्वागत है आप सभी का हमारे आज की इस पोस्ट में आज हम बात कर रहे हैं साउथ अभिनेत्री अनुष्का शेट्टी के बारे में जिन्होंने बॉलीवुड़ की कई सुपरहिट फिल्मों में अभिनय किया है। अनुष्का शेट्टी बहुत विनम्र हैं और एक साधारण जीवन जीती हैं। वह सभी हासिल करने के बावजूद काफी नम्र महिला हैं। खूबसूरत अभिनेत्री ने सफलता को कभी अपने सिर पर नहीं आने दिया। वह सुंदर, चुलबुली और स्मार्ट है। अपने विनम्र रवैये के कारण, वह तेलुगु फिल्म उद्योग में सबसे सम्मानित अभिनेत्रियों में से एक बन गई है।


There-are-some-lesser-known-facts-about-Indian-film-actress-Anushka-Shetty
एक जातीय तुलु परिवार से आते हुए, अनुष्का ने प्रसिद्ध निर्देशक पुरी जगन्नाथ द्वारा आयोजित एक ऑडिशन में चुने जाने से पहले अभिनेता बनने का सपना नहीं देखा था ।

2. उन्होंने माउंट कार्मल कॉलेज, बैंगलोर से स्नातक किया , जिसमें दीपिका पादुकोण, अनुष्का शर्मा और ममता मोहनदास जैसे सितारों ने अध्ययन किया है।

3. अपने कॉलेज के दिनों के दौरान, वह ' तपस्या ' नामक एक ध्यान कार्यशाला के लिए भरत ठाकुर से मिलीं । हालांकि उन्हें कार्यशाला करने में कोई दिलचस्पी नहीं थी, लेकिन उन्होंने अपने पिता ए.एन. विट्टल शेट्टी के लिए सत्र में भाग लिया ।

4. अपनी स्नातक स्तर की पढ़ाई के बाद, वह तीसरी कक्षा के बच्चों को पढ़ाती थी।

5. वह मुंबई में योग सत्र आयोजित करती थी । उसे लगता है कि यह उसके जीवन का सबसे यादगार दौर था जब उसने योग सिखाने का फैसला लिया।

6. निर्देशक मेहर रमेश ने उन्हें देखा और पुरी जगन्नाथ को उनकी आगामी फिल्म ' सुपर ' (2005) के लिए अक्कीनेनी नागार्जुन के साथ काम करने का सुझाव दिया । 

वह फिल्म की दो प्रमुख महिलाओं में से एक थीं और उन्हें सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री - तेलुगु के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार के लिए नामांकित किया गया था ।

7. ' विक्रमारकुडु ' के रिलीज़ होने के बाद , उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और उन्होंने कई हिट फ़िल्मों में अभिनय किया, जैसे ' लक्ष्मण', 'डॉन', 'स्वगतम', ' सूर्यम ' , और ' चिन्तकयला राव ' के साथ एक बड़ी एकल सफलता मिली है मील का पत्थर फिल्म ' अरुंधति '।

8. पर 5 फीट 9 इंच , अनुष्का शेट्टी की सबसे ऊंची अभिनेत्री है टॉलीवुड । भव्य योग शिक्षक और अभिनेत्री ने अब तक 32 से अधिक फिल्मों में अभिनय किया है।

9. अनुष्का शेट्टी का असली नाम स्वीटी है । जब भी हर कोई अपनी पहली फिल्म ' सुपर ' के सेट में अपनी स्वीटी को बुला रहा था, तो वह शर्मिंदा महसूस कर रही थी । ढेर सारी किताबों और उपन्यासों का जिक्र करने के बाद, उन्होंने फ्लश करके अपना नाम अनुष्का शेट्टी रख लिया।

10. उसकी मातृभाषा तुलु है । वह अपनी मां के साथ बात करते हैं तुलु और में अंग्रेजी उसके पिता और भाइयों के साथ।

11. अनुष्का को अपनी स्क्रैपबुक के लिए प्राकृतिक आपदाओं से संबंधित समाचार पत्र एकत्र करने की आदत है और अंग्रेजी में कविताएं लिखना पसंद करती हैं क्योंकि उनकी मातृभाषा तुलु में कोई स्क्रिप्ट नहीं है।

12. वह टॉलीवुड में एकमात्र ऐसी अभिनेत्री हैं, जिनकी किटी में सबसे अधिक पुरस्कार हैं।

सलमान खान द्वारा लॉन्च किए गए सभी अभिनेता और अभिनेत्रियां इतनी बुरी तरह असफल क्यों हुए?

नमस्कार दोस्तो स्वागत है आपका हमारे आज के इस पोस्ट में । दोस्तो सलमान खान बॉलीवुड़ के सबसे बड़े अभिनेताओं में से एक हैं और उनकी फिल्मों में काफी बड़ी लोकप्रियता है। उन्होंने पिछले कुछ वर्षों में कई ब्लॉकबस्टर दिए हैं। उनकी एक डाई हार्ड फैन फॉलोइंग है। उनकी सबसे खराब प्रदर्शन वाली फिल्में एक आसान 100 करोड़ की कमाई करती हैं ( रेस 3 ने केवल 13 दिनों में घरेलू स्तर पर 170 करोड़ की कमाई की और हमें विवरण में जाने की जरूरत नहीं है कि फिल्म 'रेस 3' कितनी अच्छी थी, अच्छी तरह से यह ऑस्कर की हकदार थी, लेकिन लानत है, यह यह याद किया !!) सलमान खान वह आदमी है जिसने मुखर किया है और एक उदाहरण स्थापित किया है कि आपको जीवित रहने के लिए अभिनय कौशल की आवश्यकता नहीं है , आपको बस जनता की इच्छा के अनुसार खुद को प्रस्तुत करना होगा।

Why-did-all-the-actors-and-actresses-launched-by-Salman-Khan-fail-so-badly

लेकिन वहां, फिल्म उद्योग में केवल पैसा और शक्ति मदद नहीं करता है , बॉलीवुड में जीवित रहने के लिए आपको आवश्यक कौशल होना चाहिए (यदि हम अपने प्रिय भाई का उदाहरण लेते हैं तो यह थोड़ा विरोधाभासी लग सकता है।) उदाहरण के लिए, सलमान खान के बहनोई आयुष शर्मा को हर संभव तरीके से प्रस्तुत किया गया और प्रचारित किया गया, सलमान खान ने आयुष शर्मा को सफलतापूर्वक लॉन्च करने के लिए सब कुछ किया, लेकिन व्यर्थ में, लव यात्री (आयुष शर्मा की पहली फिल्म) रिलीज़ हुई और गिरावट आई थी। 


लेकिन, हम इस बात से इंकार नहीं कर सकते हैं कि सलमान खान द्वारा लॉन्च किए गए सभी पूर्ण फैस्को नहीं थे। ठीक है, वे सुपर-सक्सेसफुल नहीं थे या फिर भी मामूली सफल थे। एक उदाहरण के लिए, कैटरीना कैफ (अपने अभिनय कौशल के लिए अच्छी तरह से बंद ), अर्जुन कपूर या जैकलीन फर्नांडीस (हालांकि वह सलमान द्वारा लॉन्च नहीं किया गया था, 2014 में किक के बाद उनका करियर उच्च स्तर पर था)।

तड़ीपार फ़िल्म से जुड़ी 5 अनसुनी बातें आप शायद नही जानते होंगे

तड़ीपार फ़िल्म से जुड़ी 5 अनसुनी बातें आप शायद नही जानते होंगेनमस्कार दोस्तो स्वागत है आप सभी का एक बार फिर से हमारे आज के इस लेख में आज हम बात कर रहे हैं। बॉलीवुड़ के दादा यानी कि मिथुन चक्रवर्ती के बारे में जिन्होंने बॉलीवुड़ की एक से बढ़कर एक सुपरहिट फिल्मों में काम किया और लोगों के दिलों में अपनी एक खास पहचान बनाई है। दोस्तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आज हम आपको मिथुन चक्रवर्ती की फ़िल्म तड़ीपार से जुड़ी 5 रोचक बातों के बारे में बताने वाले हैं तो चलिए शुरू करते हैं आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मिथुन चक्रवर्ती की यह फ़िल्म सिनेमाघरों में 17 दिसम्बर साल 1993 में रिलीज़ हुई थी। इस फ़िल्म का निर्देशन महेश भट्ट ने किया था। और फ़िल्म में संगीत नदीम श्रवण और नदीम सैफी ने दिया था। इस फ़िल्म में मिथुन चक्रवर्ती, जूही चावला और पूजा भट्ट लीड रोल में नजर आई थी। यह फ़िल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट साबित हुई थी।

  

दोस्तो मिथुन चक्रवर्ती की फ़िल्म ताड़ीपर जिस दिन रिलीज हुई थी उसी दिन उनकी फिल्म शतरंज भी रिलीज़ हुईं थी लेकिन शतरंज़ बोक्स ऑफिस पर हिट हुई थी और तड़ीपार औसत साबित हुई थी। चलिए दोस्तो अब जानते हैं फ़िल्म से जुड़ी 5 अनसुनी बातों के बारे में। 

2) अक्षय कुमार को फ़िल्म में एक विशेष उपस्थिति के लिए साइन किया गया था लेकिन बाद में किसी अज्ञात कारण के चलते उन्हें फ़िल्म से निकाल दिया गया था।


3) मिथुन चक्रवर्ती की फ़िल्म निर्देशक महेश भट्ट के साथ पहली फिल्म थी। हालांकि महेश भट्ट ने इससे पहले भी मिथुन चक्रवर्ती को कई फिल्मो के ऑफर दिए थे लेकिन मिथुन ने फिल्मों को करने से मना कर दिया था
4) यह फ़िल्म बोक्स ऑफिस पर औसत कमाई कर पाई थी लेकिन इसके गीत सुपरहिट साबित हुए थे।


5) यह साल 1953 की रोमन हॉलिडे नामक फ़िल्म की रीमेक थी। दोस्तो आपको इस फ़िल्म से जुड़ी कौन सी बात सवसे दिलचस्प लगी कमेंट करके हमे कमेंट बॉक्स में अपनी महत्वपूर्ण राय जरूर बताएं और पोस्ट पसंद आई हो तो पोस्ट को लाइक और अपने दोस्तो के साथ शेयर करें धन्यवाद।

सलमान खान के साथ फिल्म में काम करने से मना करने वाली कौन सी अभिनेत्रियां है?

सलमान खान के साथ फिल्म में काम करने से मना करने वाली कौन सी अभिनेत्रियां है?नमस्कार दोस्तो स्वागत है आप सभी का हमारी आज की इस पोस्ट में दोस्तो बॉलीवुड़ में कई अभिनेत्रियां है जिन्होंने बॉलीवुड़ के लगभग कई बड़े सितारों के साथ काम किया है। लेकिन आज के इस पोस्ट में हम आपको उन बॉलीवुड़ अभिनेत्रियां के बारे में बताने वाले हैं जो सलमान खान के साथ फ़िल्म में काम करने से मना कर चुकी हैं। तो चलिए जानते हैं। 


 

1. ट्विंकल खन्ना - फिल्म " जब प्यार किसी से होता है" के बाद ट्विंकल स्क्रिप्ट से खफा हो गईं और उन्होंने सलमान खान के सामने आने वाली फिल्म के ऑफर को ठुकरा दिया।

2. दीपिका पादुकोण - उन्होंने कई हिट फिल्में दी हैं। दीपिका ने लगभग 5 फिल्में ठुकरा दी हैं, जिसमें उन्हें सलमान खान के साथ काम करना था। हालांकि अभिनेत्री ने कभी आधिकारिक बयान नहीं दिया, लेकिन यह अफवाह है कि सलमान खान ने दीपिका के पति रणवीर सिंह का मजाक उड़ाया। यही कारण है कि दीपिका सलमान खान के साथ काम करने के लिए उत्सुक नहीं हैं।

3. सोनाली बेंद्रे - दरअसल, सलमान खान और सोनाली बेंद्रे ने एक साथ तीन फिल्में की हैं, लेकिन 2000 की रिलीज 'हम साथ साथ हैं' के बाद उन्होंने कभी एक साथ स्क्रीन स्पेस साझा नहीं किया। सलमान पर ब्लैक बक अवैध शिकार मामले का आरोप था। यह घटना राजस्थान में हुई थी जहाँ पूरी कास्ट फिल्म हम साथ साथ हैं की शूटिंग कर रही थी। हाल ही में, उन्हें सभी आरोपों से बरी कर दिया गया था।

4. अमीषा पटेल - अमीषा पटेल ने सलमान खान के साथ 'ये है जलवा' नामक एक फिल्म की, जिसने बॉक्स ऑफिस पर धूम मचाई। यही कारण है कि दोनों ने फिर कभी साथ काम नहीं किया।

5. कंगना रनौत - कंगना रनौत बॉलीवुड की उन अभिनेत्रियों में से एक हैं जो अपने दम पर हिट फिल्में देने की क्षमता रखती हैं। सलमान खान एक अभिनेता के रूप में बहुत लोकप्रिय हैं, जो अपनी फिल्मों में किसी और की देखरेख करते हैं। इसके अलावा, कंगना को लगता है कि सलमान की फिल्मों में अभिनेत्रियों को कोई श्रेय नहीं दिया जाता है, इस वजह से कंगना सलमान के साथ काम करने की इच्छुक नहीं हैं। करण के साथ विवादास्पद शो कोफी में, उन्होंने कहा कि वह अपनी आगामी परियोजनाओं में किसी भी खान के अभिनेता के साथ काम करना पसंद नहीं करेंगी।

6. उर्मिला मातोंडकर - सलमान और उर्मिला की फिल्म जानम समझौता करो ’ने अपनी खराब पटकथा और आलसी लेखन के कारण बॉक्स ऑफिस पर धूम मचाई।यह फिल्म प्रशंसकों के साथ-साथ आलोचकों को भी प्रभावित करने में विफल रही। जबकि सलमान ने उद्योग में काम करना जारी रखा, उर्मिला मातोंडकर ने खुद को उद्योग में सीमित कर लिया और स्क्रिप्ट के साथ चयनकर्ता बन गईं। बाद में, उन्हें सलमान खान के विपरीत फिल्में ऑफर की गईं, जिन्हें उन्होंने यह कहते हुए अस्वीकार कर दिया कि वह स्क्रिप्ट से नहीं जुड़ी थीं।

7. ऐश्वर्या राय बच्चन - इस सूची में ऐश्वर्या राय बच्चन का नाम देखकर कोई आश्चर्य नहीं हुआ क्योंकि यह सबसे अपेक्षित प्रविष्टि है। यह सब 1999 में 'हम दिल दे चुके सनम' के सेट पर शुरू हुआ था। यह कुछ वर्षों के लिए ठीक था, लेकिन बाद में सलमान उसके बारे में चिंतित हो गए।सलमान ने अपने हिंसक व्यवहार को दिखाना शुरू कर दिया और एक अपमानजनक और ढीठ प्रेमी के रूप में बदल गया। यह जोड़ी लगातार झगड़े के दौर से गुजरी और टूट गई। सलमान ने वास्तव में ऐश्वर्या राय बच्चन के व्यक्तिगत और पेशेवर जीवन में अराजकता पैदा की क्योंकि उन्होंने ऐश्वर्या के कई शूटिंग शेड्यूल में गड़बड़ी की है।मिसाल के तौर पर, ऐश्वर्या ने शाहरुख खान के सामने फिल्म चलते चलते खो दी क्योंकि सलमान सेट पर आते थे और समस्याएं पैदा करते थे। बाद में, ऐश ने कई प्रस्तावों को ठुकरा दिया, जिसमें उन्हें सलमान खान के साथ काम करना था।

शोले फिल्म बनाने में कितना खर्च हुआ था और कितनी कमाई की थी?

शोले 1975 की एक भारतीय हिन्दी एक्शन फिल्म है। सलीम-जावेद द्वारा लिखी इस फिल्म का निर्माण गोपाल दास सिप्पी ने और निर्देशन का कार्य, उनके पुत्र रमेश सिप्पी ने किया है। इसकी कहानी जय (अमिताभ बच्चन) और वीरू (धर्मेन्द्र) नामक दो अपराधियों पर केन्द्रित है, जिन्हें डाकू गब्बर सिंह (अमजद ख़ान) से बदला लेने के लिए पूर्व पुलिस अधिकारी ठाकुर बलदेव सिंह (संजीव कुमार) अपने गाँव लाता है। जया भादुरी और हेमा मालिनी ने भी फ़िल्म में मुख्य भूमिकाऐं निभाई हैं। शोले को भारतीय सिनेमा की सर्वश्रेष्ठ फिल्मों में से एक माना जाता है। 

How-much-was-spent-in-making-Sholay-film-and-how-much-was-earned

शोले फिल्म 15 अगस्त 1975 में रीलीज हुई थी । इस फिल्म का बजट 30 मिलियन यानि 300 लाख रूपए था । यह उस समय का सबसे हाई बजट फ़िल्म थी। इस फ़िल्म की भारत में आमदानी कुल 350 मिलियन यानी 35 करोड़ थी और सोवियत यूनियन में 60 मिलियन कमाई हुई थी । आश्चर्य की बात यह है कि जब यह फ़िल्म रिलीज़ हुई थी तब उससे नेगेटिव फीडबैक मिले थे । फ़िल्म क्रटिक्स ने इससे पसंद नहीं किया था। बीबी सी इंडिया ने 1999 में इस फिल्म को फिल्म ऑफ दी मिलेनियम घोषित किया था । हालांकि आज की तारीख के हिसाब से फिल्म की कुल कमाई फिल्म की औसत टिकट की कीमत के हिसाब से तय की जा सकती है, जिस साल फिल्म को रिलीज किया गया था, ताकि हम उस अनुमानित संख्या में टिकट प्राप्त कर सकें, जिसे फिल्म फिर से बेचने में कामयाब रही। और समायोजित किए गए आंकड़े तब औसत वर्तमान टिकट की कीमतों के साथ बेचे जाने वाले टिकटों की संख्या को गुणा करके निर्धारित किए जा सकते हैं। 



भारत में, बाहुबली: द कन्क्लूजन (हिंदी, तमिल और तेलुगु) इस समय सबसे ज्यादा कमाई करने वाली भारतीय फिल्म है, लेकिन जब इसे मुद्रास्फीति के खिलाफ समायोजित किया जाता है, तो समीकरण प्रमुख रूप से बदल जाता है। उस हिसाब से एक नंबर पर 1960 में बनाई गई मुगल-ए-आज़म (2,000 करोड़) के बाद नंबर दो पर नरगिस और सुनील दत्त-स्टारर मदर इंडिया (1,600 करोड़) और तीसरे नंबर पर रमेश सिप्पी की शोले है, जिसमें 1,500 करोड़ रुपये हैं। बाहुबली: द कन्क्लूजन, हिंदी, तमिल और तेलुगु में एक साथ रिलीज़ हुई, इस तरह यह संग्रह में 1,429 रुपये से अधिक के साथ, अब तक का चौथा सबसे बड़ा ग्रॉसर बन जाएगा।

प्रसिद्ध भारतीय सितारों को उनकी बायोपिक्स के लिए कितना भुगतान मिलता है? जानिए


नमस्कार दोस्तो स्वागत है आप सभी का हमारे आज की इस पोस्ट में दोस्तो जैसा कि आप सभी को पता ही होगा कि बॉलीवुड में कई महान हस्तियों के आए दिन बायोपिक फ़िल्म बनने की घोषणा होती रहती है। ऐसे में आज हम आपको कुछ महान हस्तियों के बारे में बताएंगे जिनके ऊपर उनकी बायोपिक बन चुकी हैं। और इसके लिए उन्हें कितना भुगतान मिला है उसके बारे में बताने वाले हैं। तो चलिए शुरू करते हैं।


1- मैरी कॉम - बॉक्सर मैरी कॉम को स्क्रीन पर अपनी कहानी को प्रस्तुत करने के लिए 25 लाख का भुगतान किया गया था। हालाँकि, विडंबना यह है कि प्रियंका चोपड़ा अभिनीत फिल्म ने दुनिया भर से 100 करोड़ की कमाई की, जो शायद कोम की पूरी जिंदगी की कमाई से कहीं अधिक है।



2- मिल्खा सिंह - फरहान अख्तर ने अपनी बायोपिक भाग मिल्खा भाग में मिल्खा सिंह की भूमिका निभाई। मिल्खा सिंह ने सेल्यूलाइड पर अपनी जीवन कहानी के अनुवाद के लिए केवल ₹ 1 को स्वीकार किया और यह निश्चित रूप से उनकी दयालुता को दर्शाता है।
c

3- सचिन तेंदुलकर - हालांकि आधिकारिक तौर पर कुछ भी उल्लेख नहीं किया गया था, लेकिन सूत्रों का कहना है कि सचिन ने निर्माताओं पर अपनी बायोपिक वृत्तचित्र बनाने की अनुमति देने के लिए लगभग 40 करोड़ रुपये का आरोप लगाया। एक बिलियन ड्रीम्स ने अपनी रिलीज़ के पहले दो दिनों में ₹ 17 करोड़ कमाए।

4- महेंद्र सिंह धोनी - कैप्टन कूल ऑफ इंडिया ने जाहिर तौर पर निर्माताओं से 60 करोड़ रुपये वसूले, ताकि उन्हें स्क्रीन पर अपनी कहानी दिखाई जा सके।



 

5 - अजहर - यह काफी आश्चर्यजनक है कि क्रिकेटर ने इसके लिए एक पैसा भी नहीं लिया, लेकिन जिसने भी फिल्म देखी है, वह इस बात की कसम खा सकता है कि वे बहुत हद तक अपनी छवि को साफ करने की कोशिश करते हैं और मैच फिक्सिंग कांड में अपनी बेगुनाही साबित करते हैं। का एक हिस्सा था।

बॉलीवुड में सबसे अधिक शिक्षित अभिनेत्री कौन है?

most educated actress in bollywood नमस्कार दोस्तो स्वागत है एक बार फिर आप सभी का हमारे आज के इस पोस्ट में दोस्तो बॉलीवुड़ में कई अभिनेत्रियां मौजूद हैं। जो कि काफी खूबसूरत और हॉट नजर आती हैं। इनके पूरे भारत में लाखों चाहने वालों है। दोस्तो ऐसे में आज हम आपको बॉलीवुड़ की सबसे अधिक शिक्षित अभिनेत्रियों के बारे में बताने वाले हैं तो चलिए शुरू करते हैं। 


 

परिणीति चोपड़ा -

शीर्ष बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा की चचेरी बहन परिणीति चोपड़ा ने अपनी प्रतिभा और बौद्धिकता के माध्यम से उद्योग में अपनी अलग पहचान बनाई है, उन्होंने लेडीज बनाम रिकी बहल (2011) में सहायक भूमिका में अपनी शुरुआत की और उस भूमिका के लिए महत्वपूर्ण प्रशंसा प्राप्त की, जो उसके बाद की सराहना की इशाकजादे (2012), शुद्ध देसी रोमांस (2013), हसी तो फेज (2014), गोलमाल अगेन (2017) में मुख्य अभिनेत्री आपको विश्वास नहीं होगा कि ठीक अभिनेता मैनचेस्टर बिजनेस स्कूल, यूनाइटेड किंगडम से ट्रिपल सम्मान की डिग्री रखते हैं । परिणीति न केवल कुशल अभिनेता हैं, बल्कि बिजनेस, फाइनेंस और इकोनॉमिक्स में भी डिग्री हासिल की हैं। 


2. प्रीति जिंटा - प्रीति जिंटा

2000 की हिट लीड एक्ट्रेस प्रीति जिंटा ने एक रोमांटिक फिल्म दिल से (1998) से डेब्यू किया और तुरंत प्रसिद्धि हासिल की। सोल्जर (1998), चोरी चोरी चुपके चुपके (2001), कोई… मिल गया (2003), कल हो ना हो (2003), वीर-ज़ारा (2004) जैसी फिल्मों ने उन्हें बाद में एक बड़ा सितारा बना दिया। अगर हम उसकी शिक्षा के बारे में बात करते हैं, तो वह सेंट बेडेज़ कॉलेज से सम्मान के साथ अंग्रेजी में स्नातक की डिग्री और आपराधिक मनोविज्ञान में मास्टर डिग्री प्राप्त करती है।


3. सोहा अली खान -

दोस्तो सोहा एक प्रसिद्ध पृष्ठभूमि से ताल्लुक रखती हैं, उनके पिता मंसूर अली खान पटौदी एक शीर्ष भारतीय क्रिकेटर थे, माँ शर्मिला टैगोर एक प्रसिद्ध अभिनेत्री हैं और बड़े भाई सैफ अली खान एक लोकप्रिय अभिनेता हैं, लेकिन वह अपनी चयनात्मक लेखन और बौद्धिकता के लिए सबसे ज्यादा जानी जाती हैं, उन्होंने 2017 में उनकी पुस्तक द पेरिल्स ऑफ बीइंग मॉडरेटली फेमस हुई। सोहा अली खान ने बॉलिऑल कॉलेज, ऑक्सफोर्ड से स्नातक की उपाधि प्राप्त की, जहां उन्होंने आधुनिक इतिहास में स्नातक की डिग्री हासिल की, वह यहां नहीं रुकी और बाद में लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स एंड पॉलिटिकल साइंस से अंतर्राष्ट्रीय संबंधों में मास्टर डिग्री प्राप्त की।


4. विद्या बालन -

हमारे समय की बेहतरीन अभिनेत्रियों में से एक, विद्या बालन भी भारत भर में सबसे अधिक शिक्षित अभिनेत्रियों में से एक हैं। उन्होंने 2005 में बॉलीवुड में पदार्पण किया, परिणीता में भूमिका के लिए महत्वपूर्ण प्रशंसा प्राप्त की और बॉलीवुड में अपने सफल करियर की स्थापना की, जो पा (2011), इश्किया (2011), द डर्टी पिक्चर (2012), कहानी (2013), तुम्हारी सुलु के लिए जानी जाती है। (2017)। नेशनल और पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित विद्या ने सेंट जेवियर, मुंबई से समाजशास्त्र में डिग्री हासिल की और मुंबई विश्वविद्यालय से पोस्ट-ग्रेजुएशन पूरा किया। बॉलीवुड में अपने सफल करियर के अलावा, वह उच्च शिक्षित अभिनेत्री भी हैं।


5- अमीषा पटेल -

अमीषा पटेल एक राजनीतिक पारिवारिक पृष्ठभूमि से ताल्लुक रखती हैं लेकिन उन्होंने बॉलीवुड में अपनी एक विशिष्ट पहचान बनाई है। उन्होंने रोमांटिक ड्रामा कहो ना ... प्यार है (2000) के जरिए शुरुआत की, जिसे दर्शकों ने पसंद किया और उसके बाद गदर: एक प्रेम कथा (2001), हमराज (2002) जैसी हिट फिल्मों में काम किया। बॉलीवुड में प्रवेश करने के बाद, उन्होंने शिक्षा नहीं छोड़ी और अमेरिका के मेडफोर्ड, मैसाचुसेट्स में टफ्ट्स विश्वविद्यालय से स्वर्ण पदक के साथ स्नातक की उपाधि प्राप्त की

ट्वीटर पर 30 दिन देखिए काशी की पूरी रामलीला

काशी की रामलीला दुनिया भर में मशहूर है। लेकिन इस साल कोरोना वायरस के कारण यहां की विश्व प्रसिद्ध और विश्वस्तरीय रामलीला नहीं हो पाएगी परन्तु रामभक्तों को निराश होने की आवश्यकता नहीं है।

Watch-Kashi-entire-Ramlila-on-Twitter-for-30-days

अब वे डिजिटल रामलीला देख सकेंगे। इसे लगातार 30 दिन देख पाएंगे। प्रतिदिन 2 मिनट 30 सेकेंड के एपिसोड में प्रत्येक प्रसंग को दर्शाया जाएगा। इस तरह सिर्फ 1 घन्टा 10 मिनट में सम्पूर्ण रामायण प्रसारित हो जाएगी।

काशी घाट वाक के ट्वीटर हैंडल पर रामलीला का प्रसारण पहली अक्टूबर से 30 अक्टूबर तक किया जाएगा। डिजिटल प्लेटफार्म पर प्रसारण के लिए रामलीला की रिकॉर्डिंग शुरू हो चुकी है। काशी घाट वाक के प्रणेता और बीएचयू के न्यूरोलॉजिस्ट प्रो. वीएन मिश्रा ने बताया कि रामलीला का क्रम रामनगर की रामलीला के आधार पर निर्धारित किया गया है। वीडियो में दिखने वाले पात्र लुगदी से बने मुखौटे धारण किए मिलेंगे।

विदेशों में रामलीला करने वाले कलाकारों को भेजने के लिए मुखौटों के 35 सेट तैयार कर लिए गए हैं। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की खुशी में विदेशी रामलीला कलाकारों को भेंट करने के लिए बनाए गए रामलीला के मुखौटे सबसे पहले काशी विश्वनाथ मंदिर में अर्पित किए जाएंगे। पहली खेप जिन देशों को भेजी जाएगी उनमें अमेरिका , इंग्लैंड , ऑस्ट्रेलिया , जापान , रूस , थाईलैंड आदि शामिल हैं।

सुशांत सिंह राजपूत Murder Case में रिया चक्रवर्ती लैपटॉप और मोबाइल फोन दे रही है गवाही, इस तरह होती थी इन ड्रग्स पैडलर से बातचीत

एक लंबे समय के बाद बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के फैंस के बीच खुशी की लहर दौड़ पड़ी है, दरअसल बात ही ऐसी है कि जो भी यह खबर सुन रहा है वह खुश हो जा रहा है । सुशांत सिंह राजपूत की गर्लफ्रेंड या चक्रवर्ती लगातार कई दिनों तक सीबीआई साथ पूछताछ में शामिल रही हैं, और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने रिया से लगातार कई बार पूछताछ की।


कुछ दिन चले पूछताछ के बाद रिया चक्रवर्ती को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने अपनी गिरफ्त में ले लिया, इसके बाद रिया चक्रवर्ती में अब तक 3 लोगों का नाम एनसीबी को बताया है जो कि ड्रग्स के मामले से जुड़ा हुआ है,वहीं दूसरी तरफ आज एनसीबी रिया के घर पर जांच पड़ताल करने पहुंची थी ।


इस दौरान एनसीबी के हाथ मोबाइल फोन और लैपटॉप लगा है, हालांकि यह मोबाइल फोन रिया चक्रवर्ती इस्तेमाल करती थी, इस मोबाइल फोन के जरिए रिया व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़ी थी जहां वह ड्रग्स से जुड़े बातचीत किया करती थी । हालांकि चौंकाने वाला बात यह है कि, वह मोबाइल फोन रिया चक्रवर्ती की नहीं है बल्कि वह अपनी मां के मोबाइल फोन से ड्रग्स पैडलर से बातचीत किया करती थी।

टेलीविजन इंडस्ट्री अदाकारा सोनारिका भदोरिया के तस्वीरों को देखकर उड़ गए उनके फैंस के होश

Actor Sonarika Bhadoria Photos
Actor Sonarika Bhadoria Photos- टेलीविजन इंडस्ट्री अदाकारा सोनारिका भदोरिया भले ही सीरियल “देवों के देव महादेव” से लाइमलाइट बटोर कर विख्यात हुई है ।
Actor Sonarika Bhadoria Photos

अब सोनारिका अपनी हॉटनेस के कारण टेलीविजन इंडस्ट्री में काफी लोकप्रिय हो गई हैं,और यही कारण है कि उनके टेलीविजन इंडस्ट्री में कम काम के बाद भी सोशल मीडिया पर बहुत बड़ी फैन फॉलोइंग है ।
Actor Sonarika Bhadoria Photos
सोनारिका की हर एक तस्वीर फैंस बेहद पसंद करते हैं, हर एक तस्वीर तारीफ के काबिल होती है ।

जया बच्चन ने रवि किशन को ललकारा, कहा- जिस थाली में खाते हैं उसमें छेद नहीं कर सकते

Jaya Bachchan challenged Ravi Kishanसंसद के मानसून सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को पहली शिफ्ट में राज्यसभा की कार्यवाही शुरू हुई। इस दौरान समाजवादी पार्टी की सांसद जया बच्चन ने अभिनेता सुशांत सिंह की मौत के बाद उठे विवाद पर भाजपा सांसद रवि किशन पर हमलावर दिखी। उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री को बदनाम करने की कथित साजिश को लेकर राज्यसभा में शून्यकाल नोटिस दिया है।


जया बच्चन ने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री में नाम कमाने वाले उसी को गटर कह रहे हैं। मुझे उम्मीद है कि सरकार ऐसे लोगों से कहे कि वे इस तरह की भाषा का इस्तेमाल नहीं करें।

जया बच्चन ने कहा कि कुछ लोगों की वजह से आप पूरे उद्योग की छवि को धूमिल नहीं कर सकते। मुझे शर्म आती है कि कल लोकसभा में हमारे एक सदस्य, जो फिल्म उद्योग से हैं, उन्होंने इसके खिलाफ बोला। यह शर्मनाक है। आप जिस थाली में खाते हैं उसी में छेद नहीं कर सकते हैं।


दरअसल, सोमवार को भाजपा सांसद रवि किशन ने लोकसभा में ड्रग्स और बॉलीवुड कनेक्शन का मुद्दा उठाया था। उन्होंने कहा शून्यकाल के दौरान कहा कि पाकिस्तान और चीन से ड्रग्स की तस्करी हो रही है। यह देश की युवा पीढ़ी को बर्बाद करने की साजिश है। उन्होंने कहा कि हमारे फिल्म उद्योग में इसकी पैठ हो चुकी है और एनसीबी इसकी जांच कर रही है। उन्होंने कहा कि मेरी मांग है कि इस मामले में सख्त कार्रवाई की जाए।
चीन सीमा विवाद पर राजनाथ बयान दे सकते हैं

उधर, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह चीन से सीमा विवाद के मुद्दे पर आज लोकसभा में बयान दे सकते हैं। विपक्ष इस मामले में बहस की मांग भी कर रहा है। लद्दाख में चीन से निपटने के तरीके, कोरोना की स्थिति, अर्थव्यवस्था में गिरावट और बेरोजगारी के मुद्दों पर विपक्षी दल सरकार को घेरने की कोशिश करेंगे।


राज्यसभा की कार्यवाही 9 बजे से शुरू हो गई, जो दोपहर 1 बजे तक चलेगी। लोकसभा 3 बजे से शुरू होकर शाम 7 बजे तक चलेगी। सत्र के पहले दिन यानी सोमवार को राज्यसभा पहली शिफ्ट में, जबकि लोकसभा दूसरी शिफ्ट में चली थी।

दोपहर बाद बिजनेस एडवाइजरी कमेटी की बैठक होगी


सत्र शुरू होने से पहले रविवार को हुई संसद की बिजनेस एडवाइजरी कमेटी (BAC) की पहली बैठक में कांग्रेस समेत दूसरे विपक्षी दलों ने चीन और अर्थव्यवस्था के मुद्दों पर बहस करवाने की मांग रखी थी। लेकिन, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने इसके लिए कोई समय तय नहीं किया। आज दोपहर बाद फिर से BAC की मीटिंग होगी। इसमें मानसून सत्र के पहले हफ्ते के शेड्यूल पर चर्चा की जाएगी।

जया बच्चन के वार पर रवि किशन का पलटवार – इंडस्ट्री में जितना हक उनका, उतना मेरा भी है

Ravi-Kishan-counterattacked-on-Jaya-Bachchan-blowsअभिनेता सुशांत सिंह की मौत के मामले को लेकर उठा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। ड्रग पैडलर्स की बॉलीवुड में पैठ और कंगना रानाउत विवाद के बाद अब सपा सांसद व अभिनेत्री जया बच्चन और भोजपुरी फिल्म स्टार व भाजपा सांसद रवि किशन के बीच संसद में बयान को लेकर विवाद छिड़ गया है। दोनों अभिनेताओं ने एक दूसरे पर कटाक्ष किया है। माना जा रहा है कि संसद के भीतर से उठा विवाद बॉलीवुड में भी अपना करामाती असर जरूर दिखाएगा।


जया बच्चन के राज्यसभा में दिए बयान पर भाजपा सांसद रवि किशन

मुझे जया जी से ये उम्मीद नहीं थी। मुझे लगा था कि मेरे कल के व्यक्तव्य पर जया जी आज समर्थन देंगी या तो उन्होंने मेरी बात सुनी ही नहीं। उनकी पार्टी अलग है, उनकी विचारधारा अलग है।

रवि किशन ने कहा कि मेरी पार्टी भाजपा है, हमारी विचारधारा है गंदगी को देश से साफ करना। जितनी फिल्म इंडस्ट्री उनकी (जया बच्चन की) है उतना हक इस इंडस्ट्री पर मेरा भी है, मैं इंडस्ट्री को खोखला होने नहीं दूंगा भले मेरी जान चली जाए।


दरअसल, संसद के मानसून सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को पहली शिफ्ट में राज्यसभा की कार्यवाही शुरू हुई। इस दौरान समाजवादी पार्टी की सांसद जया बच्चन ने फिल्म इंडस्ट्री को बदनाम करने की कथित साजिश को लेकर राज्यसभा में शून्यकाल नोटिस दिया है। उन्होंने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री में नाम कमाने वाले उसी को गटर कह रहे हैं। मुझे उम्मीद है कि सरकार ऐसे लोगों से कहे कि वे इस तरह की भाषा का इस्तेमाल नहीं करें।


जया बच्चन ने कहा कि कुछ लोगों की वजह से आप पूरे उद्योग की छवि को धूमिल नहीं कर सकते। मुझे शर्म आती है कि कल लोकसभा में हमारे एक सदस्य, जो फिल्म उद्योग से हैं, उन्होंने इसके खिलाफ बोला। यह शर्मनाक है। आप जिस थाली में खाते हैं उसमें छेद नहीं कर सकते हैं।


दरअसल, सोमवार को भाजपा सांसद रवि किशन ने लोकसभा में ड्रग्स और बॉलीवुड कनेक्शन का मुद्दा उठाया था। उन्होंने कहा शून्यकाल के दौरान कहा कि पाकिस्तान और चीन से ड्रग्स की तस्करी हो रही है। यह देश की युवा पीढ़ी को बर्बाद करने की साजिश है। उन्होंने कहा कि हमारे फिल्म उद्योग में इसकी पैठ हो चुकी है और एनसीबी इसकी जांच कर रही है। उन्होंने कहा कि मेरी मांग है कि इस मामले में सख्त कार्रवाई की जाए।

फिल्म "कबीर सिंह" के बाद बदल गया है शाहिद कपूर का बॉलीवुड डिमांड, बड़े बैनर से ऑफर हो रही है फिल्में

बॉलीवुड में अगर किसी अभिनेता का फिल्म फ्लॉप हो जाए तो उनके हजार कोशिश के बाद भी उन्हें जल्दी किसी फिल्म में कास्ट नहीं किया जाता है । इस दौर से लगभग बालीवुड के हर एक अभिनेता और अभिनेत्री गुजरते हैं लेकिन अगर एक-दो फिल्म सुपरहिट हो जाए तो फिर हर किसी के लिए बड़े बैनर की फिल्म ऑफर होनी शुरू हो जाती है ।


इसका जीता जागता उदाहरण है बॉलीवुड अभिनेता शाहिद कपूर, साहित्य करियर में उन्होंने अधिकतर फ्लॉप फिल्में दिया है लेकिन फ़िल्म “कमीने” के बाद धीरे-धीरे शाहिद कपूर के करियर को नई ऊंचाई मिलने लगी और फिल्म कबीर सिंह के बाद शाहिद बॉलीवुड के “ए” एक्टर में आ गए हैं,इसके बाद शायद लोग कई बड़े बैनर से फिल्म ऑफर किया गया लेकिन अब अभिनेता बेहद ध्यान रखते हुए फिल्मों को चुन रहे हैं ।

आज फिर शाहिद कपूर ने एक नया फिल्म साइन किया है, ताजा खबरों की मानें तो पिंकविला को फिल्म से जुड़े एक सूत्र ने बताया है कि, ‘करण जौहर और शाहिद कपूर कुछ दिनों पहले मालदीव मिशन पर आधारित एक फिल्म पर काम कर रहे थे, जिसमें शाहिद कपूर ब्रिगेडियर फारुख का किरदार निभाते नजर आने वाले थे। हालांकि अब करण जौहर ने शाहिद कपूर को डायरेक्टर शशांक खैतान की फिल्म के लिए साइन किया है, जो कि एक एक्शन फ्लिक होगी। इस फिल्म का टाइटल योद्धा होगा। शाहिद कपूर इस फिल्म की शूटिंग अगले साल से शुरू करेंगे। इससे पहले वो जर्सी की शूटिंग पूरी करेंगे।’