BackToBollywood

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

Recent PostAll the recent news you need to know

मलाइका अरोड़ा ने कराया बेहद जबरदस्त फोटोशूट, वन शोल्डर गाउन में फ्लाॅन्ट की कर्वी बाॅडी

 
मलाइका अरोड़ा बी-टाउन की उन हसीनाओं में से एक हैं जो फिल्मों से दूर रहने के बावजूद लगातार चर्चा में बनी रहती हैं। 47 की उम्र में भी मल्ला अपने बोल्ड अवतार से  आज की नई एक्ट्रेस को टक्कर देती हैं। मलाइका नए- नए स्टाइल के लिए भी काफी चर्चाओं में रहती हैं।


मलाइका के नए- नए स्टाइल को उनके फैंस काफी पसंद करते हैं। हाल ही में एक बार फिर मलाइका ने अपने फोटोशूट से सनसनी मचा दी है। वन शोल्डर हाई थाई स्लिट गाउन में मल्ला कहर ढा रही हैं।


हेयरस्टाइल की बात करें तो मल्ला ने अपने बालों को कर्ल किया है। इसके के साथ ही उन्होंने गोल्ड क्रिश्चियन लुबोटिन पंप कैरी किए हैं। मलाइका कैमरे के सामने कातिलाना अंदाज में पोज दे रही हैं। फैंस उनकी इन तस्वीरों को काफी पसंद कर रहे हैं। 


काम की बात करें तो मलाइका जल्द ही  'सुपर मॉडल ऑफ द ईयर सीजन 2 में नजर आने वाली हैं। ये फोटोशूट उसी के लिए हैं।


शो को मलाइकाके अलावा मिलिंद सोमनऔर अनुषा दांडेकर  भी जज करेंगे। सुपर मॉडल ऑफ द ईयर का दूसरा सीजन 22 अगस्त से एमटीवी पर प्रसारित होगा।


देश के इन राज्यों में अभी भी लॉकडाउन या कोरोना कर्फ्यू जैसी पाबंदियां चल रही हैं

 
देशभर में कोरोना का कहर अब भी जारी है और कई राज्यों में अब भी लॉकडाउन की स्थिति बनी हुई है। मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, केरल, महाराष्ट्र सहित कई राज्यों में कोरोना के मामलों में कमी देखने को नहीं मिल रही है। राज्य सरकारों ने संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिए लॉकडाउन या सख्त पाबंदियां लगाई हैं। जानिए किन राज्यों में अभी भी लॉकडाउन या कोरोना कर्फ्यू जैसी अन्य पाबंदियां चल रही हैं।

नगालैंड :- नगालैंड में आज से 18 दिनों के लिए अनलॉक का चौथा चरण प्रभावी होगा, जिसमें दुकानों को ज्यादा देर तक खोलने और कम क्षमता के साथ बसों के संचालन की अनुमति होगी। राज्य में पहले चरण का अनलॉक 1 से 7 जुलाई तक, दूसरा चरण 8-17 जुलाई तक रहा, जबकि तीसरा चरण 18 जुलाई से प्रभावी हुआ। मुख्यमंत्री नेफियू रियो की अध्यक्षता में हुई कोविड-19 पर उच्चाधिकार प्राप्त समिति की बैठक में 1-18 अगस्त तक अनलॉक का चौथा चरण लागू करने का फैसला लिया गया। समिति ने तय किया है कि दुकानें अब सुबह छह बजे से शाम छह बजे तक, 12 घंटों के लिए खोली जा सकेंगी। पहले यह समय शाम चार बजे तक का था। निजी और सरकारी दोनों बस सेवाएं 50 प्रतिशत क्षमता के साथ संचालित की जा सकेंगी। 


महाराष्ट्र :- महाराष्ट्र में कोरोना के मामलों में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। राज्य सरकार अब धीरे धीरे प्रतिबंधों को हटा रही है। स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बताया कि महाराष्ट्र सरकार शनिवार को राज्य में कुछ सीमाओं के साथ कोविड प्रतिबंध हटा सकती है। हालांकि, रविवार को पूर्ण लॉकडाउन अभी जारी रहेगा। इसके अलावा, राज्य पूरी तरह से टीकाकरण वाले लोगों को मुंबई में लोकल ट्रेनों में यात्रा करने की अनुमति दे सकता है। वहीं, स्थिति को देखते हुए दुकानों, होटलों और जिमों का समय शाम 4 बजे से बढ़ाकर 8-9 बजे तक किया जा सकता है। 

केरल :- केरल में लगातार चौथे दिन यानी शुक्रवार (30 जुलाई) को 20 हजार से ज्यादा कोरोना के नए मामले दर्ज किए गए। इसे लेकर पूरे राज्य में सख्त वीकेंड लॉकडाउन लगा दिया गया है। सरकार ने लोगों को हिदायत देते हुए 31 जुलाई से प्रदेश में वीकेंड लॉकडाउन लगाया है, जो  सोमवार, 2 अगस्त की सुबह तक जारी रहेगा। वीकेंड लॉकडाउन के इस फैसले से राज्य में कोरोना के संक्रमण की चेन टूटने की उम्मीद है। 


पश्चिम बंगाल :- पश्चिम बंगाल सरकार ने पहले से लागू प्रतिबंधों को 15 अगस्त तक के लिए बढ़ा दिया है। हालांकि, सरकार ने कुछ मामलों में छूट भी दी है। अब 50 प्रतिशत क्षमता के साथ इनडोर सुविधाओं वाली जगहों पर सरकारी कार्यक्रमों के आयोजन की अनुमति दे दी गई है। बसों, टैक्सियों और ऑटो रिक्शा 50 प्रतिशत क्षमता के साथ चल सकेंगे। सरकारी और निजी दोनों ऑफिसों को भी 50 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ काम करने की अनुमति दी गई है। 

मध्य प्रदेश :- मध्य प्रदेश सरकार ने महाराष्ट्र के साथ बस सेवाओं पर जारी प्रतिबंध को 4 अगस्त तक बढ़ा दिया है। अंतरराज्यीय बस सेवाओं पर प्रतिबंध 28 जुलाई तक लागू था, लेकिन अब इसे एक और सप्ताह के लिए बढ़ा दिया गया है। एमपी परिवहन विभाग द्वारा इस प्रतिबंध के संबंधित एक आदेश जारी किया गया और कहा गया कि आने वाले बुधवार तक महाराष्ट्र से किसी भी बस को संचालित करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। वहीं, लोगों से भी कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करने की अपील है। 


तमिलनाडु :- तमिलनाडु में भी कोरोना के मामलों में तेजी से इजाफा हो रहा है। कोयंबटूर, धर्मपुरी, कुड्डालोर, कल्लाकुरिची, कांचीपुरम, करूर, मयिलादुथुराई, नागपट्टिनम, नमक्कल, पुदुकोट्टई, शिवगंगई और तिरुचि में पॉजिटिविटी रेट में भी वृद्धि हुई है। चेन्नई में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच 9 मार्केट को 9 अगस्त तक बंद रखने के आदेश दिए गए हैं। ग्रेटर चेन्नई कॉरपोरेशन ने 9 अगस्त, 2021 तक उन नौ बाजारों और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को बंद करने का आदेश दिया है, जहां बड़ी संख्या में लोग इकट्ठा होते हैं। राज्य सरकार ने लोगों से कोरोना नियमों का पालन करने की अपील की है। 

हमेशा दो बहनें ही आपस में शेयर कर सकती हैं ये बातें, जानिए

अक्सर रिश्ते दिल से बनते है और विश्वास से निभाए जाते है। लेकिन दो बहनों के बीच का प्यार शायद दुनिया में किसी के साथ नहीं हो सकता है। इनकी जबरदस्त कैमिस्ट्री ऐसी है कि पल में लड़ाई और दूसरे ही पल ढेर सारा प्यार। जब बहनों में से कोई भी परेशानी या मुश्किल में होता है तो दूसरी बहन उसकी हिम्मत बन जाती है।

दो बहनें ही शेयर कर सकती है ये बातें:

# बहनों का वार्डरोब अक्सर एक ही होता है। इनकी अलमारी में हमेशा कपड़ों से भरी रहती है लेकिन जब बात सेल की आती है तो दोनों आपस में सुलह करती हैं कि शाम को सेल में चलें।

# लड़की घर में सारे सदस्यों से चाहे यह पूछ ले कि ड्रैस कैसी लगी लेकिन जब तक वह अपनी बहन की इस बारे में राय न ले ले, तब तक उसे तसल्ली नहीं मिलती।

# जब बहन बाहर जाती हैं तो दूसरी हमेशा उसे पीछे से आवाज देकर कहती है कि बहुत भूख लगी है। घर वापिस आते समय खाने को कुछ ले आना। ऐसा सिर्फ बहन को ही कहा जा सकता है।

# बहनों के बीच में गुफ्तगूं तो चलती ही रहती है। दोनों एक-दूसरे को राज छुपा कर रखने के लिए ब्लैकमेल करती रहती हैं।

सलाद में ज्यादा खीरा खाने से भी बढ़ सकती है परेशानी, जानिए नुकसान

वैसे तो खाने के साथ सलाद खाना स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जाता है। खीरा खाने के कई फायदे है, गर्मियों में इसे सलाद के रूप में अपनी डाइट में शामिल कर सकते है। कम कैलोरी होने के कारण यह वजन घटाने के लिए बहुत बेहतर विकल्प है। लेकिन किसी भी चीज का अधिक सेवन नुकसानदायक होता है।

खीरा खाने के नुकशान:

# खीरे में कुकुर्बिटाइन्स नामक यौगिक मौजूद होते है, जो बहुत अधिक मात्रा में विषैले होते है। इन विषाक्त पदार्थो के कारण लीवर, पेन्क्रियाज, ब्लैडर, किडनी में सूजन हो सकती है।

# खीरे में 90 फीसदी पानी होता है, इसके अधिक सेवन से जल विषाक्तता का खतरा पैदा हो सकता है। इसके सेवन से इलेक्ट्रोलाइट का बैलेंस बिगड़ सकता है।

# खीरे के अधिक सेवन से पेट में ऐंठन होने लगती है, इसके साथ ही डायरिया, पेट फूलना जैसी समस्या भी हो सकती है।

# कुकुर्बिटाइन्स नामक यौगिक खीरे के छिलको में होता है, इसके लिए कड़वे खीरे का सेवन नहीं करना चाहिए। एक दिन में दो से चार खीरे ही खाने चाहिए।

बोल्डनेस के मामले में मां श्वेता तिवारी से भी आगे निकल चुकी हैं पलक तिवारी


टीवी एक्ट्रेस श्वेता तिवारी की बेटी पलक तिवारी ने अपनी बोल्ड और हॉट फोटोज से सोशल मीडिया पर बवाल मचा दिया है। श्वेता तिवारी की बेटी पलक तिवारी अपनी फोटोज को लेकर काफी सुर्खियों में रहती हैं। 


वह बोल्ड और हॉट फोटोज शेयर करती रहती हैं।  हालांकि कुछ समय पहले पलक ने अपना इंस्टाग्राम अकाउंट डिएक्टिवेट कर दिया था। लेकिन अब उन्होंने वापसी कर ली है।


इंस्टाग्राम पर वापस आने के बाद अब पलक ने अपनी और ग्लैमरस फोटोज शेयर की हैं जिसे देखकर फैंस उनके और दीवाने हो गए हैं।


पलक ने एक के बाद एक ग्लैमरस फोटोशूट कराए हैं और उनकी फोटोज शेयर कर रही हैं। पलक जल्द ही बॉलीवुड डेब्यू करने वाली हैं। वह फिल्म 'रोजी: द सैफरन चैप्टर' से अपना फिल्मी करियर शुरू करेंगी।



महिलाओं को पता होना चाहिए प्रेग्नेंसी में क्या खाएं और क्या ना खाएं

 
मां बनना हर महिला का सपना होता है और दुनिया की सबसे बड़ी खुशी भी हर महिला के लिए यही होती है। लेकिन कई बार प्रेग्नेंसी के दौरान कुछ महिलाएं अपने घर और ऑफिस के कामों में इतनी व्यस्त रहती हैं कि खुद के ऊपर और अपनी डाइट पर अधिक ध्यान नहीं देती हैं। ऐसे में शरीर में पल रहे भ्रूण का विकास सही से नहीं होता है। ध्यान रखें, गर्भावस्था के पूरे 9 महीने बेहद ही नाजुक होते हैं। इस दौरान अपना ख्याल नहीं रखेंगी तो कभी भी, कोई भी शारीरिक समस्या हो सकती है। विशेषज्ञों के अनुसार, एक गर्भवती महिला को शुरुआती तीन महीने और आखिरी तीन महीने अपने खानपान का खास ख्याल रखना चाहिए, क्योंकि प्रेग्नेंसी के ये दोनों ही ट्राइमेस्टर शिशु के विकास के लिए बेहद महत्वपूर्ण होते हैं। आप स्वस्थ रहेंगी, हेल्दी खाएंगी, अंदर से अच्छा महसूस करेंगी तो ही शिशु का भी शारीरिक और मानसिक विकास सही से होगा। जानें, प्रेग्नेंसी के दौरान किन चीजों का सेवन करना जरूरी हो जाता है और किन चीजों से करना चाहिए परहेज....

1. डाइट में शामिल करें ये पोषक तत्व
यदि आप मां बनने वाली हैं, तो अपनी डाइट में प्रोटीन, फाइबर, हेल्दी फैट, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, विटामिन सी, डी, आयरन से भरपूर खाद्य पदार्थों को शामिल करें। आपको नहीं समझ आ रहा कि आपको पूरे 9 महीने किन महत्वपूर्ण पोषक तत्वों का सेवन करना चाहिए तो आप किसी न्यूट्रिशनिस्ट से सलाह लें।


2. गर्भावस्था में कैल्शियम है बेहद जरूरी
प्रेग्नेंट महिला की डाइट में कैल्शियम से भरपूर चीजें जरूर होनी चाहिए डाइट में शामिल। इसके लिए आप हरी पत्तेदार सब्जियां, दूध, दही, डेयरी प्रोडक्ट्स का सेवन करें। प्रेग्नेंसी में कैल्शियम की कमी को दूर करने के लिए फलियां, टोफू, अंजीर का सेवन भी हेल्दी होता है।

3. विटामिन बी12, आयरन के लिए खाएं ये चीजें
प्रेग्नेंसी में आयरन, फोलेट और विटामिन बी12 की कमी शरीर में बिल्कुल भी ना होने दें। इसकी कमी को दूर करने के लिए आप ओट्स, दाल, साबुत अनाज, मछली, नट्स, फलियां, हरी सब्जी, बाजरा आदि खूब खाएं।


4. प्रेग्नेंसी में फाइबर है बेहद जरूरी
अक्सर महिलाओं को प्रेग्नेंसी में कब्ज, बदहजमी, पेट में जलन, पेट का फूलना आदि समस्याएं हो जाती हैं। कब्ज की शिकायत अधिकतर महिलाओं को होती ही है। ऐसे में फाइबर से भरपूर फल खाएं। मैदा ना खाएं। फल में अमरूद, बेरीज, सेब, आम, संतरा आदि खाएं। यदि आपको डायबिटीज है, तो डॉक्टर से सलाह लें। कई फल में शुगर की मात्रा अधिक होती है, जो आपको नुकसान पहुंचा सकता है। नींबू पानी का सेवन करना भी आपको गैस से छुटकारा दिलाएगा, साथ ही उल्टी, जी मिचलाने की समस्या भी दूर होगी। प्रेग्नेंसी में शरीर को हाइड्रेट रखें, खासकर गर्मी के मौसम में। पानी से आपको कब्ज भी नहीं होगा।

प्रेग्नेंसी में क्या ना खाएं
सबसे पहले तो आप जंक फूड से दूरी बना लें। मैदा, स्ट्रीट फूड, पिज्जा, बर्गर, प्रोसेस्ड या पैकेज्ड फूड, शराब, स्मोकिंग, अधिक चाय या कॉफी, तेल-मसाले वाली चीजों के अधिक सेवन से परहेज करें। हाई कैलोरी युक्त फूड्स के सेवन से बचें। एक बार में ही अधिक खाने की बजाय कम मात्रा में छोटे-छोटे भोजन करें। इससे आपका पेट भरा हुआ नहीं लगेगा और उल्टी भी नहीं होगी। किसी भी तरह की शारीरिक समस्या होने पर दवाओं का सेवन खुद से ना करें। एक्सरसाइज करें, मगर खुद को थका देने वाले हेवी एक्सरसाइज से बजें। सारा दिन बैठी ना रहें, क्योंकि शरीर को एक्टिव रखना भी जरूरी है। शरीर में ब्लड सर्कुलेशन सही से हनीं होगा तो आपके पैरों, हाथों में सूजन भी हो सकता है।

ज्योतिष के अनुसार सावन के महीने में भूल से भी ना करें ये काम

अभी सावन का महीना चल रहा है। सावन के महीने में भगवान शिव की विशेष पूजा-अर्चना करने से सभी काम बन जाते है। इस महीने में भोले भक्त शिव को प्रसन्न करने के लिए पूरे महीने कोशिश करते रहते हैं। वैसे इस महीने में कुछ खास कार्य शुभ माने जाते हैं लेकिन कुछ कार्य करने की मनाही है। आज हम ज्योतिष के अनुसार आपको बताने जा रहे हैं कौन से काम करें और कौन से नहीं, जिससे हमारे काम बन जाएँ। 

सावन के महीने में क्या करें क्या नहीं:

सावन के महीने में हर दिन भगवान शिव को जल अर्पित करना चाहिए। वहीं अगर आप हर दिन जल अर्पित नहीं कर पा रहे हैं तो सावन के हर सोमवार को मंदिर जाकर भगवान शिव को चंदन का तिलक लगाएं, पुष्प अर्पित करें और उन्हें जल चढ़ाएं। 

सावन के महीने में खान-पान सही रहना चाहिए। हल्का भोजन करें और मांस-मटन न खाए। इसके अलावा सावन के महीने में घर को साफ-सुथरा रखें। इसके अलावा इस महीने में अपने घर में सुगंधित धूप जरूर जलाएं।

सावन के महीने में दिन में एक बार ॐ नमः शिवाय मंत्र का जाप जरूर करना चाहिए। इसी के साथ जो लोग किसी बीमारी से लंबे समय से परेशान हैं, वो सावन के महीने में महामृत्युंजय मंत्र का जाप करें। इससे आप निरोग और स्वस्थ रहेंगे। 

सावन के महीने में मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए। इसी के साथ इस महीने में झूठ नहीं कहना चाहिए। वैसे तो भोले शंकर छोटी सी पूजा से भी प्रसन्न हो जाते हैं लेकिन जो लोग झूठ बोलते हैं उनसे भगवान नाराज रहते हैं।

अस्पताल के बाहर स्पॉट हुए रणवीर-दीपिका, लोग बोले- 'नन्हा मेहमान आने वाला है'

नई दिल्ली। बॉलीवुड एक्टर रणवीर सिंह और दीपिका पादुकोण को इंडस्ट्री में पावर कपल के नाम से जाना जाता है। बड़े पर्दे के साथ असल जिंदगी में भी दोनों के बीच काफी शानदार बॉन्डिंग देखने को मिलती है। कुछ समय पहले दीपिका और रणवीर की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई। जिसे देखने के बाद उनके फैंस काफी खुश हैं। सोशल मीडिया पर दीपिका-रणवीर के फैंस उन्हें बधाई देते हुए नज़र आ रहे हैं।

Deepika Padukone

अस्पातल के बाहर स्पॉट हुए दीपिका-रणवीर

दरअसल, बीते दिन दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह को साथ में हिंदुजा अस्पताल के बाहर स्पॉट किया गया। दीपिका रणवीप सिंह गाड़ी में बैठी हुई थीं। रणवीर ने रेड और दीपिका ने व्हाइट कल का मास्क पहना हुआ था। साथ ही दोनों ने ब्लैक गॉगल्स भी लगाए हुए थे। अस्पताल के बाहर दीपिका और रणवीर को साथ में देखने के बाद फैंस दीपिका की प्रेग्नेंसी को लेकर कयास लगाने लगे हैं। फैंस का मानना है कि जल्द ही दीपिका रणवीर भी गुड न्यूज दे सकते हैं। फैंस ने सोशल मीडिया पर कपल को बधाई देनी तक शुरू कर दी है।

Deepika Padukoned_3.jpg

फैंस के कमेंट

रणवीर दीपिका की तस्वीरों को देखने के बाद कपल के फैंस कमेंट कर अपनी प्रतिक्रिया साझा कर रहे हैं। रणवीर-दीपिका के एक फैन ने कमेंट करते हुए लिखा है कि- 'एक नन्हा मेहमान आने वाला है।' एक अन्य यूजर ने लिखा कि 'दीपिका प्रेग्नेंट है।' वहीं एक अन्य यूजर लिखते हैं कि 'बेटा सब ठीक ही है, नया सिंह आने वाला है तैयारियां करो।' सोशल मीडिया पर दीपिका की प्रेग्नेंसी की बात तेजी से वायरल हो रही है।

फिर साथ में नज़र आएंगे रणवीर-दीपिका

दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह साथ में कई फिल्में कर चुके हैं। बड़े पर्दे पर भी दोनों की केमिस्ट्री लोगों को काफी पसंद आती है। कपल के अपकमिंग प्रोजेक्ट की बात करें तो जल्द ही एक बार फिर दर्शक रणवीर-दीपिका को साथ में फिल्म '83' में देखेंगे। इस फिल्म में रणवीर पूर्व क्रिकेटर कपिल देव की भूमिका में नज़र आएंगे। तो वहीं दीपिका उनकी पत्नी रोमी भाटिया के किरदार में नज़र आएंगी। साथ ही दीपिका अपनी एक्शन फिल्म 'पठान' को लेकर भी सुर्खियां बंटोर रही हैं। फिल्म में वो सुपरस्टार शाहरुख खान संग नज़र आएंगी।

हिन्दू धर्म की इन तीन परंपराओं में धार्मिक के साथ-साथ वैज्ञानिक कारण भी छिपे हैं!

 
हिन्दू धर्म में जन्म से लेकर मरणोपरांत तक कई तरह की परंपराओं का निर्वहन किया जाता है। यह परंपराएं अलंकार की तरह होती हैं, जो न केवल हिन्दू धर्म बल्कि भारत देश के प्रति दुनिया को आकर्षि‍त करती हैं। लेकिन यह परंपराएं निरर्थक या अनावश्यक नहीं हैं, बल्कि इनके पीछे धार्मिक के साथ-साथ वैज्ञानिक कारण भी छिपे होते हैं। जानिए ऐसी ही कुछ परंपराओं और उनके पीछे के वैज्ञानिक कारणों को....


1. माथे पर तिलक लगाना :- हिन्दू परंपरा अनुसार विभिन्न धार्मिक अनुष्ठानों और पूजा-पाठ में माथे पर तिलक लगाया जाता है। माथे पर तिलक लगाना बहुत शुभ माना जाता है और इसके लिए खास तौर से कुमकुम अथवा सिंदूर का उपयोग किया जाता है। सुहागन महिलाओं के लिए तो कुमकुम सुहाग और सौंदर्य के प्रतीक के रूप में जीवन का अभि‍न्न अंग होता है। लेकिन इसके पीछे सशक्त वैज्ञानिक कारण भी है। वैज्ञानिक तर्क के अनुसार मानव शरीर में आंखों के मध्य से लेकर माथे तक एक नस होती है। जब भी माथे पर तिलक या कुमकुम लगाया जाता है, तो उस नस पर दबाव पड़ता है जिससे वह अधि‍क साक्रिय हो जाती है, और पूरे चेहरे की मांसपेशि‍यों तक रक्तसंचार बेहतर तरीके से होता है। इससे उर्जा का संचार होता है और सौंदर्य में भी वृद्धि होती है।

2. हाथ जोड़ना या नमस्ते करना :- हमारे यहां किसी से मिलते समय या अभि‍वादन करते समय हाथ जोड़कर प्रणाम किया जाता है। इसे नमस्कार या नमस्ते करना कहते हैं जो सम्मान का प्रतीक होता है। लेकिन अभि‍वादन का यह तरीका भी वैज्ञानिक तर्कसंगत है।


हाथ जोड़कर अभि‍वादन करने के पीछे वैज्ञानिक तर्क है कि जब सभी उंगलियों के शीर्ष एक दूसरे के संपर्क में आते हैं तो उन पर दबाव पड़ता है। इस तरह से यह दबाव एक्यूप्रेशर का काम करता है। एक्यूप्रेशर पद्धति के अनुसार यह दबाव आंखों, कानों और दिमाग के लिए प्रभावकारी होता है। इस तरह से अभि‍वादन कर हम व्यक्त‍ि को हम लंबे समय तक याद रख सकते हैं। इसके साथ ही हाथ मिलाने के बजाय हाथ जोड़ने से हम कई तरह के संक्रमण से बच जाते हैं।


3. चरण स्पर्श :- हिन्दू धर्म में ईश्वर से लेकर बड़े-बुजुर्गों के पैर छूकर आशर्वाद लेने की परंपरा है, जिसे चरण स्पर्श करना कहते हैं। हर हिन्दू परिवार में संस्कार के रूप में बड़ों के पैर छूना सिखाया जाता है। दरअसल पैर छूना या चरण स्पर्श करना केवल झुककर अपनी कमर दुखाना नहीं है, बल्कि इसका संबंध ऊर्जा से है। वैज्ञानिक तर्क के अनुसार प्रत्येक मनुष्य के शरीर में मस्तिष्क से लेकर पैरों तक लगातार उर्जा का संचार होता है। इसे कॉस्मिक ऊर्जा कहा जाता है। इस तरह से जब हम किसी व्यक्ति के पैर छूते हैं, तो हम उससे ऊर्जा ले रहे होते हैं। सामने वाले के पैरों से ऊर्जा का प्रवाह हाथों के जरिए हमारे शरीर में होता है।

आज से बदल गए ये नियम, जानिए इसका आपकी जेब पर पड़ेगा कितना असर!

 
आज एक अगस्त के साथ ही बैंकिंग और फाइनेंस से जुड़े कई नियम बदल गए हैं। इनके चलते आम आदमी की जेब पर बड़ा असर पड़ेगा। बहुत संभव है कि किसी नियम की अवहेलना करने पर आपको पेनल्टी भी चुकानी पड़ जाए इसलिए इन सभी नियमों को ध्यान से पढ़ें।

1. छुट्टी के दिन भी बैंक खाते में आएगी तनख्वाह
जुलाई 2021 तक रविवार या अन्य कोई सरकारी अवकाश होने पर बैंकों में पैसे से जुड़ा कोई भी कार्य नहीं हो पाता था। ऐसे में जिन लोगों की सैलेरी बैंक खाते में आती हैं, उन्हें भी ऐसी स्थिति में सैलेरी के लिए एक दिन बाद तक का इंतजार करना पड़ता था परन्तु अब ऐसा नहीं होगा। एक अगस्त 2021 से रविवार या अन्य कोई बैंक होलीडे होने पर भी सैलेरी और पेंशन का पैसा आपके बैंक अकाउंट में आ सकेगा। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने हाल ही में घोषणा करते हुए कहा था कि नेशनल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस (NACH) सप्ताह के सातों दिन चौबीस घंटे काम करेगा। इसी के जरिए सैलेरी, पेंशन, ब्याज आदि का भुगतान किया जाता है।


2. ATM से पैसा निकालना होगा महंगा
रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने एक अगस्त से एटीएम ट्रांजेक्शन पर चार्ज बढ़ा दिया है। इंटरचेंज फीस फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन के लिए 15 रुपए को दो रुपए बढ़ाकर 17 रुपए तथा नॉनफाइनेंशियल ट्रांजेक्शन को 5 रुपए से एक रुपया बढ़ाकर छह रुपए कर दिया गया है। बढ़ी हुई दरें भी आज से ही लागू हो गई है। ऐसे में एटीएम से पैसा निकालना भी अब पहले से महंगा होने वाला है।

3. टैक्स देनदारी का भुगतान नहीं किया तो पैनल्टी देनी होगी
यदि वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए TDS अथवा एडवांस टैक्स को घटाने के बाद भी आपकी टैक्स लायबिलिटी एक लाख रुपए से अधिक है और आपने इसका भुगतान 31 जुलाई 2021 तक नहीं किया गया है तो इनकम टैक्स की धारा 234A के तहत आपको हर महीने एक प्रतिशत की दर से पेनल्टी भरनी होगी।

4. सिलेंडर की नई कीमतें भी होंगी जारी
हर माह की पहली तारीख को एलपीजी गैस सिलेंडर की कीमतें तय की जाती हैं। ऐसे में यदि आज LPG गैस सिलेंडर की कीमत बढ़ाई जाती है तो आपको कुकिंग गैस के लिए एक्स्ट्रा पैसा देना पड़ सकता है। हालांकि इसकी घोषणा शाम तक की जा सकती है।


5. घर आएंगी बैंक की सुविधाएं
इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (IPPB) की डोरस्टेप सर्विसेज अभी तक नि:शुल्क मिल रही थी परन्तु अब बैंक ने इन सर्विसेज के लिए चार्ज लेने की घोषणा की है। अब इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक की सर्विसेज का लाभ उठाने के लिए ग्राहकों को 20 रुपए प्लस जीएसटी का भुगतान करना होगा।

5. ICICI बैंक की सर्विसेज हुई महंगी
निजी क्षेत्र के बैंक आईसीआईसीआई (ICICI) ने अपनी कुछ सर्विसेज के लिए चार्ज बढ़ा दिए हैं। बैंक के ग्राहकों को हर महीने चार बार से अधिक एटीएम का प्रयोग करने पर 150 रुपए, होम ब्रांच पर एक लाख रुपए प्रति महीने के लेनदेन पर प्रति एक हजार रुपए पर 5 रुपए का चार्ज देना होगा। इसके अलावा चेकबुक से जुड़े चार्ज भी बदल गए हैं। 25 चेक के बाद प्रति दस चेक के लिए 20 रुपए चार्ज देना होगा।

अस्पताल के बाहर स्पॉट हुए रणवीर-दीपिका, लोग बोले- 'नन्हा मेहमान आने वाला है'

नई दिल्ली। बॉलीवुड एक्टर रणवीर सिंह और दीपिका पादुकोण को इंडस्ट्री में पावर कपल के नाम से जाना जाता है। बड़े पर्दे के साथ असल जिंदगी में भी दोनों के बीच काफी शानदार बॉन्डिंग देखने को मिलती है। कुछ समय पहले दीपिका और रणवीर की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई। जिसे देखने के बाद उनके फैंस काफी खुश हैं। सोशल मीडिया पर दीपिका-रणवीर के फैंस उन्हें बधाई देते हुए नज़र आ रहे हैं।

d_1.jpg

अस्पातल के बाहर स्पॉट हुए दीपिका-रणवीर

दरअसल, बीते दिन दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह को साथ में हिंदुजा अस्पताल के बाहर स्पॉट किया गया। दीपिका रणवीप सिंह गाड़ी में बैठी हुई थीं। रणवीर ने रेड और दीपिका ने व्हाइट कल का मास्क पहना हुआ था। साथ ही दोनों ने ब्लैक गॉगल्स भी लगाए हुए थे। अस्पताल के बाहर दीपिका और रणवीर को साथ में देखने के बाद फैंस दीपिका की प्रेग्नेंसी को लेकर कयास लगाने लगे हैं।

फैंस का मानना है कि जल्द ही दीपिका रणवीर भी गुड न्यूज दे सकते हैं। फैंस ने सोशल मीडिया पर कपल को बधाई देनी तक शुरू कर दी है।

 

 

यह भी पढ़ें- Deepika Padukone निकलीं ग्रॉसरी शॉपिंग के लिए, साथ में नहीं नज़र आए पति रणवीर सिंह

d_2.jpgd_3.jpg

फैंस के कमेंट

रणवीर दीपिका की तस्वीरों को देखने के बाद कपल के फैंस कमेंट कर अपनी प्रतिक्रिया साझा कर रहे हैं। रणवीर-दीपिका के एक फैन ने कमेंट करते हुए लिखा है कि- 'एक नन्हा मेहमान आने वाला है।' एक अन्य यूजर ने लिखा कि 'दीपिका प्रेग्नेंट है।' वहीं एक अन्य यूजर लिखते हैं कि 'बेटा सब ठीक ही है, नया सिंह आने वाला है तैयारियां करो।' सोशल मीडिया पर दीपिका की प्रेग्नेंसी की बात तेजी से वायरल हो रही है।

यह भी पढ़ें- दीपिका पादुकोण-रणवीर सिंह की शादी में मोबाइल फोन ले जाने पर था बैन!

फिर साथ में नज़र आएंगे रणवीर-दीपिका

दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह साथ में कई फिल्में कर चुके हैं। बड़े पर्दे पर भी दोनों की केमिस्ट्री लोगों को काफी पसंद आती है। कपल के अपकमिंग प्रोजेक्ट की बात करें तो जल्द ही एक बार फिर दर्शक रणवीर-दीपिका को साथ में फिल्म '83' में देखेंगे। इस फिल्म में रणवीर पूर्व क्रिकेटर कपिल देव की भूमिका में नज़र आएंगे। तो वहीं दीपिका उनकी पत्नी रोमी भाटिया के किरदार में नज़र आएंगी। साथ ही दीपिका अपनी एक्शन फिल्म 'पठान' को लेकर भी सुर्खियां बंटोर रही हैं। फिल्म में वो सुपरस्टार शाहरुख खान संग नज़र आएंगी।


सपने में महिलाओं को ये निजी काम करते हुए देखना माना गया है अशुभ

women bath

हमारे समाज में महिलाओं को सम्मान की नजर से देखा जाता है। क्योंकि सभी धर्मों में अच्छे और बुरे कामों का लेखा रखा जाता है। इंसान के अच्छे बुरे कर्मों के अनुसार ही उन्हें मोक्ष मिलता है। आज हम आपको ऐसे पाप के बार में बताने जा रहे है, जो कभी किसी मनुष्य को नहीं करना चाहिए।

महिलाओं को ये काम करते ना देखें:

हिन्दू धर्म के अनुसार किसी भी स्त्री को नहाते हुए देखना बहुत ही अशुभ बताया है। ऐसा करने वाला व्यक्ति महापाप का भागीदार हो जाता है।

सपने में यदि आप किसी अपने को दरिया में नहाते देखते हैं तो यह अच्छा माना जाता है इस स्वप्न को देखने का मतलब होता है कि आपके जो भी रोग हैं वो जल्द ही नष्ट हो जाएंगे।

यदि आप सपने में खुद को किसी तालाब में नहाते देखते हैं तो यह कुछ अशुभ संकेत की ओर इशारा करता है। इसलिए सतर्क रहना चाहिए।


यदि आप एक पुरुष है और किसी महिला को सपने में नहाते हुए देखते हैं तो इसका मतलब है कि आपके जीवन में जल्द ही कोई खूबसूरत लड़की आने वाली है।