Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

इस कारण छोटे बेटे से ताउम्र नाराज रहे राज कपूर, अंतिम संस्कार में भी कम नहीं हुई दूरी

इस कारण छोटे बेटे से ताउम्र नाराज रहे राज कपूर, अंतिम संस्कार में भी कम नहीं हुई दूरी


2 जून को राज कपूर की 48वीं पुण्यतिथि मनाई जाती है। राज कपूर का निधन 2 जून 1988 को हुआ था। राज कपूर का जन्म 14 दिसंबर 1924 को पाकिस्तान के पेशावर में हुआ था। राज कपूर के तीन बेटे रणधीर कपूर, ऋषि कपूर और राजीव कपूर है। रणधीर और ऋषि भी फिल्मों में काम कर चुके है। राज ने अपने छोटे बेटे राजीव को अपनी फिल्म राम तेरी गंगा मैली से लॉन्च किया था। लेकिन इस फिल्म के दौरान राज की अपने बेटे राजीव के साथ अनबन हो गई थी। जिसकी वजह से राज ताउम्र राजीव से नाराज रहे थे। यहां तक की राज और राजीव के बीच की ये दूरी अंतिम संस्कार में भी कम नहीं हुई थी।

जानिए विस्तार से -

राजीव ने इस फिल्म से किया था डेब्यू

राजीव और मंदाकिनी स्टारर फिल्म 'राम तेरी गंगा मैली' 1985 में आई थी। ये फिल्म उस समय की सबसे बड़ी हिट फिल्मों में से एक थी। हालांकि इस फिल्म के हिट होने की सबसे बड़ी वजह फिल्म की लीड एक्ट्रेस मंदाकिनी थी ना की राजीव। दरअसल, फिल्म में मंदाकनी का झरने के नीचे नहाने वाला सीन काफी लोकप्रिय हुआ था।

फिल्म को लेकर पिता राज से नाराज हो गए थे राजीव

एक तरफ फिल्म हर जगह सुर्खियां बटोर रही थी। वहीं फिल्म को लेकर राजीव अपने पिता से नाराज हो गए थे। फिल्म के हिट होने के बाद दोनों में काफी अनबन भी हुई थी। हुआ यूं की फिल्म की सफलता का श्रेय सिर्फ राज और मंदाकिनी को ही दिया जा रहा था। जबकि फिल्म में लीड किरदार में नजर आए राजीव का कोई जिक्र भी नहीं कर रहा था।

राजीव को नहीं मिला फिल्म हिट होने का फायदा

इस फिल्म की सफलता से मंदाकिनी रातों रात स्टार बन गई थी। लेकिन इतनी बड़ी हिट फिल्म देने के बाद भी राजीव को कुछ भी फायदा नहीं मिला। राजीव इस बात के लिए अपने पिता राज को जिम्मेदार मानने लगे थे। दरअसल, इस फिल्म में राज ने राजीव की जगह मंदाकिनी के रोल को ज्यादा तवज्जो दी थी। राजीव ये भी चाहते थे की राज उनके लिए एक ऐसी फिल्म बनाए जिसमें उनके रोल को ज्यादा तवज्जो दी जाए।

राजीव ने इन फिल्मों में किया काम

लेकिन राज ने उनको लेकर कोई फिल्म नहीं बनाई। बल्कि उन्होंने राजीव को अपने साथ बतौर असिस्टेंट काम करवाया। राजीव अपने पिता की फिल्मों के सेट पर स्पॉटबॉय और असिस्टेंट का काम करते थे। राजीव ने 'हम तो चले परदेस', 'शुक्रिया', 'अंगारे', 'जलजला' और 'लवर बॉय' जैसी फिल्मों में काम किया। लेकिन ये सभी फिल्में फ्लॉप रही थी।

पिता के अंतिम संस्कार में भी कम नहीं हुई दूरी

राजीव अपने पिता राज की इस बात को लेकर काफ नाराज थे की राज ने उनको लेकर किसी फिल्म का निर्माण क्यों नहीं किया। खबरों की माने तो दोनों के बीच की ये दूरी राज के अंतिम संस्कार के समय भी कम नहीं हुई। क्योकि राजीव पिता के अंतिम संस्कार में नहीं गए थे और वे शराब के नशे में चूर थे।
loading...

Reactions:

bollywood celebs

Celebs Gossips

Post A Comment:

0 comments: