'मैं इस समय कहीं भी सुरक्षित नहीं', Kaali Controversy के बीच डायरेक्टर Leena Manimekalai को सता रहा खौफ - BackToBollywood

Blog Archive

Search This Blog

Total Pageviews

'मैं इस समय कहीं भी सुरक्षित नहीं', Kaali Controversy के बीच डायरेक्टर Leena Manimekalai को सता रहा खौफ

'मैं इस समय कहीं भी सुरक्षित नहीं', Kaali Controversy के बीच डायरेक्टर Leena Manimekalai को सता रहा खौफ

<-- ADVERTISEMENT -->



इन दिनों सोशल मीडिया फिल्म डायरेक्टर लीना मणिमेकलई (Leena Manimekalai) की डॉक्यूमेंट्री फिल्म 'काली' (Kaali Controversy) को लेकर खूब विवाद छिड़ा हुआ है. कुछ दिनों पहले फिल्म का एक पोस्टर शेयर किया गया था, जिसमें मां काली सिगरेट पीते दिख रही थीं, जिसके बाद से लीना की और फिल्म से लेकर उसके पोस्टर की खूब आलोचना हो रही है. हिंदू धर्म की देवी काली मां को एक महान देवी के रुप में देखा जाता है ऐसे में उनकी इस तरह की आपत्तिजनक पोस्टर को देखने के बाद सोशल मीडिया पर जबरदस्त बवाल मच गया है. इसी बीच हिंदू संगठन भी काफी नाराज नजर आ रहे हैं.

वहीं अब काफी समय से चल रहे इस विवाद के बीच फिल्म डायरेक्टर लीना मणिमेकलई (Leena Manimekalai) ने कहा है कि 'वो खुद को असुरक्षित महसूस कर रही हैं'. लीना ने हाल में एक ट्वीट अपना डर जाहिर किया है, जिसमें वो लखती हैं कि 'ऐसा लगता है कि पूरा देश मुझे सेंसर करना चाहता है'. लीना ने ट्वीट कर लिखा 'ऐसा लगता है कि पूरा देश, जो अब सबसे बड़े लोकतंत्र से सबसे बड़ी नफरत की मशीन बन गया है मुझे सेंसर करना चाहता है'. मणिमेकलाई ने आगे लिखा की 'मैं इस समय कहीं भी सुरक्षित महसूस नहीं करताट'. इसके अलावा भी लीना ने कई ट्वीट्स किए हैं.


राजनेताओं का कहना है कि 'ये जानबूझकर उकसाने वाला मामला है'. साथ ही यूजर्स ने भी कमेंट्स कर अपना गुस्सा जाहिर किया है. लोगों ने कमेंट्स कर लिखा 'बार-बार हिंदू धर्म के लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाना बंद करें'. हालांकि कई विवादों को तेजी से गरमाते देख डायरेक्टर-प्रोड्यूसर ने लीना ने अपने अपने कई पोस्ट को डिलीट भी कर दिया. बता दें कि लीना मणिमेकलई सामाजिक बुराइयों पर एक फिल्म लेकर आने वाली हैं, जिसका नाम उन्होंने 'काली' रखा है, जिसका उन्होंने एक आपत्तिजनक पोस्टर भी साझा किया था, जिसके बाद से ये मुद्दा काफी गरमा गया है.



<-- ADVERTISEMENT -->

AutoDesk

Entertainment

Post A Comment:

0 comments: