अमृता राव का बॉलीवुड करियर कैसे समाप्त हुआ? - BackToBollywood

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

अमृता राव का बॉलीवुड करियर कैसे समाप्त हुआ?

अमृता राव का बॉलीवुड करियर कैसे समाप्त हुआ?

<-- ADVERTISEMENT -->



अमृता राव का बॉलीवुड करियर कैसे समाप्त हुआ?

बॉलीवुड में ऐसी अनेक अभिनेत्रियां हैं जो हवा के झोंके की तरह फिल्मों की दुनिया मे दस्तक तो देती हैं लेकिन कब उनकी लोकप्रियता धूमिल हो जाती है किसी को पता भी नहीं चलता. इश्क-विश्क और मै हूं ना जैसी सफल फिल्मों में काम करने वाली अभिनेत्री अमृता राव का हाल भी कुछ ऐसा ही है. अमृता राव ने जब अभिनय की रेस में कदम रखा था तो उस समय सबको यही लग रहा था कि आने वाले वक्त में वह एक सफल अभिनेत्री बनेंगी लेकिन ऐसा न होकर वह धीरे-धीरे दर्शकों की नजरों से दूर हो गईं.

अमृता राव का बॉलीवुड करियर कैसे समाप्त हुआ? 

अभिनेत्री अमृता राव का जन्म 7 जून, 1981 में मुंबई के चित्रपुर सारस्वत ब्राह्मण परिवार में हुआ था.बचपन से ही उनका फिल्मों की तरफ रुझान था.
मुंबई में पढ़ी लिखी अमृता ने सोफिया कॉलेज से अपनी स्नातक की शिक्षा प्राप्त की. अमृता राव की बड़ी बहन प्रतिका राव एक मॉडल हैं. अमृता राव ने कॉलेज के दिनों से ही मॉडलिंग शुरु कर दी थी. सोफिया कॉलेज में फेयरएवर फेस क्रीम के लिए ऑडिशन में उन्हें चुना गया. इसके बाद अमृता ने पर्क और ब्रु जैसी कंपनियों के उत्पादों के लिए एड किए जिसकी वजह से बॉलिवुड में उनके लिए रास्ता खुल गया.

साल 2002 में फिल्म “अब के बरस” से अमृता राव ने अपने फिल्मी कॅरियर की शुरुआत की. और इसके बाद साल 2003 की फिल्म “इश्क-विश्क” से उन्हें पहचान मिलनी शुरु हुई. इश्क-विश्क की सफलता के बाद अमृता की पहचान एक सिपंल एंड स्वीट हिरोइन की तरह बन गई. “मस्ती”, “मैं हूं ना”, “वाह लाइफ हो तो ऐसी” जैसी फिल्मों ने उनके कॅरियर को आगे बढ़ाने में मदद की.

साल 2006 में आई “विवाह” अमृता राव की सबसे सफल फिल्म रही. इस फिल्म के लिए उन्हें दादा साहब फाल्के अकेडमी पुरस्कार भी मिला. “विवाह” के बाद अमृता की छवि गर्ल नेक्सट डोर की बन गई और उनके पास ऐसे कई ऑफर आने लगे जिनमें सीधी साधी लड़की का किरदार था. हालांकि अब अमृता खुद अपनी सिंपल छवि से तंग आ गई हैं. हाल ही में उन्होंने एक हॉट फोटोशूट करवाया और दिखा दिया कि वह भी ग्लैमरस रोल करने की क्षमता रखती हैं.

लेकिन ऐसा लगता नहीं कि निर्देशक उनकी सिंपल छवि के अलावा उनसे कुछ ज्यादा और चाहते हैं और साल 2011 में आई “लव यू मि. कलाकार” में एक बार फिर वह सिंपल रोल में नजर आ रही हैं.

“इश्क-विश्क” और “मैं हूं ना” के लिए उन्हें दो बार फिल्मफेयर में नामांकित जरुर किया गया पर वह पुरस्कार जीत नहीं पाई. “इश्क-विश्क” के लिए फिल्मफेयर बेस्ट डेब्यू एक्ट्रेस तो “मैं हूं ना” के लिए बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस के लिए उन्हें नामांकित किया गया था.

Loading...

<-- ADVERTISEMENT -->

Reactions:

bollywood celebs

Celebs Gossips

Post A Comment:

0 comments: