Exclusive: दीपेश सावंत ने NCB से कहा, ‘मैंने 2018 में सुशांत को ड्रग्स लेते देखा था’ - BackToBollywood

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

Exclusive: दीपेश सावंत ने NCB से कहा, ‘मैंने 2018 में सुशांत को ड्रग्स लेते देखा था’

Exclusive: दीपेश सावंत ने NCB से कहा, ‘मैंने 2018 में सुशांत को ड्रग्स लेते देखा था’

<-- ADVERTISEMENT -->





मुंबई: बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के कथित सुसाइड केस में अब गिरफ्तारियों का दौर शुरू हो गया है. केस से जुड़े ड्रग्स एंगल की जांच कर रही नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने शनिवार देर शाम 8वीं गिरफ्तारी की है. अधिकारियों ने सुशांत के स्टाफ रहे दीपेश सावंत को गिरफ्तार किया है. जानकारी के अनुसार, एनसीबी दीपेश को सरकारी गवाह के रूप में कोर्ट में पेश करने जा रही है. इससे पहले सुशांत केस की तहकीकात आगे बढ़ाते हुए एनसीबी ने शुक्रवार को रिया के भाई शोविक चक्रवर्ती और सुशांत के दोस्त सैमुअल मिरांडा के अलावा 5 लोगों अब्बास, करण, जैद, बासित और कैजान को गिरफ्तार किया था. इसमें से अब्बास और करन को थोड़ी देर बाद ही जमानत मिल गई थी, जबकि कैरान को शनिवार को जमानत मिली है. 

2018 में सुशांत के संपर्क में आया था



वहीं, अब Zee News के हाथ दीपेश द्वारा NCB को दिए गए बयान हाथ लगे हैं. एनसीबी को दिए गए अपने बयान में दीपेश ने बताया है कि वह सितंबर 2018 में सुशांत के संपर्क में आया था और उनके कहने पर ही वह अभिनेता के साथ रहना शुरू कर दिया था. दीपेश ने यह भी कहा कि अभिनेता के लिए काम करने के दो-तीन दिन बाद ही, उन्होंने सुशांत को ड्रग्स लेते हुए पाया था. वह कभी भी ड्रग्स नहीं लाया. दीपेश ने कहा कि उन्हें मुफ्त में काम करने के लिए कहा गया, फिर निकाल दिया गया और बाद में जनवरी 2020 में उन्हें सुशांत का कॉल आया. सुशांत अभिनय छोड़कर लोनावाला में शिफ्ट होना चाहते थे और चाहते थे कि वे फिर से साथ काम करें. उन्होंने कहा कि सुशांत ने अपने कुक के फोन से कॉल किया था.

ऋषिकेश पवार के माध्यम से सुशांत के संपर्क में आया



दीपेश ने कहा कि अपनी पढ़ाई छोड़ने के बाद मैंने एक खिलौने की दुकान में काम करना शुरू कर दिया. बाद में मैंने बिंदास चैंनल के लिए एक शो `लाइफ लफ्डे बंदियां’ में एक इंटर्न असिस्टेंट डायरेक्टर के रूप में काम करना शुरू किया, फिर मैंने कई अन्य शो (‘कलयुग’, ‘एसएसएच फिर कोई है’, ‘अंजान’) में काम किया. जब मैं ‘अंजान’ काम कर रहा था, तब अपने पिता उत्तम सावंत के आकस्मिक निधन के कारण काम करना छोड़ दिया और मैं कुछ महीनों के लिए घर पर था. सितंबर 2018 में, मैं अपने एक जानने वाले ऋषिकेश पवार के माध्यम से सुशांत सिंह राजपूत के संपर्क में आया.

अपने बयान में दीपेश ने बताया, ‘उस समय सुशांत सर लिटिल हाइट्स अपार्टमेंट में रह रहे थे. मैं सुशांत सर से मिला और उनके ड्रीम प्रोजेक्ट पर उनके साथ काम करना शुरू किया, जहां उन्होंने अपने 50 सपनों की लिस्ट बनाई हुई थी और उन सपनों को हासिल करते हुए शूटिंग करना चाहते थे. मैं अपने काम के अनुसार आया करता था और वापस अपने घर चला जाता था. बाद में कुशाल झवेरी जो उस समय सुशांत सर के डायरेक्टर/मैनेजर थे, ने मुझे अपने अपार्टमेंट में सुशांत सर के साथ रहने को कहा. इसलिए मैंने उसके साथ रहना और काम करना शुरू कर दिया.’

अप्रैल 2019 में छोड़ दी थी सुशांत की नौकरी 



दीपेश ने आगे कहा, ‘कुशाल झवेरी, अब्बास, अशोक भाई (कुक,) सिद्धार्थ गुप्ता, सैमुअल हॉकिप, केशव बासनेट, संजय महतो भी उस घर में मेरे साथ रह रहे थे. बाद में मैंने कुशाल झवेरी और सुशांत सर के निर्देशानुसार काम शुरू किया. हमने सुशांत की निजी वीडियो सामग्री की शूटिंग शुरू की, जिसे वह सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म इंस्टाग्राम पर पोस्ट करते थे. मुझे वेतन देने का वादा किया गया था, लेकिन दूसरे महीने में मुझे बताया गया कि मुझे भुगतान नहीं किया जाएगा और कहा कि यह अब से सभी के लिए मुफ्त होगा. मुझे दीवाल 2018 में 1,00,000 रुपये का बोनस मिला. जनवरी 2019 में मुझे लगा कि वह आक्रामक होने लगे थे. फरवरी में उनकी बहन (प्रियंका सिंह) और बहनोई (सिद्धार्थ तंवर) आए थे और उनके प्रबंधन का काम देखना शुरू कर दिया था. 2019 के अप्रैल महीने में, उनका स्टाफ पंकज (लड़का), जीतू (असिस्टेंट ब्वॉय), रजत (अकाउंटेंट) और अब्बास (एडिटर) को हटा दिया गया था. मैं उन परिस्थितियों से डरा हुआ था, जिसके कारण मैंने अप्रैल 2019 में सुशांत सर की नौकरी छोड़ दी थी.

2018 में वीड/गांडा और चरस लेते देखा



दीपेश ने बयान में आगे बताया, ‘2018 के सितंबर महीने में मेरे शामिल होने के दो-तीन दिन बाद, मैंने उन्हें वीड/गांडा और चरस धूम्रपान करते देखा. एक दिन मैंने अशोक भाई (कुक) से पूछा कि क्या सुशांत सर भी वीड लेते हैं, तो उसने हां कहा और बताया कि करण (मुझे उसका पूरा नाम नहीं पता) पहली बार सुशांत सर को गांजा और चरस दिया था. उस दौरान अब्बास, सुशांत सर के लिए गांजा या चरस तैयार कर रहे थे और उनके और कुशाल सर के साथ धूम्रपान भी कर रहे थे. मैं कभी सुशांत सर के लिए गांजा नहीं लाया, लेकिन मेरे एक साथी ऋषिकेश पवार सुशांत सर के लिए गांजा लाते थे. यह पूछे जाने पर कि मैं आपको सूचित करता हूं कि 2020 के जनवरी महीने में मुझे केशव (कुक) नंबर के माध्यम से सुशांत सर का फोन आया था और उन्होंने मुझे उनके बांद्रा निवास, माउंट ब्लैंक में मिलने के लिए बुलाया था.’

18 जनवरी, 2020 को फिर से सुशांत के साथ काम करने लगे

दीपेश ने बताया, ‘जिस समय मैं उनसे मिला, तो उक्त वह बहुत डाउन लग रहे थे और कह रहे थे कि वह अभिनय छोड़कर पवना, लोनावाला में शिफ्ट होने वाले हैं और उन्होंने मुझे उससे फिर से जुड़ने के लिए कहा और मैंने उसी दिन 18 जनवरी, 2020 को उसके साथ काम करना शुरू कर दिया. पूछने पर मैंने आपको सूचित किया कि मैं आपको उपरोक्त व्यक्तियों का मोबाइल नंबर प्रदान नहीं कर सकता, क्योंकि मेरे निजी मोबाइल फोन को सुशांत सुसाइड केस के लिए सीबीआई द्वारा जब्त कर लिया है.’

Loading...

<-- ADVERTISEMENT -->

Reactions:

Sushant Singh Rajput

Post A Comment:

0 comments: