26 रुपए लेकर मुंबई आए थे सिनेमा के नारद मुनि, विलेन बनकर बटोरी खूब लोकप्रियता - BackToBollywood

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

26 रुपए लेकर मुंबई आए थे सिनेमा के नारद मुनि, विलेन बनकर बटोरी खूब लोकप्रियता

26 रुपए लेकर मुंबई आए थे सिनेमा के नारद मुनि, विलेन बनकर बटोरी खूब लोकप्रियता

<-- ADVERTISEMENT -->



70 और 80 के दशक के मशहूर अभिनेता रहे जीवन साहब का असली नाम ओंकार नाथ धार था. वह बचपन से ही एक्टिंग में आना चाहते थे. उनका परिवार बहुत बड़ा था. उनके 24 भाई बहन थे. जब उनका जन्म हुआ तो उनकी मां का निधन हो गया. 3 साल की उम्र में उन्होंने अपने पिता को खो दिया.

naradmuni

जीवन का जन्म ऐसे परिवार में हुआ जहां एक्टिंग को कोई तवज्जो नहीं दी जाती थी. इसी वजह से उन्हें एक्टिंग इंडस्ट्री में आने की इजाजत नहीं मिली. लेकिन जब वह 18 साल के हो गए तो भागकर मुंबई आ गए. जब वह मुंबई आए तो उनके पास केवल 26 रुपए थे. उन्हें अपने शुरुआती जीवन में बहुत मुश्किलें झेलनी पड़ी.

naradmuni

उन्हें रोजी रोटी के लिए नौकरी की जरूरत थी जिस वजह से उन्होंने मोहनलाल सिन्हा के स्टूडियो में काम किया, जो उस समय जाने-माने डायरेक्टर थे. मोहनलाल को जब पता चला कि जीवन एक्टिंग करना चाहते हैं तो उन्होंने अपनी फिल्म फैशनेबल इंडिया में उन्हें काम करने का मौका दिया.

naradmuni

मोहनलाल ने लगभग 60 फिल्मों में नारद मुनि की भूमिका निभाई. 50 के दशक में बनी हर धार्मिक फिल्म में उन्हें नारद का रोल दिया जाता. लेकिन उन्हें सबसे ज्यादा लोकप्रियता फिल्म रोमांटिक इंडिया से मिली. जीवन ने इसके बाद कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा. उन्होंने कई फिल्मों में खलनायक का भी किरदार निभाया. जीवन ने एक्टिंग के अलावा फोटोग्राफी, एक्शन, संगीत और नृत्य के क्षेत्र में भी हाथ आजमाया. लेकिन उन्हें कामयाबी नहीं मिली.

Loading...

<-- ADVERTISEMENT -->

Reactions:

bollywood celebs

ThenAndNow

Post A Comment:

0 comments: