रकुलप्रीत आखिर क्यों बन गई शाकाहारी, जोक्विन फिनिक्स और सनी लियोनी की इस बात पर करिए गौर - BackToBollywood

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

रकुलप्रीत आखिर क्यों बन गई शाकाहारी, जोक्विन फिनिक्स और सनी लियोनी की इस बात पर करिए गौर

रकुलप्रीत आखिर क्यों बन गई शाकाहारी, जोक्विन फिनिक्स और सनी लियोनी की इस बात पर करिए गौर

<-- ADVERTISEMENT -->



rakul-preet-singh-goes-the-vegan-you-should-listen-joaquin-phoenix-and-sunny-leone

अगर कोई इंसान अचानक से शाकाहारी बन जाए तो यह थोड़ा अजीब लगता है, क्योंकि एक बार जुबान पर जो स्वाद चढ़ जाता है उससे छोड़ना बहुत ही मुश्किल होता है, लेकिन हाल ही में मशहूर एक्ट्रेस रकुल प्रीत सिंह ने यह घोषणा कर दी कि वह अब शाकाहारी बन गई है. रकुल प्रीत सिंह इस फैसले से काफी खुश है. उन्होंने कहा- मेरे खाने में हमेशा मीट शामिल होता था. एक दिन मैंने फैसला किया कि अब मैं शाकाहारी बनूंगी. अब मैं बहुत हल्का और एनर्जेटिक महसूस कर रही हूं.

rakul-preet-singh-goes-the-vegan-you-should-listen-joaquin-phoenix-and-sunny-leone

बता दें कि कुछ समय पहले सनी लियोनी ने लैक्मे फैशन वीक 2020 में एक कैंपेन लॉन्च किया था जिसका थीम था- लेदर इज अ रिप ऑफ. सनी लियोनी ने इस दौरान कहा था- लेदर बैग, बेल्ट या जूते को खरीदते वक्त लोगों को यह सोचना चाहिए कि यह चीजें जानवरों की खालों से बनी है, उससे जानवरों को कितनी परेशानी हुई होगी. बिना लेदर के बने प्रोडक्ट भी उतने ही ज्यादा खूबसूरत लगते हैं. अगर हम लेदर से बने सामानों का इस्तेमाल बंद कर दें तो उन जानवरों को बचाया जा सकता है.

rakul-preet-singh-goes-the-vegan-you-should-listen-joaquin-phoenix-and-sunny-leone

बता दें कि 92वें एकेडमी अवार्ड समारोह में ऑस्कर जीतने वाले सर्वश्रेष्ठ अभिनेता जोक्विन फिनिक्स ने भी जानवरों को बचाने की मुहिम का समर्थन किया. उन्होंने कहा- मुझे लगता है कि प्राकृतिक दुनिया से हमारा संपर्क टूट चुका है. हम में से कई मानते हैं कि हम इस ब्रह्मांड की धुरी है. हम बदलने के विचार से भी डरते हैं, क्योंकि हमें लगता है इसके लिए हमें कुछ त्याग करना होगा. अपनी रचनात्मक शक्तियों ने जरिए हम ऐसी व्यवस्था बना सकते हैं, जो सभी संवेदनशील जीवों और पर्यावरण के हित में हो.


Loading...

<-- ADVERTISEMENT -->

Reactions:

bollywood celebs

Celebs Gossips

Post A Comment:

0 comments: