फिर ट्रोलर्स के निशाने पर आए अक्षय कुमार, एड में दहेज प्रथा को बढ़ावा देने को लेकर सोशल मीडिया पर मचा बवाल - BackToBollywood

Blog Archive

Search This Blog

Total Pageviews

फिर ट्रोलर्स के निशाने पर आए अक्षय कुमार, एड में दहेज प्रथा को बढ़ावा देने को लेकर सोशल मीडिया पर मचा बवाल


<-- ADVERTISEMENT -->

All in one downloader


हाल ही में मिनिस्ट्री ऑफ रोड ट्रांसपोर्ट एंड हाईवे ऑफ इंडिया (MORTH) ने लोगों को छह एयरबैग के प्रति जागरूक करने के लिए टीवी कमर्शियल जारी किया है, जिसमें एक्टर अक्षय कुमार नजर आ रहे हैं।

लगभग एक मिनट की वीडियो क्लिप में अक्षय कुमार एक पुलिसकर्मी की भूमिका में नजर आ रहे हैं। वे एक दुल्हन के पिता से कहते हैं कि अगर वह अपनी बेटी को सिर्फ दो एयरबैग वाली कार में विदा करते हैं, तो उनके पास निश्चित रूप से रोने का एक कारण है। वह कहते हैं- 'ऐसी गाड़ी में बेटी को विदा करोगे तो रोना तो आएगा ही।

फिर दुल्हन के पिता कार में सभी महंगे फीचर्स की लिस्ट बताते हैं। कार में सनरूफ और छह स्पीकर जैसे तमाम फीचर्स होते हैं। इसके बाद अक्षय कुमार कहते हैं। अरे, लेकिन एयरबैग तो केवल दो हैं ना, छह क्यों नहीं? एक्सीडेंट हुआ तो केवल आगे के दो एयरबैग खुलेंगे। पीछे संगीत सुनते-सुनते बेटी और जमाई दोनो टाटा-टाटा बाय-बाय हो जाएंगे।

बस फिर क्या था इसके बाद लोगों ने अक्षय कुमार को आड़े हाथ लेना शुरू कर दिया। कुछ यूजर्स इस विज्ञापन का विरोध कर रहे हैं। उनका कहना है कि एक्टर का यह विज्ञापन दहेज प्रथा को बढ़ावा देने वाला है।

refg.jpg

एक यूजर ने लिखा, 'क्या आपको पता है कि आप दहेज को बढ़ावा दे रहे हैं?'

एक अन्य यूजर ने लिखा, 'क्यों हम और आप नॉर्थ इंडिया में बेटियों के गरीब मां-बाप पर बोझ बढ़ा रहे हैं? छह एयरबैग का ऐड बनाने के लिए कोई और तरीका भी हो सकता था।'

एक अन्य यूजर ने लिखा, 'आप इस विज्ञापन के जरिए उन तमाम पिताओं पर बोझ बढ़ा रहे हैं, जिन्हें बेटियों की शादी करनी है।'

एक और यूजर ने लिखा- ‘केवल भारत में ही सरकार टैक्स पेयर का पैसा एक दहेज जैसे दंडनीय अपराध को बढ़ावा देने वाले ऐड कैंपेन बनाने के लिए खर्च करेगी।’

इससे पहले अक्षय कुमार को उनकी फिल्म रक्षाबंधन को लेकर घेरा गया था। इस फिल्म के बायकॉट की सोशल मीडिया पर जमकर मांग उठी थी। फिल्म बॉक्स ऑफिस पर फ्लॉप साबित हुई थी।



<-- ADVERTISEMENT -->

AutoDesk

Entertainment

Post A Comment:

0 comments: