अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को न्याय दिलवाने के लिए अभिनेता रवि किशन ने लिखा प्रधानमंत्री को चिट्ठी - BackToBollywood

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को न्याय दिलवाने के लिए अभिनेता रवि किशन ने लिखा प्रधानमंत्री को चिट्ठी

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को न्याय दिलवाने के लिए अभिनेता रवि किशन ने लिखा प्रधानमंत्री को चिट्ठी

<-- ADVERTISEMENT -->





सुशांत सिंह राजपूत के मर्डर केस में रिया चक्रवर्ती पहले दिन से ही संदिग्ध मानी जा रही थी, लेकिन मुंबई पुलिस उनको बचाने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाते हुए इस केस को रफा-दफा करने के चक्कर में पड़ी हुई थी, लेकिन सच्चाई को कभी भी छिपाया नहीं जा सकता इसका जीता जागता नमूना है यह केस।


सुशांत की मौत के तुरंत बाद से ही लोग यह कयास लगा रहे थे कि वह आत्महत्या नहीं कर सकते हैं और आज यह बात सबके सामने कई प्रूफ के साथ आ चुकी है कि उनका मर्डर हुआ है और इसमें सबसे बड़ी संदिग्ध है उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती,हालांकि अब तक रिया चक्रवर्ती में मुंबई पुलिस की मदद से लोगों को बहुत बेवकूफ बनाया है ।



अब जब या केस सीबीआई के हाथों सौंपा गया है तो रिया की मुश्किलें बढ़ती जा रही है, और जब से ड्रग्स का एंगल इस केस में सामने आया है तमाम लोग रिया चक्रवर्ती के एकदम खिलाफ हो चुके हैं । वहीं आज सुशांत सिंह के दोस्त रवि किशन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी चिट्ठी लिखी है।

एक न्यूज़ पोर्टल के इंटरव्यू के जरिए पता चला है कि

एक न्यूज़ पोर्टल को दिए गए इंटरव्यू में रवि किशन ने बताया कि उन्होंने सुशांत मामले में प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखा है। रवि किशन ने कहा – वो अब भी ये मानने को तैयार नहीं कि सुशांत आत्महत्या कर सकते हैं। रवि ने कहा सुशांत का मर्डर हुआ है। सुशांत की मौत बड़ी गुत्थी बन गई है। आखिर सुशांत को किसने और क्यों मारा ? इन सवालों के जवाब मिलने चाहिए।सुशांत मामले में सामने आए ड्रग एंगल को लेकर भी रवि किशन ने अपनी बात रखी। रवि किशन ने कहा इस पहलू की भी जांच होनी चाहिए। अगर बॉलीवुड की पार्टियों में ड्रग्स का इस्तेमाल होता है तो उन पेडलर्स को भी पकड़ना चाहिए और जेल भेज देना चाहिए। रवि किशन ने कहा भारत युवाओं का देश है और युवा नशे से प्रभावित हो सकते हैं।

Loading...

<-- ADVERTISEMENT -->

Reactions:

Celebs Gossips

Sushant Singh Rajput

Post A Comment:

0 comments: