'अंधेरी सुरंग में कोई रोशनी नहीं थी' जब शादी को लेकर छलका था जीनत अमान का दर्द - BackToBollywood

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

'अंधेरी सुरंग में कोई रोशनी नहीं थी' जब शादी को लेकर छलका था जीनत अमान का दर्द


<-- ADVERTISEMENT -->



भारतीय सिनेमा की सबसे पसंदीदा अभिनेत्रियों में से एक ज़ीनत अमान (Zeenat Aman) ने इंडस्ट्री में अपना एक अलग ही ट्रेंड सेट किया है। बॉलीवुड इंडस्ट्री में आते ही अपनी बोल्डनेस से तड़का लगाने वाली जीनत अमान (Zeenat Aman) 70 साल की हो गई है। उनका जन्म 19 नवंबर, 1951 को मुंबई में हुआ था। बहुत कम लोग जानते हैं कि फिल्मों में आने से पहले जीनत एक पत्रकार थीं, लेकिन फिर वो मॉडल बनीं और धीरे-धीरे बॉलीवुड में बतौर एक्ट्रेस नाम कमाया। जीनत के पिता अमानुल्लाह खान स्क्रिप्ट राइट थे और बतौर सहायक उन्होंने मुगल-ए-आजम और पाकीजा जैसी फिल्मों की स्क्रिप्ट लिखी।

वे अमान नाम से लिखते थे। जीनत जब 13 साल की थीं तब उनके पिता गुजर गए तो जीनत ने अपने नाम में पिता का नाम जोड़ लिया और वे जीनत खान से जीनत अमान बन गईं।लोग उनकी फिल्मों को आज भी बहुत पसंद करते हैं, और आज भी उन्हें बॉलीवुड की सबसे स्टाइलिश, और सबसे बोल्ड अभिनेत्रियों में से एक माना जाता है। जीनत अमान की पर्सनल लाइफ काफी उतार चढ़ावों से भरी रही है। । उनकी शादीशुदा जिंदगी काफी उतार चढ़ावों से भरी हुई थी। उन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान बताया था कि वो अपनी शादीशुदा जिंदगी में खुश नहीं थीं। आइए आपको उनकी निजी जिंदगी की कुछ अनसुनी सच्चाइयों के बारे में बताते हैं

जीनत ने कहा था कि मजहर नहीं चाहते थे कि मैं फिल्मों में काम करूं। उनका कहना था मैं घर पर बच्चों के साथ रहूं। उन्होंने ये भी बताया था कि उनकी 12 सालों की शादीशुदा जिंदगी में उन्हें एक पल भी खुशी का नसीब नहीं हुआ था। जीनत ने कहा था कि ‘मुझे शादी के कुछ समय बाद ही एहसास हो गया था कि मैंने बहुत बड़ी गलती कर दी है। फिर भी मैंने इस शादी को एक मौका देना चाहा। उस वक्त मुझे ऐसा लग रहा था जैसे गहरे सुरंग में मेरे लिए कोई रोशनी ही नहीं थी’। उन 12 सालों के दौरान मुझे खुशी का एक भी क्षण नहीं मिला, लेकिन फिर भी मैंने इस पर काम करने की कोशिश की।"

यह भी पढ़ें-



<-- ADVERTISEMENT -->

AutoDesk

Entertainment

Post A Comment:

0 comments: