एक फोन कॉल से चूर-चूर हो गया था अक्षय कुमार का सपना, फिर गया था सारी उम्मीदों पर पानी - BackToBollywood

Blog Archive

Search This Blog

Total Pageviews

एक फोन कॉल से चूर-चूर हो गया था अक्षय कुमार का सपना, फिर गया था सारी उम्मीदों पर पानी


<-- ADVERTISEMENT -->



बॉलीवुड इंडस्ट्री में अक्षय कुमार को 31 साल पूरे हो चुके हैं। आज के दिन यानी की 25 जनवरी, 1991 को आई फिल्म 'सौगंध' से उन्होंने इंडस्ट्री में कदम रखा था। वैसे तो ये फिल्म फ्लॉप साबित हुई थी। मगर फिर भी अक्षय ने अपने दम पर बॉलीवुड में नाम कमाया है। वो आज इंडस्ट्री में सबसे बीजी रहने वाले स्टार्स में से एक हैं। उनके पास फिल्मों की लाइन लगी रहती है और उनकी वो बैक टू बैक शूटिंग करते रहते हैं।

लेकिन शायद ही लोग जानते होंगे कि जय देवगन ने जिस ब्लॉकबस्टर फिल्म से बॉलीवुड में कदम रखा था वो पहले अक्षय कुमार को ऑफर हुई थी और उस फिल्म का नाम है 'फूल और कांटे'। अक्षय के अनुसार जिस रात वे इस फिल्म की शूटिंग की तैयारी कर रहे थे उसी रात एक फोन कॉल ने उन्हें जोरदार झटका दिया था और पल भर में उनकी सारी उम्मीदों पर पानी फिर गया था। इस फोन कॉल ने उनकी किस्मत बदलकर रख दी। जिसके बाद उन्हें अपनी फ्लॉप फिल्म 'सौगंध' से डेब्यू करना पड़ा था।

अक्षय कुमार ने फिल्में पाने के लिए खूब स्ट्रगल किया। उन्होंने एक रोल पाने के लिए कई प्रोड्यूसर और डायरेक्टर के ऑफिस के चक्कर भी काटे। फिर जब किस्मत पलटी तो ऐसे झटका लगा कि सारे सपने चूर-चूर हो गए। अक्षय कुमार ने इंटरव्यू में बताया था कि उन्हें फिल्म फूल और कांटे में ऐन मौके पर रिप्लेस कर दिया गया था। उन्होंने कहा, "मैं 1991 में रिलीज हुई फिल्म फूल और कांटे में था। मैं इस फिल्म के सॉन्ग्स की मेकिंग में, फोटोशूट्स में और इसके अलावा और भी कई जगहों में मौजूद था।" अक्षय ने आगे कहा, "नदीम-श्रवण के साथ मेरा म्यूजिक सेशन चल रहा था, मैं फिल्म फूल और कांटे की शूटिंग की तैयारी कर रहा था, इसी दौरान एक कॉल आया और मुझसे कहा गया कि वे सुबह शूटिंग के लिए ना आए।"


उस वक्त अजय देवगन इंडस्ट्री में नए आए थे, और अक्षय कि इस फिल्म में अजय देवगन को रख लिया गया। 'फूल और कांटे' के साथ ही अजय देवगन ने अपने करियर की शुरुआत की थी। अजय बॉलीवुड में स्टंटमैन वीरु देवगन के बेटे हैं, वहीं अक्षय दिल्ली के आउटसाइडर हैं शायद यही वजह रही कि अक्षय को फिल्म से निकाल दिया गया था। मगर अक्षय ने भी हार नहीं मानी और फिल्म 'सौंगध' पाने में सफल हुए। मगर यह फिल्म फ्लॉप हो गई। अक्षय ने फिर भी हार नहीं मानी और उन्होंने अपनी कोशिशें सारी रखी।

अक्षय ने बताया, "मैंने 1993 में आई आमिर खान की फिल्म 'जो जीता वही सिकंदर' के लिए भी ऑडिशन दिया था। ये रोल एंटी हीरो का था। ऑडिशन में मुझे रिजेक्ट कर दिया गया और मेरी जगह दीपक तिजोरी को रोल दे दिया गया।" मगर 1994 वो वक्त था जब उनकी पहचान बॉलीवुड में होने लगी थी। उन्हें धड़ाधड़ फिल्मों के ऑफर भी मिलने लगे। इसी साल उनकी 12 फिल्में रिलीज हुईं थी। 1991 से 2000 तक उन्होंने करीब 42 फिल्मों में काम किया, जिसमें से लगभग 12 फिल्में हिट साबित हुई।

यह भी पढ़ें: हॉलीवुड एक्ट्रेस इवान राचेल वुड ने कहा "मेरे साथ 'हार्ट-शेप्ड ग्लासेस' की शूटिंग के दौरान ऑन कैमरा हुआ रेप"

अगर बात करें अक्षय कुमार के वर्कफ्रंट की तो उनकी मोस्ट अवेटेड फिल्म 'सूर्यवंशी' का उनके फैन्स को बेसब्री से इंतजार है। डायरेक्टर रोहित शेट्टी की इस फिल्म में उनके साथ कैटरीना कैफ लीड रोले में होंगी। वहीं अजय देवगन और रणवीर सिंह इसमें कैमियो करते नजर आएंगे। इनके अलावा वे 'अतरंगी रे', 'रामसेतु', 'पृथ्वीराज', 'बच्चन पांडे', 'रक्षाबंधन', 'सिंड्रेला' जैसी फिल्मों में नजर आने वाले हैं।

यह भी पढ़ें: कपिल शर्मा की वजह से विराट कोहली को करना पड़ा लाखो का भुगतान




<-- ADVERTISEMENT -->

AutoDesk

Entertainment

Post A Comment:

0 comments: