ऋतिक रोशन का केस क्राइम ब्रांच हुआ ट्रांसफर, Kangana Ranaut बोलीं- फिर से इसका ड्रामा शुरू - BackToBollywood

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

ऋतिक रोशन का केस क्राइम ब्रांच हुआ ट्रांसफर, Kangana Ranaut बोलीं- फिर से इसका ड्रामा शुरू


<-- ADVERTISEMENT -->



नई दिल्ली | बॉलीवुड की क्वीन कंगना रनौत (Kangana Ranaut) अपने बेबाक अंदाज के लिए जानी जाती हैं। साल 2016 कंगना के लिए बेहद ही मुश्किल समय रहा था। इस दौरान उनकी और ऋतिक रोशन (Hrithik Roshan) की लड़ाई दुनिया के सामने आ गई थी और दोनों ने एक दूसरे पर कई आरोप लगाए थे। अब ये मुद्दा एक फिर उठता हुआ दिखाई दे रहा है। ऋतिक ने जो एफआईआर 2016 में दर्ज (Hrithik Roshan case) कराई थी। ये मामला अब साइबर सेल से क्राइम ब्रांच इंटेलिजेंस यूनिट को ट्रांसफर कर दिया गया है। क्राइम ब्रांच प्रभारी और मुंबई पुलिस द्वारा इस बात की जानकारी दी है। जिसके मुताबिक, ऋतिक के मामले को साइबर सेल से क्राइम इंटेलिजेंस यूनिट में ट्रांसफर किया गया है।

Priyanka Chopra ने निक जोनास को खरी-खोटी सुनाते हुए कार से निकाला बाहर, ये थी वजह

टाइम्स नाऊ ने इस खबर को जैसे ही अपने ट्विटर पर शेयर कर बताया। कंगना रनौत ने इस पर अपना रिएक्शन देते हुए ऋतिक पर निशाना साधा है। कंगना ने अपने ट्विटर (Kangana Ranaut Twitter) पर ट्वीट करते हुए लिखा- उसकी कहानी फिर से शुरू हो गई है। हमारे ब्रेकअप और उसके डिवोर्स को लेकर इतने साल हो गए हैं लेकिन वो आगे नहीं बढ़ना चाहता है। वो किसी भी महिला को डेट करने से मना कर देता है। जैसे ही मैं अपनी पर्सनल लाइफ में कुछ हिम्मत जुटाती हूं वो अपना वही ड्रामा शुरू कर देता है। ऋतिक कब तक रोएगा एक छोटे से अफेयर के लिए?

कंगना के इस ट्वीट पर फैंस उनका समर्थन कर रहे हैं। वहीं कई यूजर्स कंगना को आड़े हाथों भी ले रहे हैं। बता दें कि ऋतिक ने कंगना पर आरोप लगाया था कि उन्हें कंगना की ईमेल आईडी से साल 2013 और 2014 में कई ईमेल मिले थे। जिसके बाद कंगना ने बताया था कि उस दौरान उनका ईमेल हैक्ड हुआ था। उन्होंने ऋतिक पर कई आरोप भी लगाए थे। इन दिनों कंगना अपनी फिल्म तेजस को लेकर बिजी हैं। हाल ही में वो फिल्म को लेकर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह से भी मिली थी। उन्होंने अपनी स्क्रिप्ट को लेकर कई सारी बातें की थी।


Loading...

<-- ADVERTISEMENT -->

Reactions:

AutoDesk

Entertainment

Post A Comment:

0 comments: