कंगना रनौत को भारी न पड़ जाए पंजाबियों से 'पंगा', अब दिलजीत दोसांझ ने दिखाया आइना - BackToBollywood

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

कंगना रनौत को भारी न पड़ जाए पंजाबियों से 'पंगा', अब दिलजीत दोसांझ ने दिखाया आइना


<-- ADVERTISEMENT -->



नई दिल्ली: कृषि कानून को लेकर किसानों का कई दिनों से आंदोलन चल रहा है। किसानों को देश ही नहीं बल्कि विदेशों से भी सपोर्ट मिल रहा है। वहीं, पंजाब इंडस्ट्री के सभी सितारे किसानों के समर्थन में उतर आए हैं। ऐसे में जब कंगना रनौत लगातार किसान आंदोलन को लेकर अपनी बात कह रही हैं तो पंजाबी सेलेब्स उन्हें जवाब दे रहे हैं।

हाल ही में कंगना ने एक ट्वीट किया था। इसमें उन्होंने एक बुजुर्ग महिला की तस्वीर शेयर की थी, जिसे उन्होंने शाहीन बाग वाली दादी बताया था। कंगना ने ट्वीट कर लिखा था, ‘ये तो वही दादी हैं, जिसे टाइम मैगजीन ने पॉवरफुल इंडियन बताया था। ये 100 रुपए में उपलब्ध हो जाती हैं। पाकिस्तानी पत्रकारों ने शर्मनाक तरीके से भारत के इंटरनेशनल पीआर को हाईजैक कर लिया है।’ उनके इस ट्वीट से बवाल मच गया। लोगों ने उनके दावे को गलत बताया। जिसके बाद उन्होंने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया। कंगना ने जिस बुजुर्ग महिला को शाहीन बाग वाली दादी बताया था, वो 73 साल की दादी महिंदर कौर हैं।

दिलजीत दोसांझ से पहले पंजाबी सिंगर जसबीर जस्सी ने भी कंगना को जवाब देते हुए एक ट्वीट किया था। जसबीर ने कंगना को चापलूस और बेशर्म बताया। दरअसल, कंगना ने अपने ट्वीट में लिखा था, "मोदी जी कितना समझाएंगे,कितनी बार समझाएंगे? शाहीन बाग में ख़ून की नदियां बहाने वाले भी ख़ूब समझते थे की उनकी नागरिकता कोई नहीं छीन रहा, लेकिन फिर भी उन्होंने दंग्गे किए देश में आतंक फैलाया और अंतरष्ट्रिया स्तर पे ख़ूब पुरस्कार भी जीते, इस देश को ज़रूरत है धर्म और नैतिक मूल्यों की।" कंगना के इस ट्वीट का जवाब देते हुए जसबीर ने लिखा, 'मुम्बई नगर निगम ने एक चबूतरा तोड़ा था तो दुनिया सिर पे उठाये घूमती थी। किसान की मां ज़मीन दांव पर लगी है और बात करती है समझाने की। किसान के हक़ नहीं बोल सकती तो उसके ख़िलाफ़ तो मत बोलो कंगना रनौत। चापलूसी और बेशर्मी की भी कोई हद होती है।'

himanshi_khurana_post.jpg

वहीं, हिमांशी खुराना ने भी कंगना को उनके एक ट्वीट पर मुंहतोड़ जवाब दिया था। कुछ वक्त पहले कंगना ने अपने ट्वीट में लिखा, 'शर्मनाक...किसान के नाम पर हर कोई अपनी रोटियां सेक रहा है। आशा है कि सरकार किसी एंटी नेशनल एलिमेंट को इस मौके का फायदा नहीं उठाने देंगे और टुकड़े गैंग को दूसरा शाहीन बाग ना बनाने दें।' ऐसे में हिमांशी ने कंगना को जवाब देते हुए लिखा, 'तो अब ये स्पोकपर्सन बन चुकी हैं। बात को गलत एंगल देना इनसे सीखे कोई ताकि कल को ये लोग कुछ करे पहले से ही लोगो में वजह फैला दिया कि क्यों दंगे होंगे।'

इससे साफ है कि पंजाब इंडस्ट्री के लोग न सिर्फ किसानों का समर्थन कर रहे हैं बल्कि उनके खिलाफ बोल रहे लोगों को भी करारा जवाब दे रहे हैं।


Loading...

<-- ADVERTISEMENT -->

Reactions:

AutoDesk

Entertainment

Post A Comment:

0 comments: