खराब करियर के चलते 4 सालों तक गोविंदा- सुनीता ने सीक्रेट रखी शादी, 18 साल बाद दोबारा लेने पड़े थे सात फेरे - BackToBollywood

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

खराब करियर के चलते 4 सालों तक गोविंदा- सुनीता ने सीक्रेट रखी शादी, 18 साल बाद दोबारा लेने पड़े थे सात फेरे


<-- ADVERTISEMENT -->



बॉलीवुड इंडस्ट्री के सबसे बेहतरीन एंटरटेनर में से एक गोविंदा आज पूरे 57 साल को हो चुके हैं। धमाकेदार डांस मूव और अलग स्टाइल से गोविंदा ने कामयाबी हासिल की और हर किसी को अपना दीवाना कर लिया। गोविंदा के चाचा आनंद सिंह एक सह डायरेक्टर और कलाकार थे जिन्होंने अपनी फिल्म तन-बदन से गोविंदा को लॉन्च किया था।

गोविंदा कुछ समय बाद ही आनंद की सिस्टर इन लॉ सुनीता मुंजाल से प्यार कर बैठे और दोनों ने गुपचुप शादी कर ली। जहां इंडस्ट्री में कई लोग दो शादियों के कारण चर्चा में रहते हैं वहीं गोविंदा इकलौते ऐसे एक्टर हैं जिन्होंने शादी के 18 साल बाद अपनी ही पत्नी से पूरे रीति रिवाज के साथ दोबारा शादी की थी। आइए जानते हैं क्या थी इस शादी की वजह-

गोविंदा ने साल 2015 में पत्नी सुनीता से दोबारा शादी की है। इस बारे में एक्टर ने खुद आपकी अदालत के दौरान इंटरव्यू में बताया था। गोविंदा की मां निर्मला देवी चाहती थीं कि वो 49 साल की उम्र में दोबारा शादी करें। अपनी मां की मर्जी को पूरा करने के लिए गोविंदा ने ठीक वैसा ही किया। उन्होंने 11 दिसम्बर 2015 में पत्नी सुनीता मुंजाल से दोबारा शादी की। दोनों की शादी धूमधाम से ट्रेडिशनल रीति रिवाजों को फॉलो करते हुए हुई जिसमें उनके बच्चे टीना आहूजा और यश वर्धन भी शामिल हुए थे।

कैसी थी सुनीता- गोविंदा की लव स्टोरी

सुनीता गोविंदा के चाचा आनंद सिंह की सिस्टर इन लॉ थीं। दोनों कुछ मुलाकातों के बाद ही एक दूसरे को दिल दे बैठे थे। एक दिन पार्टी से लौटते हुए गोविंदा हाथ गलती से सुनीता के हाथ से टच हुआ था लेकिन दोनों ने ही अपने-अपने हाथ नहीं हटाए और इस तरह दोनों के एक दूसरे को प्यार पर रजामंदी दी। कुछ दिनों तक रिलेशन में रहने के बाद गोविंदा और सुनीता ने 11 दिसम्बर 1987 में शादी कर ली।

4 सालों तक सीक्रेट रखी थी शादी

जिस समय गोविंदा और सुनीता की शादी हुई उस समय एक्टर का करियर स्टेबल नहीं था इसलिए दोनों ने शादी तो कर ली मगर इस बात को पूरी दुनिया से छिपाकर रखा। बाद में जब गोविंदा ने अपनी शादी की बात सबको बताई तो हर कोई हैरान रह गया।

नहीं चल सका पॉलिटिकल करियर

बॉलीवुड में बेहतरीन पहचान बनाने वाले गोविंदा ने साल 2004 में कांग्रेस पार्टी का दामन थाम लिया और अच्छे वोटों से जीत हासिल की। राजनीति की राह पर चल पड़े गोविंदा ने साथ ही साथ अपने एक्टिंग करियर पर भी फोकस करना चाहा। इस दौरान उनकी पार्टनर फिल्म रिलीज हुई थी। लेकिन एक्टर अच्छा तालमेल नहीं बना पाए और आखिरकार उन्होंने पार्टी से इस्तीफा दे दिया। एक छोटे से ब्रेक के बाद एक्टर ने इंडस्ट्री में कमबैक करने की भी कोशिश की लेकिन फिर उन्हें दोबारा पसंद के रोल की बजाए साइड रोल मिलने लगे।

एक्टर 34 सालों के एक्टिंग करियर में हीरो नं 1, कूली नं1, अखियों से गोली मारे और राजा बाबू जैसी बड़ी हिट फिल्में दे चुके हैं। एक्टर को इंडस्ट्री में हीरो नं 1 और चीची नाम से जाना जाता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Happy Birthday Govinda: Govinda-Sunita kept thier wedding secret for 4 years due to bad career, had to marry again after 18 years

Loading...

<-- ADVERTISEMENT -->

AutoDesk

Entertainment

Post A Comment:

0 comments: