गंगूबाई काठियावाड़ी के बेटे का आरोप - फिल्म के चलते लोग हमें वेश्या के परिवार वाले कहकर प्रताड़ित कर रहे - BackToBollywood

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

गंगूबाई काठियावाड़ी के बेटे का आरोप - फिल्म के चलते लोग हमें वेश्या के परिवार वाले कहकर प्रताड़ित कर रहे


<-- ADVERTISEMENT -->



संजय लीला भंसाली के निर्देशन में बन रही फिल्म 'गंगूबाई काठियावाड़ी' पूरी होने से पहले ही विवादों में आ गई है। यह फिल्म मुंबई की माफिया क्वीन और वहां के एक फेमस वेश्यालय की मालकिन रही गंगूबाई के जीवन पर आधारित है। अब गंगूबाई के 4 अडॉप्टेड बच्चों में से एक बाबूजी रावजी शाह ने हुसैन जैदी (जिनकी बुक 'माफिया क्वीन ऑफ मुंबई' को कहानी का आधार बनाया गया), एक्ट्रेस आलिया भट्ट और डायरेक्टर संजय लीला भंसाली के खिलाफ केस फाइल किया है।

शाह का आरोप- लोग प्रताड़ित कर रहे

शाह का कहना है कि जबसे फिल्म के पोस्टर्स और प्रोमो आए हैं, तबसे उनके इलाके के लोग उन्हें प्रताड़ित कर रहे हैं। इसकी वजह से उनके एक पैर में फ्रैक्चर भी हो गया है। उनके मुताबिक, न केवल उन्हें, बल्कि उनके परिवार और रिश्तेदारों को भी 'वेश्या के परिवार वाले' कहकर प्रताड़ित किया जा रहा है।

किताब के हिस्से को बताया

शाह ने बुक में गंगूबाई की वेश्यावृत्ति के बारे में लिखे गए हिस्से को अपमानजनक बताया है और कहा है कि यह उनकी निजता, आजादी और स्वाभिमान के अधिकार का उलंघन है। शाह ने फिल्म के प्रोडक्शन पर रोक लगाने और बुक की छपाई, सर्कुलेशन पर भी रोक लगाने की मांग की है। साथ ही अपील की है कि बुक से इन स्पेसिफिक चैप्टर्स को हटा दिया जाए।

कोर्ट ने आरोपियों से मांगा जवाब

मामले की पहली सुनवाई बॉम्बे सिटी सिविल कोर्ट में हो चुकी है। कोर्ट ने हुसैन जैदी, संजय लीला भंसाली और आलिया भट्ट को 7 जनवरी 2021 तक जवाब देने का वक्त दिया गया है।

रिपोर्ट्स की मानें तो शाह के लॉयर का कहना है कि राइटर, डायरेक्टर और एक्ट्रेस के खिलाफ एक महिला की मानहानि, उसकी गलत छवि बनाने और उसके खिलाफ अभद्र सामाग्री सर्कुलेट करने के आरोप में क्रिमिनल केस भी दर्ज हो सकता है। मामले में आलिया भट्ट या फिल्म के मेकर्स की ओर से कोई भी आधिकारिक स्टेटमेंट जारी नहीं किया गया है।

फिल्मसिटी में चल रही फिल्म की शूटिंग

फिल्म की शूटिंग इन दिनों मुंबई की फिल्मसिटी में जारी है। शूटिंग के लिए सेट डिजाइनिंग पर तकरीबन साढ़े छह करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। इस फिल्म में डॉन गंगूबाई की कहानी दिखाई जाएगी। गंगूबाई 60 के दशक में मुंबई माफिया का बड़ा नाम थीं। बताया जाता है कि उन्हें पति ने महज पांच सौ रुपए के लिए बेच दिया था। इसके बाद से ही वे वेश्यावृत्ति में लिप्त हो गईं थीं। इस दौरान उन्होंने मजबूर लड़कियों के लिए भी बहुत काम किया।

फिल्म में अजय देवगन का होगा कैमियो

फिल्‍म में अजय देवगन का कैमियो भी देखने को मिलेगा। राइटिंग टीम से जुड़े लोगों ने बताया कि भंसाली ने फिलहाल आलिया के अपोजिट रणबीर कपूर को साइन नहीं किया है। अजय देवगन भी आलिया के अपोजिट नहीं हैं। वे उनके मेंटर के रोल में हैं।

फिल्म में होंगे दो अलग-अलग टाइम जोन

फिल्‍म दो अलग-अलग टाइम जोन में सेट है। एक हिस्‍सा विभाजन से पहले का है, वहीं दूसरा भाग आठवें दशक में सेट है। 1946 के कमाठीपुरा को दिखाने के लिए भंसाली वहां 10 से ज्‍यादा बार जा चुके हैं और सेट को रियल लुक देने के लिए कई पुराने वास्तुकारों से भी मिल चुके हैं। हालांकि फिल्म में चौथे दशक का छोटा सा हिस्‍सा देखने को मिलेगा। बाकी 80 प्रतिशत फिल्‍म सातवें दशक में सेट है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Gangubai Kathiawadi son files case against Sanjay Leela Bhansali and Alia Bhatt, claims he and his family being harassed by locals due to film

Loading...

<-- ADVERTISEMENT -->

Reactions:

AutoDesk

Entertainment

Post A Comment:

0 comments: