पत्रकारिता छोड़ करण जौहर की कंपनी में शामिल हुए राजीव मसंद, कंगना रनौत ने साधा निशाना - BackToBollywood

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

पत्रकारिता छोड़ करण जौहर की कंपनी में शामिल हुए राजीव मसंद, कंगना रनौत ने साधा निशाना


<-- ADVERTISEMENT -->



नई दिल्ली: मशहूर फिल्म क्रिटिक और पत्रकार राजीव मसंद ने पत्रकारिता को अलविदा कह दिया है। खबरों के मुताबिक, अब वह बॉलीवुड प्रोड्यूसर करण जौहर की धर्मा कॉर्नरस्टोन एजेंसी (DCA) के साथ जुड़ गए हैं। वह COO (चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर) का काम करेंगे। करण जौहर की कंपनी में शामिल होने पर अब एक्ट्रेस कंगना रनौत ने राजीव मसंद की जमकर निशाना साधा है।

Video: बिना वीजा के दुबई एयरपोर्ट में रोका गया विवेक ओबेरॉय को, एक्टर ने सुनाया अनुभव

कंगना ने कहा कि राजीव स्टारकिड्स की चापलूसी करते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि पत्रकार होने के बावजूद वह हमेशा से करण जौहर के चमचे ही थे। कंगना ने ट्वीट कर लिखा, "राजीव ने सुशांत और मेरे बारे में सबसे जहरीले ब्लाइंड आर्टिकल लिखे थे। उसने खुलकर औसत दर्जे के स्टार किड्स के तलवे चाटे और जो फिल्में वाकई अच्छी थीं, उन्हें नेगेटिव रिव्यू दिए। पत्रकार होने के बावजूद भी वह हमेशा करन जौहर के चमचे ही थे। अच्छा हुआ कि वह पत्रकारिता का मुखौटा उतारकर आधिकारिक रूप से करन जौहर के साथ जुड़ गए।"

कंगना का गुस्सा यहीं शांत नहीं हुआ। उन्होंने एक और ट्वीट कर कहा, 'देखें, किस तरह मूवी माफिया ने हर जगह, एजेंट्स, क्रिटिक्स, जर्नलिस्ट, ड्रिस्ट्रीब्यूटर्स, अवॉर्ड और जूरी को हाइजैक कर अपने चापलूसों को हर जगह बैठा दिया है ताकि आपकी जिंदगी को हर तरह से बर्बाद किया जा सके। ये आपको बैन करते हैं, आपकी इमेज को खराब करते हैं, बहुत कम लोग बच पाते हैं। फिल्म इंडस्ट्री के लिए सख्त नियमों की जरूरत है।'

मकर संक्रांति पर Ankita ने किया पहले प्यार को याद, ट्रोलर्स भी बोलें- 'आंखों में नज़र आए सुशांत'

बता दें कि राजीव मसंद ने महज 16 साल की उम्र में मीडिया के क्षेत्र में कदम रखा था। उन्होंने कई बड़े न्यूज चैनल्स के साथ काम किया। इसके साथ ही राजीव मसंद पर एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के खिलाफ ब्लाइंड आर्टिकल लिखकर उन्हें बदनाम करने का आरोप लगा था। मुंबई पुलिस ने इस मामले में उनसे करीब 8 आठ घंटे तक पूछताछ की थी।


Loading...

<-- ADVERTISEMENT -->

AutoDesk

Entertainment

Post A Comment:

0 comments: