वन मंत्री के डिनर प्रस्ताव को ना कहना एक्ट्रेस Vidya Balan को पड़ा भारी, डीएफओ ने रोकी यूनिट की गाड़ी - BackToBollywood

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

वन मंत्री के डिनर प्रस्ताव को ना कहना एक्ट्रेस Vidya Balan को पड़ा भारी, डीएफओ ने रोकी यूनिट की गाड़ी


<-- ADVERTISEMENT -->



नई दिल्ली। इन दिनों बॉलीवुड एक्ट्रेस विद्या बालन ( Vidya Balan ) अपनी अपकमिंग फिल्म 'शेरनी' ( Sherni ) की शूटिंग कर रही हैं। फिल्म की शूटिंग मध्यप्रदेश के बालाघाट में ही हो रही है। इस बीच एक्ट्रेस को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है विद्या द्वारा एक मंत्री के घर डिनर का न्योता ठुकरा देने के बाद उनकी गाड़ी को रोक दिया गया। जिसके बाद से विद्या को सुर्खियों में आ गए हैं। चलिए आपको बतातें हैं कि पूरा मामला आखिर है क्या?

यह भी पढ़ें- B'day Special: मां की मौत का गम और पिता के रुखे व्यवहार की वजह से Prateik Babbar हो गए थे ड्रग्स के आदि

 

Vidya Balan

क्या है पूरा मामला

खबरों की मानें तो बताया जा रहा है कि फिल्म 'शेरनी' ( Sherni ) की शूटिंग के दौरान बालाघाट दक्षिण के जिला वन अधिकारी जीके बरखड़े ने अभिनेत्री को खाने का न्योता दिया था। वह न्योता एक्ट्रेस ने ठुकरा दिया था। बताया जा रहा है कि 8 नवंबर को मंत्री ने 11 से 12 बजे की मीटिंग का समय रखा गया था। जिसके कुछ समय बाद ही फिल्म की टीम की गाड़ियों को रोक दिया गया। कहा गया कि महज 2 ही टीम की गाड़ियां अंदर जा पाएंगी। जिसके बाद से यह पूरा मामला राज्य शासन तक पहुंचा। जिसके बाद फैसला आने के बाद सभी गाड़ियों को अनुमति के साथ अंदर जाने की इजाजत दी गई।

Vidya Balan

बताया जा रहा है कि वन मंत्री को बालाघाट से महाराष्ट्र के ताडोबा अंधारी टाइगर रिजर्व जिला चंद्रपुर जाना था। जहां उनके ठहरने का प्लान था। वहीं विद्या महाराष्ट्र के गोंदिया में ही ठहरी हुई थी। यही वजह थी कि उन्होंने मंत्री जी के साथ रात का खाना खाने से माना कर दिया था। जिसके दूसरे ही दिन फिल्म की टीम की गाड़ियां रुक दी गई। वन विभाग ने ही इस पूरे मामले की जानकारी राज्य शासन को दी थी। जिसके बाद डीएफओ को कुछ निर्देश दिए गए और फिल्म की शूटिंग को फिर से शुरू किया गया।

यह भी पढ़ें- फिल्म के लिए भाई सलमान की दुश्मनी भूले अरबाज खान, Vivek Oberoi की फिल्म में करेंगे काम

Vidya Balan

किसने की थी डिनर की व्यवस्था

इस पूरे मामले में वन मंत्री का बयान सामने आया है। जिसमें उन्होंने बताया कि एक्ट्रेस संग मिलने की बात बिल्कुल ठीक है। लेकिन डिनर की जो व्यवस्था की जा रही थी। वह उनकी तरफ से नहीं बल्कि जिला प्रशासन की तरफ से किया जा रहा था। साथ ही गाड़ियों को रोकने पर मंत्री ने बताया कि पहले 2 जनरेटर की गाड़ियां ले जाया जाती थीं, लेकिन उसके बाद जंगल से चार गाड़ियां ले जाने की कोशिश की जा रही थी। जिसे डीएफओ ने ही रुकवाया था।


Loading...

<-- ADVERTISEMENT -->

Reactions:

AutoDesk

Entertainment

Post A Comment:

0 comments: