एक्ट्रेस सोनाली बेंद्रे पर आया था राज ठाकरे का दिल, करना चाहते थे शादी - BackToBollywood

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

एक्ट्रेस सोनाली बेंद्रे पर आया था राज ठाकरे का दिल, करना चाहते थे शादी


<-- ADVERTISEMENT -->



नई दिल्ली। बॉलीवुड एक्ट्रेस सोनाली बेंद्रे अब फिल्मों में कम ही नजर आती हैं। लेकिन एक वक्त था जब इंडस्ट्री में उनका बोलबाला था। 90 के दशक में वह काफी पॉपुलर हुआ करती थीं। उन्होंने एक से बढ़कर एक फिल्मों में काम किया। सोनाली ने 'सरफरोश', 'हम साथ साथ है', 'डुप्लीकेट', 'सपूत', 'जख्म' समेत कई हिट फिल्में दी हैं। लेकिन एक्टिंग से ज्यादा लोग उनकी खूबसूरती पर मरा करते थे। कई ऐसे एक्टर्स थे जो सोनाली पर फिदा थे और इस लिस्ट में एमएनएस चीफ राज ठाकरे का भी नाम शामिल है।

ये भी पढ़ें: मां जया बच्चन से नहीं बल्कि पत्नी ऐश्वर्या राय से सबसे ज्यादा डरते हैं अभिषेक बच्चन

सोनाली और राज ठाकरे का था अफेयर
ये उस वक्त की बात है जब महाराष्ट्र, खासकर मुंबई में बाला साहब ठाकरे का सिक्का चलता था। पॉलिटिक्स के साथ-साथ फिल्मों में भी ठाकरे परिवार का दखल था। लेकिन इसी वक्त बाल ठाकरे के भतीजे और महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना चीफ ठाकरे और सोनाली बेंद्रे के अफेयर की खबरें आने लगीं। दोनों एक-दूसरे से बेहद प्यार करते थे और एक-दूसरे से शादी भी करना चाहते थे। लेकिन जिस वक्त दोनों प्यार में पड़े उस वक्त राज ठाकरे पहले से ही शादीशुदा थे।

sonali_bendre_1.jpg

बाल ठाकरे ने दी सलाह
इसके बाद राज ठाकरे और सोनाली बेंद्रे के अफेयर की खबरें बाल ठाकरे तक पहुंची तो उन्होंने इस रिश्ते से साफ इंकार कर दिया। उन्होंने राज ठाकरे को दो टूक कह दिया था कि अगर वो शादीशुदा होते हुए भी सोनाली से दूसरी शादी करते हैं तो इससे उनकी और पार्टी की छवि खराब होगी। ऐसे में ये उनके भविष्य के लिए बिल्कुल ठीक नहीं होगा। ताऊ बाल ठाकरे की बात मानते हुए राज ठाकरे शादी के फैसले से पीछे हट गए। लेकिन खबरें हैं कि इसके बाद भी राज और सोनाली सालों तक एक-दूसरे को डेट करते रहे।

ये भी पढ़ें: लीजा हेडन की प्रेग्नेंसी पर यूजर ने किया उन्हें ट्रोल, एक्ट्रेस ने दिया मुंहतोड़ जवाब

प्यार के आगे राजनीति को चुना
राज ठाकरे ने बाल ठाकरे की बात इसलिए भी मान ली थी क्योंकि उन्हें लगता था कि बाल ठाकरे के बाद पार्टी की कमान उन्हीं को मिलेगी। ऐसे में उन्होंने प्यार के आगे राजनीति को चुना। लेकिन बाद में शिवसेना की कमान उद्धव ठाकरे को मिली। जिसके बाद राज ठाकरे ने नवनिर्माण सेना के नाम से नई पार्टी बनाई।



Loading...

<-- ADVERTISEMENT -->

AutoDesk

Entertainment

Post A Comment:

0 comments: