Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

हनुमान जी पूजा कब और कैसे करनी चाहिए, जानिए कौन सा समय है शुभ-मुहूर्त


<-- ADVERTISEMENT -->




हिन्दू धर्म में हनुमान जी कलियुग के देवता माने गए है। हनुमान चालीसा का पाठ करने से बजरंगबली खुश होते हैं और भक्तों की मनोकामना पूरी करते हैं। मंगलवार का दिन हनुमान जी की पूजा के लिए सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। धर्म शास्त्रों के अनुसार मंगलवार का व्रत रखने से कुंडली में मंगल ग्रह के निर्बल होने का प्रभाव बदल जाता है और शुभ फल की प्राप्ति होती है। 

शुभ समय और कैसे करनी चाहिए पूजा:

मंगलवार को पूजा का शुभ मुहूर्तमंगलवार को हनुमान जी की पूजा का शुभ मुहूर्त सुबह और शाम दोनों होता है। इस दिन आप सुबह सूर्योदय के बाद और शाम को सूर्यास्त के बाद हनुमान जी की पूजा कर सकते हैं।

मंगलवार के दिन सबसे पहले सुबह उठकर स्नान आदि कर निवृत होकर लाल वस्त्र धारण करें। कोशिश करें की आपने जो वस्त्र पहना है वह सिला हुआ न हो। इस दिन आप मंदिर व घर कहीं भी पूजा-पाठ कर सकते हैं। 

ईशान कोण को साफ कर वहां पर एक चौकी स्थापित करें और उस पर लाल वस्त्र बिछाएं। फिर उस पर हनुमान जी की मूर्ती स्थापित करें और वहां पर भगवान श्री राम और माता सीता की भी प्रतिमा जरूर रखें। 

इसके बाद घी का दीपक और धूप दीप जलाकर सुंदर कांड का पाठ करें और हनुमान जी के मंत्रों का जाप करें। हनुमान जी को लाल फूल, लाल सिंदूर और चमेली का तेल चढ़ाएं।

इसके बाद हनुमान चालीसा का पाठ कर हनुमान जी की आरती करें और भगवान को गुड़, केले और लड्डू का भोग लगाएं।


Loading...

<-- ADVERTISEMENT -->

AutoDesk

news

Post A Comment:

0 comments: