Anupama 17th June 2021 Written Updates: वनराज से अलग होते ही 'अनुपमा' ने बदला अपना नाम, बनाने जा रही हैं अपनी नई पहचान - BackToBollywood

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

Anupama 17th June 2021 Written Updates: वनराज से अलग होते ही 'अनुपमा' ने बदला अपना नाम, बनाने जा रही हैं अपनी नई पहचान


<-- ADVERTISEMENT -->



नई दिल्ली। शो 'अनुपमा' में इन दिनों वनराज, काव्या और अनुपमा की बदली जिंदगी को दिखाया जा रहा है। अनुपमा अपने स्कूल की ओर लौटती हैं और डांस स्टूडियो खोलने का सपना पूरा कर रही हैं। वहीं नौकरी पाने की कोशिश में वनराज अपनी हिम्मत खोते जा रहे हैं। काव्या ने घर में आते ही अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। जानिए अनुपमा के लेटेस्ट एपिसोड में आज रात क्या होगा।

काव्या ने मारा वनराज को ताना

काव्या ऑफिस के लेट हो जाती है। काव्या वनराज को बॉय कहते हुए उनकी गाड़ी की चाबी ले जाती है। वनराज काव्या से कहते हैं कि उनका आज इंटरव्यू हैं। वो लेट नहीं हो सकते है। काव्या कहती है कि तुम्हें जॉब मिलेगी या नहीं मिलेगी नहीं पता, लेकिन वो ऑफिस नहीं पहुंची तो उनकी जॉब जरूर चली जाएगी। ये सुन वनराज काफी दुखी हो जाते हैं। इंटरव्यू के लिए जाते हुए वनराज बॉ-बाबू जी के पैर छूते हैं और उनसे कहते हैं कि बच्चा कितना भी बड़ा हो जाए उसे मां-बाप की जरूरत पड़ती ही है।

अनुपमा-वनराज की शुरू हुई अलग-अलग जिंदगी

अनुपमा लंबे समय बाद स्कूल जाती हैं। स्कूल में अनुपमा को देख सभी काफी खुश हैं। बच्चे भी अनुपमा को देख खुश हो जाते हैं और फिर उन्हें इतनी लंबी छुट्टी ना जानें की बात कहते हैं। वहीं दूसरी ओर वनराज इंटरव्यू के लिए जाते हैं। जहां उनकी उम्र की वजह से उन्हें नौकरी नहीं दी जाती। इस दौरान वनराज अनुपमा का उदाहरण बॉस को देते हुए कहता है कि 46 साल की एक औरत जिसने अपनी जिदंगी किचन और मसालों के बीच गुजारी दी। वो आज स्कूल में पढ़ा रहीं हैं और जल्द ही डांस स्कूल खोलने जा रही हैं।

बेटी किंचल की हालत देख दुखी हुई राखी दवे

बॉ और बाबू जी घर पर फिल्म देख अपना टाइम पास कर रहे होते हैं। इतने में राखी दवे आ जाती हैं। राखी बॉ से कहती हैं कि उन्हें उनसे जरूरी बात करनी है। इतने में किंचल ऑफिस से लौटते हुए हाथों में ढेर सारी सब्जियां लाती हैं। किंचल के हाथों में सब्जी देख राखी दवे काफी दुखी हो जाती हैं। राखी ये देख भड़क जाती हैं। वो बॉ से लड़ती हैं और उन पर चिल्लाने लगती हैं। राखी दवे बॉ से कहती हैं कि क्यों फुल टाइम नौकरानी नहीं रख सकती। बॉ बताती हैं कि झिलमिल गई हुईं हैं। वरना सारा काम वो ही कर देती है। बॉ राखी दवे को बताती है कि उन्होंने बाबू जी के साथ मिलकर सारा काम कर लिया है। जिसे देख किंचल अपनी मां को समझाती हैं।

अनुपमा का सपना हो रहा है पूरा

समर और नंदनी अनुपमा का डांस स्टूडियो खोलने के लिए ले जाते हैं। तीनों मिलकर प्लान कर रहे होते हैं कि कैसे डांस स्टूडियो बनेगा। अनुपमा समर और नंदनी से कहती हैं कि वो अपने डांस स्टूडियो का लोगो कन्नहा जी का मोर पंख रखेंगी। समर और नंदनी अनुपमा संग पूरा प्लान बनाते हैं और तय करते हैं कि कैसे-कैसे चीज़ें होंगी।

राखी दवे ने समझाया किंचल को

राखी दवे किंचल को समझाते हुए कहती हैं कि एक दिन वो अनुपमा जैसी बन जाएंगी और तोषो वनराज की तरह ही उसे छोड़कर चला जाएगा। ये सुनकर किंचल डर जाती है। राखी दवे किंचल को समझाती हैं कि काव्या उन्हें घर के काम में फंसा कर ऑफिस खुद के अंडर कर लेगी। साथ ही राखी दवे किंचल को कहती हैं कि वो अपने लिए ना सही लेकिन बॉ-बाबू जी और अनुपमा के लिए नौकरानी रख लें। इस उम्र में और अनुपमा की इस हालत में वो काम करेंगी। ये भी अच्छा नहीं है। ये सुनकर किंचल सोच में पड़ जाती है।

घर निराश लौटा वनराज

वनराज इंटरव्यू देकर घर लौटता है और उसके मुंह पर उदासी होती है। ये देख बाबू जी वनराज को हिम्मत देते हैं। टेबल पर अनुपमा के बच्चों के कार्ड रखे होते हैं। जिस पर अनुपमा के अच्छी-अच्छी बातें लिखी होती हैं। वनराज ये देखता है तभी अनुपमा चाय लेकर आ जाती है।

 

 

( Pre- अनुपमा,और वनराज की नई जिंदगी की शुरूआत हो चुकी है। जहां अनुपमा लंबे समय बाद स्कूल जाती हैं। वहीं वनराज इंटरव्यू के लिए जाता है। नौकरी के इंटरव्यू में वनराज को निराशा मिलती हैं लेकिन वो अनुपमा के काबिल होने का उदाहरण देता है। वहीं दूसरी ओर घर में नौकरानी ना होने की वजह से किंचल की मां राखी दवे खूब ड्रामा करती हैं।)

 



Loading...

<-- ADVERTISEMENT -->

AutoDesk

Entertainment

Post A Comment:

0 comments: