जब राजेश खन्ना को सबक सिखाने के लिए डायरेक्टर ने कर दी थी एक बच्चे की पिटाई - BackToBollywood

Popular Posts

Blog Archive

Search This Blog

जब राजेश खन्ना को सबक सिखाने के लिए डायरेक्टर ने कर दी थी एक बच्चे की पिटाई


<-- ADVERTISEMENT -->



नई दिल्ली: When the Director teach a lesson to Rajesh Khanna: कभी-कभी किसी न किसी वजह से इंसान गलत हो जाता है और उसे ऐहसास भी नहीं होता कि उसकी गलती की वजह से कितने लोग परेशान हो रहे हैं। ऐसे में आज हम बॉलीवुड के सुपरस्टार रहे राजेश खन्ना (Rajesh Khanna) से जुड़ा एक किस्सा सुना रहे हैं जिसमें उनकी एक गलत आदत की वजह से सभी परेशान रहने लगे थे। ऐसे में डायरेक्टर ने राजेश को सबक सिखाने के लिए एक बच्चे की पिटाई कर दी थी। चलिए आइये जानते पूरी कहानी।

rajesh-khanna4.jpg

60-70 का दौर काका के स्टारडम का दशक था

60-70 के दौर में राजेश खन्ना का स्टारडम शिखर पर था। उन दिनों राजेश खन्ना बैक टू बैक हिट फिल्में देकर तमाम फिल्म प्रोड्यूसर की पहली पसंद बन गए थे। उनके घर के बाहर डायरेक्टर प्रोड्यूसर की लाइन लगी रहती थी। करती थी। लगातार 15 हिट फिल्में देकर राजेश खन्ना स्टारडम के शिखर पर पहुंच गए थे। सच में जो स्टारडम राजेश खन्ना ने देखा वो किसी और को नसीब नहीं हुआ।

rajesh-khanna3.jpg

लेकिन इसके साथ उन दिनों राजेश खन्ना अपनी एक और खास बात के लिए मशहूर हो गए थे और वो थी उनकी लेट-लतीफी। उनकी इस लेट लीतीफी की आदत ने सबको परेशान कर दिया था। इसके बारे में उनकी कई फिल्मों में को-स्टार रहीं जया प्रदा ने बताया था।

rajesh-khanna2.jpg

लेट लतीफी की आदत से परेशान रहते थे सब

जया प्रदा ने एक इंटरव्यू में बताया कि राजेश खन्ना की शूटिंग शिफ्ट अगर सुबह 8 बजे की होती थी, तो वो शाम को 8 बजे आते थे और एक घंटे में निकल जाते थे। तब तक उनके इंतजार में पूरी यूनिट परेशान रहती थी। यहां तक हम जैसे बाकी को-स्टार्स को भी काका की इस आदत की वजह से परेशानी उठानी पड़ती थी।

rajesh-khanna5.jpg

जया ने आगे बताया था कि अब मैं तो साउथ इंडस्ट्री से आई थी और वहां सुबह 7 बजे की शिफ्ट हुआ करती थी, मुंबई में शिफ्ट 9 बजे से शुरू होती थी। उन दिनों मैं एक फिल्म में राजेश की को-स्टार थी, मैं सुबह से मेकअप कर के बैठी रहती थी और वो रात के 8 बजे तक आते थे। इतना लेट आने के बाद भी तुरंत शूटिंग शुरू नहीं होती थी। वो पहले आराम से वड़ा पाव खाते थे फिर एक शॉट देते और उनता पैकअप हो जाता था।

rajesh-khanna1.jpg

इस तरह टायरेक्टर ने सिखाया था सबक

राजेश खन्ना की लेटलतीफी से जुड़ा एक किस्सा साल 1971 में आई फिल्म ‘हाथी मेरे साथी’ के सेट से जुड़ा हुआ है। इस फिल्म के दौरान राजेश खन्ना को सबक सिखाने के लिए डायरेक्टर ने एक बच्चे की पिटाई कर दी थी। दरअसल हुआ यूं कि काका एक्ट्रेस तनूजा के साथ फिल्म हाथी मेरे साथी की शूटिंग कर रहे थे और इस फिल्म के डायरेक्टर थे चिन्नपा देवर।

यह भी पढ़ें: जब अमिताभ बच्चन सिर्फ 2 रुपए की वजह से नहीं खेल पाए थे क्रिकेट, हैरान करने वाला है किस्सा

rajesh-khanna_1.jpg

अपनी लेट लतीफी की आदत के कारण राजेश खन्ना शूटिंग में रोज लेट ही आते थे। उनकी इस लेट लतीफी के कारण पहली बार हिन्दी फिल्म बना रहे चिन्नपा देवर परेशान हो गए थे। तब उन्होंने काका को सबक सिखाने के लिए एक बच्चे की मदद ली और उस बच्चे की राजेश खन्ना के सामने एक पिटाई कर दी थी।



<-- ADVERTISEMENT -->

AutoDesk

Entertainment

Post A Comment:

0 comments: